Saturday, October 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Rajasthan: ज्ञानवापी से जुड़ी पोस्ट करने पर भाजपा नेता को मिली सिर तन से जुदा की धमकी, कहा- 56 टुकड़े कर देंगे

राजस्थान के अलवर में बीजेपी (BJP) की वर्कर और IIT दिल्ली से M.Tech. पासआउट चारुल अग्रवाल के घर लेटर डालकर उदयपुर जैसी वारदात को अंजाम देने की धमकी दी गई है।

अलवर: राजस्थान के अलवर में बीजेपी (BJP) की वर्कर और IIT दिल्ली से M.Tech. पासआउट चारुल अग्रवाल के घर लेटर डालकर उदयपुर जैसी वारदात को अंजाम देने की धमकी दी गई है। वह अलवर के शालीमार आवास योजना एक्सटेंशन में टावर नंबर 3 में रहती हैं। सोमवार सुबह 7.45 बजे बच्चों को स्कूल छोड़ने के लिए फ्लैट के बाहर निकलीं तो खिड़की के पास लेटर मिला। जान से मारने की धमकी देते हुए कहा है कि 25 सितंबर आखिरी तारीख है।

गुस्ताख ए रसूल की एक सजा, सिर तन से जुदा

जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह चारुल के पति जीतेंद्र अग्रवाल ने लिफ्ट के पास खिड़की में फंसे लिफाफे को उठाया। इसमें लेटर था। खोलकर पढ़ा तो होश उड़ गए। चारुल के नाम से धमकी दी गई थी। लिखा था- ज्ञानवापी हमारा है, हमारा ही रहेगा। हमारे मजहब को लेकर पोस्ट लिखोगी तो वही हाल होगा जो उदयपुर में कन्हैयालाल का हुआ था। ध्यान रख- गुस्ताख ए रसूल की एक सजा, सिर तन से जुदा।

56 टुकड़े कर देने की मिली धमकी

चारुल ने बताया- मैं शालीमार में रहती हूं। सुबह पति-बच्चों को स्कूल छोड़ने जा रहे थे। लिफ्ट बिजी थी। इसलिए खिड़की के पास खड़े होकर बात करने लगे। देखा तो वहां एक लिफाफा था। पति ने लिफाफा उठाकर उसमें से लेटर निकाला। यह धमकी भरा पत्र था। इसमें मेरा नाम लेकर लिखा था कि तुम्हारे 56 टुकड़े कर देंगे। उदयपुर जैसी हालत करेंगे। मुझे जान से मारने की धमकी दी। चारुल ने कहा कि उसने ज्ञानवापी को लेकर सामान्य पोस्ट डाला था। घर में दो बच्चे और पति हैं। हमलोग यूपी के मुरादाबाद से हैं। 6 साल से अलवर में रह रहे हैं।

पुलिस सुरक्षा की कर रही मांग

लेटर के मुताबिक, चारुल ने 13 सितम्बर को फेसबुक पर ज्ञानवापी को लेकर पोस्ट डाली थी। इसके बाद मंगलवार 19 सितंबर को उन्हें जान से मारने की धमकी मिली और 25 सितंबर को आखिरी तारीख बताया गया। लेटर पढ़ने के बाद चारुल और जितेंद्र ने 100 नंबर डायल कर पुलिस को सूचना दी।

सदर थाने से एसएचओ अजीत सिंह शालीमार पहुंचे। उन्होंने मौका मुआयना किया और सीसीटीवी फुटेज देखे। चारुल का कहना है कि असुरक्षित महसूस कर रही हूं, पुलिस सुरक्षा मिलनी चाहिए। धमकी मिलने के बाद बीजेपी के स्थानीय नेता भी चारुल के घर पहुंचे और हिम्मत बंधाई।

सदर थाना प्रभारी अजीत सिंह ने बताया कि धमकी देने का मामला है। इसमें 506 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। हमारी टीम बराबर मॉनिटर करेगी। 15 दिन के फुटेज लेकर जांच में लगे हैं। स्कूल, सोसायटी संचालक सहित अन्य जगहों पर अलर्ट भी कर दिया है ताकि सावधानी रहे। परिवार की सुरक्षा की जाएगी।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -