Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

खराब पाचन को दुरुस्त करने के लिए अपनाएं 4 Ayurvedic नुस्खे, जल्द मिलेगी राहत

Ayurvedic Tips For Healthy Digestion: पेट में होने वाली कब्ज से लेकर ब्लोटिंग और एसिडिटी से पाचन पर बुरा असर होता है। खाने-पीने को लेकर की गई लापरवाही के चलते ओवरऑल हेल्थ पर भारी पड़ सकता है।

Edited By : Deepti Sharma | Updated: Dec 28, 2023 14:10
Share :
how to improve digestive fire ayurveda how to improve digestive system ayurvedic medicine patanjali medicine to improve digestive system best ayurvedic digestive tonic improve digestion ayurvedic medicine best ayurvedic medicine to improve digestion how to improve digestion naturally at home how to improve digestive system naturally
Image Credit: Freepik

Ayurvedic Tips For Healthy Digestion: आजकल की जीवनशैली और हमारा गलत खानपान होने पर पाचन से जुड़ी परेशानियां होती हैं। आजमाए हुए और परखे हुए आयुर्वेदिक उपचारों के साथ बेहतर पाचन की यात्रा पर निकलें। आयुर्वेद का इस्तेमाल सदियों से ओवरऑल हेल्थ के लिए किया जाता है। कुछ आयुर्वेदिक घरेलू टिप्स की मदद से आप पाचन की समस्याएं दूर कर सकते हैं। Ayurved and Gut Health Coach Dr. Dimple Jangra ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए खराब पाचन के लिए कुछ उपचार को लेकर जानकारी दी है।

पाचन के लिए आयुर्वेदिक उपाय

त्रिफला (Triphala)

त्रिफला डाइजेस्टिव हेल्थ के लिए सबसे लोकप्रिय समाधानों में से एक है। त्रिफला को एडाप्टोजेन (Adaptogen) माना जाता है और यह पोषण तत्वों भरपूर है। ये आपके पाचन और फास्ट एब्जॉर्ब में मदद करता है। त्रिफला को रात भर भिगोकर रखें और अगले दिन त्रिफला पानी को पिएं।

च्यवनप्राश (Chyawanprash) 

जड़ी-बूटियों, मसालों और वनस्पति के मिश्रण का इस्तेमाल हजारों सालों से इंटेस्टाइन हेल्थ, जीवन शक्ति, पाचन अग्नि और ओवरऑल यूज किया जाता रहा है। सुबह खाली पेट या रात को सोने से एक चम्मच च्यवनप्राश खाना चाहिए।

ये भी पढ़ें- Diabetes समेत कई बीमारियों में कारगर शहद और लहसुन!  

लौंग (Cloves)

डाइजेस्टिव सिस्टम में लौंग शरीर को अनवांटेड पैथोजन और इंफेक्शन से छुटकारा दिलाने में मदद करती है, जो सूजन या खराब पाचन का कारण बन सकते हैं। खाना खाने के बाद 1-2 लौंग चबाएं।

40 साल पुरानी पेट गैस 3 दिन में कैसे होगी खत्म, देखें ये Video-

सौंफ के बीज (Fennel Seeds)

ये शरीर में बहुत ज्यादा गर्मी पैदा किए बिना हमारी पाचन अग्नि को बढ़ाते हैं और खाने के बाद महसूस होने वाली ऐंठन, सूजन और गैस को शांत करने में मदद करते हैं। अगर आप खाने के बाद अपच या अन्य समस्या महसूस करते हैं, तो अपने पेट को आराम देने के लिए भोजन के बाद एक चम्मच सौंफ के बीज चबाने से आपको फायदा मिलेगा।

पाचन की अनेक समस्याओं का कारण समझ लें, जानें इस Video में-

इस बात का ध्यान रखें कि आयुर्वेदिक उपचार पाचन के लिए हर एक व्यक्ति के लिए अलग-अलग हो सकता है। अपनी डाइट में कोई भी नया सप्लीमेंट शामिल करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें, खासकर अगर आप कोई दवा ले रहे हैं या पहले से कोई मेडिकल कंडीशन है।

Disclaimer: इस लेख में बताई गई जानकारी और सुझाव को पाठक अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। News24 की ओर से किसी जानकारी और सूचना को लेकर कोई दावा नहीं किया जा रहा है।

First published on: Dec 28, 2023 02:00 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें