Tuesday, December 6, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

नोएडा सांसद महेश शर्मा के करीबी पर भाटी गैंग ने किया था हमला, पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के बाद खोले कई बड़े राज

उत्तराखंड पुलिस को बताया कि हमले की साजिश मंडोली जेल में ही रची गई थी। एक मामले में जेल में बंद हरपाल ने भाटी से मुलाकात की थी।

Noida News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के नोएडा (Noida) में पिछले दिनों सांसद डॉ. महेश शर्मा के सहयोगी पर हुए जानलेवा हमले में पुलिस ने भाटी गैंग के एक सदस्य को परी चौक से गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान अश्विनी उर्फ रिंकू के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि कुख्यात रणदीप भाटी ने मंडोली जेल में इस हमले की योजना बनाई थी। इस मामले को किसी कारोबारी विवाद के जोड़कर देखा जा रहा है।

3 नवंबर को 11 बदमाशों ने किया था हमला

ग्रेटर नोएडा के पुलिस उपायुक्त अभिषेक वर्मा ने बताया कि 3 नवंबर को गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा के करीबी और सहयोगी सिंगा पंडित पर 11 अज्ञात लोगों ने हमला किया था। सिंगा अपनी कार से ग्रेटर नोएडा में कहीं जा रहे थे। हादसे में उन्हें गंभीर चोटें आई थीं, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। पीड़ित पक्ष की तहरीर पर ग्रेटर नोएडा की बीटा-2 पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

उत्तराखंड से गिरफ्तार हुए थे तीन बदमाश

नोएडा पुलिस ने बताया कि इसी रविवार को उत्तराखंड एसटीएफ ने सिंगा पंडित पर हमले के मामले में देहरादून से तीन लोगों को गिरफ्तार किया था। इनकी पहचान हरियाणा के रेवाड़ी निवासी हरपाल, फरीदाबाद निवासी गौरव चंदेल और यूपी के बागपत निवासी गौरव बैंसला के रूप में हुई है। हमले में प्रयुक्त एसयूवी गाड़ी और दो पिस्टल भी बरामद हुई हैं।

मंडोली जेल में बनी योजना, दिए थे पांच लाख रुपये

पूछताछ में इन आरोपियों ने उत्तराखंड पुलिस को बताया कि हमले की साजिश मंडोली जेल में ही रची गई थी। एक मामले में जेल में बंद हरपाल ने भाटी से मुलाकात की थी और सिंगा पंडित पर हमले को अंजाम देने के लिए उससे पांच लाख रुपये लिए। वह जमानत पर बाहर आया और उसने 28 अक्टूबर को हमले की योजना बनाई। हालांकि गिरोह उस दिन हमला नहीं कर सका। इसलिए उन्होंने 3 नवंबर को सिंगा पर हमला किया।

हमले की जड़े बिजनेस पार्टनरशिप से जुड़ी

ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 थाना प्रभारी अनिल कुमार ने बताया कि भाटी के एक रिश्तेदार ने सिंगा पंडित के भाई के साथ पार्टनरशिप में व्यापार किया था। एक साल तक दोनों संपर्क में रहे। इसके बाद किसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया और वे अलग हो गए। सिंगा पर हमले का एक अन्य कारण यह भी बताया गया है कि उन्होंने भाटी के परिवार को लेकर कुछ जातिवादी टिप्पणी की थी।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -