Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

हमास ने 7 अक्टूबर के हमले को बताया जरूरी! क्या कहती है आतंकी संगठन की पहली पब्लिक रिपोर्ट?

Hamas Says 7 October Attack Was Necessary Step: हमास ने पहली बार कोई सार्वजनिक रिपोर्ट जारी की है। इसमें उसने इजराइल पर अपने हमलों को सही ठहराने की कोशिश की है।

Edited By : Gaurav Pandey | Updated: Jan 21, 2024 21:37
Share :
Palestinian Militant In Gaza
Palestinian Militant In Gaza (ANI)

Hamas Says 7 October Attack Was Necessary Step : इजराइल के साथ युद्ध में फंसे हमास ने रविवार को पहली बार इसे लेकर एक सार्वजनिक रिपोर्ट जारी की है। इनमें हमास ने कहा है कि 7 अक्टूबर को इजराइल पर किया गया हमला ‘जरूरी’ कदम था।

16 पन्नों की इस रिपोर्ट में हमास ने अपने उन हमलों को सही ठहराने की कोशिश की है जो उसने गाजा सीमा के जरिए इजराइल में आकर किए थे। रिपोर्ट्स के अनुसार इन हमलों में लगभग 1140 लोगों की मौत हो गई थी। जान गंवाने वालों में अधिकतर सामान्य नागरिक थे।

हालांकि, अंग्रेजी और अरबी भाषा में जारी हुई इस रिपोर्ट में हमास ने यह भी कहा है कि इस हमले में कुछ गलतियां हुईं। हमास के अनुसार ये गलतियां इजराइली सुरक्षा और सैन्य व्यवस्था के ढह जाने और गाजा के सीमावर्ती इलाकों में अफरा-तफरी का माहौल बनने से हुईं।

इजराइल की साजिशों का जवाब दिया

हमास का कहना है कि ये हमले जरूरी थे। फिलिस्तीनी लोगों के खिलाफ इजराइली साजिशों के जवाब में यह एक सामान्य प्रतिक्रिया थी। बता दें कि इस हमले के दौरान हमास ने करीब 250 लोगों को बंधक बना लिया था। इनमें से 27 लोगों की हत्या कर दिए जाने की आशंका है।

गाजा में आक्रामकता बंद करे इजराइल

वहीं, हमास के नियंत्रण वाले स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि इजराइल की ओर से की जा रही लगातार बमबारी ने गाजा में अब तक कम से कम 25,105 लोगों की जान ले ली है। साथ ही हमास ने इजराइल से गाजा में उसके आक्रामक रुख पर तुरंत रोक लगाने के लिए भी कहा है।

अपना फैसला ले सकते हैं फिलिस्तीनी

हमास ने कहा कि हम इस बात पर जोर देते हैं कि फिलिस्तीनी लोगों के पास अपना भविष्य को लेकर फैसला लेने की और अपने अंदरूनी मामले सुलझाने की क्षमता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया की कोई भी पार्टी के पास उनके आधार पर फैसला लेने का अधिकार नहीं है।

ये भी पढ़ें: असम में कांग्रेस नेता जयराम रमेश की कार पर हमला

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी की एंट्री पर असम के तीर्थस्थल की ‘रोक’

ये भी पढ़ें: जहां से शुरू हुआ था रामसेतु, वहां पहुंचे पीएम मोदी

ये भी पढ़ें: बजट से पहले क्यों बांटा जाता है हलवा? वजह व महत्व

First published on: Jan 21, 2024 09:35 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें