Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

इंडिया-यूएन ग्लोबल समिट भारत की तारीफ, जयशंकर ने गिनाई चुनौतियां

India UN Global Summit : दिल्ली में आयोजित में जी 20 समिट के तकरीब 13 दिन बाद शनिवार को अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में ‘इंडिया-यूएन फॉर ग्लोबल साउथ: डिलीवरिंग फॉर डेवलपमेंट’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के अध्यक्ष डेनिस फ्रांसिस, भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर समेत कई नामचीन हस्तियों […]

Edited By : Pankaj Mishra | Updated: Sep 24, 2023 15:03
Share :
Dennis Francis S Jaishankar

India UN Global Summit : दिल्ली में आयोजित में जी 20 समिट के तकरीब 13 दिन बाद शनिवार को अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में ‘इंडिया-यूएन फॉर ग्लोबल साउथ: डिलीवरिंग फॉर डेवलपमेंट’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के अध्यक्ष डेनिस फ्रांसिस, भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर समेत कई नामचीन हस्तियों ने हिस्सा लिया।

इस कार्यक्रम में मौजूद तमाम दिग्गजों ने जी 20 समिट के सफलता पूर्ण आयोजन के लिए भारत की जमकर तारीफ की। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष डेनिस फ्रांसिस ने जी-20 शानदार तरीके से अध्यक्षता करने के लिए भारत की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि जी 20 समूह में अफ्रीकी संघ को स्थायी सदस्य बनाने के कारण जी-20 की भारत की अध्यक्षता ऐतिहासिक हो गई।

फ्रांसिस ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आगे कहा कि भारत ने अफ्रीकी संघ को जी-20 समूह में स्थायी सदस्य के रूप में शामिल करने के लिए जो पहल की, वो ग्लोबल साउथ में सहयोग और एकजुटता के मजबूती का भी प्रतीक है। संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष ने कहा कि बेहतर और अधिक टिकाऊ दुनिया के वैश्विक मिशन में भारत अद्वितीय भूमिका निभा रहा है।

वहीं कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि पूर्व-पश्चिम ध्रुवीकरण और उत्तर-दक्षिण विभाजन के कारण जी-20 की अध्यक्षता एक चुनौतीपूर्ण कार्य था। वहीं भारत इस बात के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध था कि जी-20 अपने मूल एजेडे पर वापस आ सके। उन्होंने कहा कि जी-20 के अध्यक्षता दौरान भारत का मुख्य एजेंडा वैश्विक विकास और प्रगति था।

साथ ही एस जयशंकर ने कहा कि ग्लोबल साउथ समिट की आवाज के साथ भारत ने अपनी जी-20 अध्यक्षता की शुरुआत की। उन्होंने आगे कहा कि इस वक्त दुनिया में जहां पूर्व-पश्चिम ध्रुवीकरण चल रहा है, वहीं उत्तर-दक्षिण देशों के बीच भी विभाजन की रेखा खींची हुई है। ऐसे में जी 20 समिट के दौरान सभी देशों को साथ लाकर, एक एजेंडा बनाना करना आसान काम और बात नहीं था।

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से की मन की बात, जानें 10 बड़ी बातें

और पढ़िए – देश-दुनिया से जुड़ी खबरें यहां पढ़ें

First published on: Sep 24, 2023 02:40 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें