Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

इसलिए सिर्फ रात में ही दिखते हैं भूत-प्रेत, इस तरह आप भी कर सकते हैं उन्हें वश में

Dharma Karma: आपने भूत-प्रेत दिखने की बहुत सी घटनाओं के बारे में सुना होगा। ऐसी अधिकतर घटनाओं के होने का समय भी रात का होता है। क्या आप जानते हैं कि भूत-प्रेत रात को ही क्यों दिखते हैं, दिन में क्यों नहीं दिखाई देते। इस बात को समझने के लिए हमें कुछ चीजों की जानकारी […]

Edited By : Sunil Sharma | Updated: Aug 23, 2023 15:12
Share :
Jyotish tips, dharma karma, tone totne, negative energy, tantra mantra

Dharma Karma: आपने भूत-प्रेत दिखने की बहुत सी घटनाओं के बारे में सुना होगा। ऐसी अधिकतर घटनाओं के होने का समय भी रात का होता है। क्या आप जानते हैं कि भूत-प्रेत रात को ही क्यों दिखते हैं, दिन में क्यों नहीं दिखाई देते। इस बात को समझने के लिए हमें कुछ चीजों की जानकारी होना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें: Jyotish Tips: रसोई में रखी चीनी भी बदल सकती है भाग्य, करना है यह उपाय

पंचमहाभूतों से वरन केवल तीन महाभूतों से बने होते हैं भूत, प्रेत (Dharma Karma)

आचार्य अनुपम जौली के अनुसार भूत, प्रेत, पिशाच आदि नकारात्मक शक्तियां हैं। इनके रहने के लिए प्रेतलोक का निर्माण किया गया है जो पूरी तरह से अंधेरे से भरा हुआ है और तामसिक वासनाओं से युक्त है। यह प्रेतलोक पंचमहाभूतों के बजाय तीन अग्नि, वायु और आकाश से मिलकर बना होता है। पारलौकिक शक्तियां भी इन तीन तत्वों से मिलकर बनी है। जबकि पृथ्वी और यहां पर दिखने वाले समस्त जन-जीवन जल, थल, अग्नि, वायु और आकाश से मिलकर बनी है। भूत-प्रेत आदि योनियों में जल और थल तत्व नहीं होता है, इस वजह से ये हमें नहीं दिखाई देते।

इन्हें देखने के लिए आवश्यक है कि या तो मनुष्य साधना के जरिए उच्चावस्था में पहुंच जाएं ताकि इन्हें देख पाएं। दूसरा तरीका है कि प्रेतों के पास इतनी अधिक वासना शक्ति हो कि वे खुद को प्रकट कर सकें। ऐसा होने के लिए प्रेत का शक्तिशाली होना भी अनिवार्य है। अंधेरे से भरे प्रेतलोक का वासी होने के कारण अंधेरा उनकी शक्ति को बढ़ा देता है। इसलिए वे रात में ज्यादा शक्तिशाली हो कर हमें दिखने लगते हैं।

यदि अमावस्या की रात्रि हो तो उस दिन उनकी शक्तियां सर्वोच्च स्तर पर पहुंच जाती हैं। हालांकि इनमें तब भी इतनी अधिक शक्ति नहीं आती कि ये लंबे समय तक दूसरों को दिखाई दे सकें। इसी कारण ये थोड़ी देर दिखने के बाद ही अदृश्य हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें: Swapna Vichar: सपने में दिखे यह चीज तो पक्का खुल जाएंगे किस्मत के दरवाजे

ऐसे लोगों को नहीं दिखाई देती नकारात्मक शक्तियां

कई लोग बहुत ज्यादा पूजा-पाठ, योग, ध्यान अथवा अन्य प्रकार की साधनाएं करते हैं। उन लोगों में दैवीय कृपा से अत्यधिक प्राण शक्ति तथा आध्यात्मिक बल आ जाता है। उन लोगों के सामने आते ही प्रेतों का बल कमजोर पड़ जाता है, इस वजह से प्रेत ऐसे लोगों के सामने आने से बचते हैं। ऐसे लोग ही अपने आध्यात्मिक बल के दम पर प्रेतों को वश में भी कर सकते हैं। यदि आप भी प्रतिदिन सुंदर कांड का पाठ करते हैं अथवा नर्वाण मंत्र, महामृत्युंजय मंत्र या गायत्री मंत्र का जप करते हैं तो आप भी उन्हें सहज ही परास्त कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष पर आधारित है तथा केवल सूचना के लिए दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी उपाय को करने से पहले संबंधित विषय के एक्सपर्ट से सलाह अवश्य लें।

First published on: Apr 18, 2023 12:37 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें