Business

Business

GST: 27 जुलाई से 100 से ज्यादा सामान होंगी सस्ती, यहां देखें पूरा लिस्ट

वित्त मंत्री का कार्यभार संभाल रहे पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक हुई। ये बैठक आम लोगों के साथ-साथ देश की महिलाओं के लिए खुशखबरी लेकर आया।

Business

GST काउंसिल: फ्रिज-टीवी समेत ये चीजें हुईं सस्ती, देखिए पूरी लिस्ट

केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के दौरान काउंसिल ने सैनेटरी नैपकिन को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) के दायरे से बाहर कर दिया है। सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी काउंसिल के फैसले से महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। दरअसल, सैनेटरी नैपकिन अब तक 12 फीसदी के GST स्‍लैब में शामिल है। लेकिन इस फैसले की लंबे समय से आलोचना हो रही थी और कई महिला संगठनों ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जीएसटी की नई दरें 27 जुलाई से लागू होंगी।

Business

जीएसटी काउंसिल की इन राज्यों के व्यापारियों को बड़ी राहत, 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख रुपये की छूट

असम, अरुणाचल प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम जैसे राज्यों में व्यापारियों के लिए छूट की सीमा को 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि काउंसिल ने 46 संशोधन कि हैं जिन्हें संसद में पास कराया जाएगा।

Business

GST काउंसिल: पत्थर और संगमरमर से बनने वाली मूतियों पर नहीं लगेगा जीएसटी

केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के दौरान काउंसिल ने सैनेटरी नैपकिन को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) के दायरे से बाहर कर दिया है। सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी काउंसिल के फैसले से महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। दरअसल, सैनेटरी नैपकिन अब तक 12 फीसदी के GST स्‍लैब में शामिल है। लेकिन इस फैसले की लंबे समय से आलोचना हो रही थी और कई महिला संगठनों ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जीएसटी की नई दरें 27 जुलाई से लागू होंगी।

Business

व्यापारियों को टैक्स भरने में शिकंजा, रिटर्न भरने में राहत

केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के दौरान काउंसिल ने सैनेटरी नैपकिन को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) के दायरे से बाहर कर दिया है। सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी काउंसिल के फैसले से महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। दरअसल, सैनेटरी नैपकिन अब तक 12 फीसदी के GST स्‍लैब में शामिल है। लेकिन इस फैसले की लंबे समय से आलोचना हो रही थी और कई महिला संगठनों ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जीएसटी की नई दरें 27 जुलाई से लागू होंगी।

Business

खतरे में है आपका एटीएम, जांच पड़ताल कर करें इस्तेंमाल कहीं उड़ न जाए पैसा

अगर आप एटीएम से पैसा निकाल रहे हैं तो सावधन रहें। सरकार ने एक बड़े खतरे की ओर इशारा किया है। दरअसल देश के सरकारी बैंकों के 25 फीसदी एटीएम धोखाधड़ी के आसानी से शिकार हो सकते हैं।

Business

इथेनॉल पर घटाया गया GST, पेट्रोल-डीजल होगा सस्ता

केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के दौरान काउंसिल ने सैनेटरी नैपकिन को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) के दायरे से बाहर कर दिया है। सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी काउंसिल के फैसले से महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। दरअसल, सैनेटरी नैपकिन अब तक 12 फीसदी के GST स्‍लैब में शामिल है। लेकिन इस फैसले की लंबे समय से आलोचना हो रही थी और कई महिला संगठनों ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जीएसटी की नई दरें 27 जुलाई से लागू होंगी।

Business

जीएसटी काउंसिल की बैठक: 2 दर्जन से ज्यादा सामानों पर कम हुआ GST, होंगे सस्ते

केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के दौरान काउंसिल ने सैनेटरी नैपकिन को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) के दायरे से बाहर कर दिया है। सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी काउंसिल के फैसले से महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। दरअसल, सैनेटरी नैपकिन अब तक 12 फीसदी के GST स्‍लैब में शामिल है। लेकिन इस फैसले की लंबे समय से आलोचना हो रही थी और कई महिला संगठनों ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जीएसटी की नई दरें 27 जुलाई से लागू होंगी।

Business

7 लाख करोड़ के पार हुई रिलायंस इंडस्ट्रीज

रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर शुक्रवार को अबतक के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया और इसका बाजार पूंजीकरण 7 लाख करोड़ रुपये से पार कर गया। एक सप्ताह में दूसरा मौका है जब बाजार पूंजीकरण इस स्तर पर पहुंचा है।

Business

पिता बेचता था बकरी, बेटे के घर से मिले 163 करोड़ कैश और 10 किलो सोना

इसे किस्मत कहें या भ्रष्‍टाचार, क्योंकि गरीब परिवार में जन्मा एक लड़का इतना अमीर हो जाएगा शायद इस बारे में उसने खुद भी नहीं सोचा था। हम बात कर रहे हैं तमिलनाडु के रहने वाले नागराजन सेय्यादुरई की, जिसके घर पर इनकम

Page 1 of 10