Monday, September 26, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

पहली दफा पिता बनने पर सिकुड़ जाता है पुरुष का दिमाग, स्टडी में सामने आई ये वजह

अब तक आपने सुना होगा कि बच्चे के जन्म के बाद मां को कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ता है। लेकिन हाल में हुई एक स्टडी में बड़ा दावा किया गया है। स्टडी में बताया गया है कि बच्चे के जन्म के बाद सिर्फ मां के व्यवहार और शरीर पर असर नहीं पड़ता, बल्कि पिता बनने वाले पुरुषों पर भी पड़ता है। इतना ही नहीं पहली बार पिता बन रहे पुरुषों को दिमाग सिकुड़ने की समस्या से जूझना पड़ सकता है।

दिमाग की परतों में बदलाव आता

स्टडी बताती है कि दिमाग के अंदर की परतें सिर्फ मां बनने वाली महिला की नहीं बदलती, बल्कि पहली दफा पिता बनने वाला पुरुषों के न्यूरल सबस्ट्रेट्स यानी आसान भाषा में कहें तो दिमाग की परतों में बदलाव आता है। इससे उनका दिमाग सिकुड़ने लगता है।

अभी पढ़ें ये 5 फल वजन घटाने में करते हैं मदद, मोटापे से मिलेगी राहत, जानें

दिमाग में मौजूद कॉर्टिकल वॉल्यू में आती है कमी

दरअसल, जब भी कोई पहली बार माता-पिता बनना एक बड़ा एडजस्टमेंट करना होता है। नई जिम्मेदारी और किरदार के चलते दिमाग पर इसका सीधा असर होता है, इसके बारे में कहीं कोई चर्चा नहीं होती, लेकिन स्टडी में यह बात सामने आई है कि पहली बार पिता बनने वाले पुरुषों के दिमाग में मौजूद कॉर्टिकल वॉल्यूम (Cortical Volume) में एक या दो फीसदी की कमी आती है।

सेरेब्रल कॉर्टेक्स में प्रकाशित हुई है स्टडी

कॉर्टिकल वॉल्यूम एक तरह का सिकुड़न है, जो दिमाग के डिफॉल्ट मोड नेटवर्क (Default Mode Network) से जुड़ा होता है। जब पुरुष इस बात को एक्सेप्ट करता है कि वह पिता बन चुका है, तो उसका दिमाग सिकुड़ने लगता है। ये स्टडी सेरेब्रल कॉर्टेक्स में प्रकाशित हुई है।

क्या-क्या करता है कॉर्टिकल वॉल्यूम

कॉर्टिकल वॉल्यूम असल में दिमाग की शुद्धता को बढ़ाता है। उसे ज्यादा रिफाइन करता है। इससे बच्चे के साथ उसका मानसिक संबंध बेहतर होता है। बच्चे से उसके रिश्ते में प्रेम पनपता है। वहीं मां बनने वाली महिलाओं के साथ ये थोड़ा सा ज्यादा होता है। यही वजह है कि मां का बच्चे के साथ लगाव, प्रेम और संबंध ज्यादा घना और गहरा होता है।

अभी पढ़ें लिवर को मजबूत बनाते हैं ये 5 फूड्स, आज से ही करें डाइट में शामिल

40 लोगों के दिमाग पर किया गया अध्ययन

आपको बता दें कि ये स्टडी मैग्नेटिक रेसोनेंस इमेजिंग (MRI) डेटा पर आधारित है। जिसमें पहली बार पिता बने 40 लोगों के दिमाग का बच्चे के जन्म से पहले और बाद में विश्लेषण किया गया है, इसमें से 20 स्पेन के हैं और 20 अमेरिका के। इतना ही नहीं इसके अलावा स्पेन में 17 ऐसे लोगों के दिमाग का भी अध्ययन किया गया, जिनके बच्चे नहीं हैं। इन सभी का डेटा एकसाथ जमा करने के बाद दो प्रयोगशालाओं में इनके दिमाग के वॉल्यूम, मोटाई और ढांचागत विकास की स्टडी की गई, जिसके बाद यह बात सामने आई है।

ये बात सभी को पता है कि जब किसी तरह की खुशी का अहसास होता है, तो इसका सीधा असर दिमाग के सबकॉर्टेक्स पर पड़ता है, लेकिन यहां पर ऐसा नहीं है। यहां पिता बनने के बाद पुरुष खुश तो होते हैं, लेकिन वो पोस्टपार्टम डिप्रेशन का शिकार हो रहे होते हैं। उनका दिमाग सिकुड़ रहा होता है, क्योंकि अब उनके पास एक नई जिम्मेदारी होती है।

अभी पढ़ें – हेल्थ से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें 

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -