Sunday, December 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Meerut News: नोएडा पुलिस को मेरठ में दबिश देना पड़ा भारी, पथराव के बाद लगानी पड़ी दौड़

मेरठ के सरधना इलाके में एक पशु चोर को पकड़ने पहुंची गौतमबुद्ध नगर पुलिस पर हमला हुआ। ग्रामीणों ने पथराव करके पुलिस की गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए।

Meerut News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ (Meerut) जिले में दबिश देना गौतमबुद्ध नगर पुलिस (Gautam Budh Nagar Police) को भारी पड़ गया। यहां पुलिस ने दबिश (Raid) के दौरान एक युवक को हिरासत में लिया, तो गांव वाले भड़क गए। उन्होंने पुलिस का घेराव कर दिया। खुद को घिरता देख पुलिस वाले गाड़ियों में बैठकर भागने लगे, जिस पर गांव वालों ने गाड़ियों पर पथराव कर दिया। बताया जा रहा है कि पुलिस यहां एक डेयरी में लगे सीसीटीवी की डीवीआर ले गई है।

अभी पढ़ें  Lucknow News: पूर्व एयर चीफ मार्शल भदौरिया यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के मुख्य नोडल अधिकारी नियुक्त

पशु चोर को पकड़ने के लिए गई थी पुलिस

मामला मेरठ जिले के सरधना इलाके का है। गौतमबुद्ध नगर पुलिस यहां के खुर्वा गांव में पशु चोरी के एक मामले में दबिश देने के लिए गई थी। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने गांव में पहुंचते ही एक युवक को हिरासत में लिया। एक डेयरी में लगे सीसीटीवी की डीवीआर भी निकाल ली। आरोप है कि इसी दौरान गांव वाले इकट्ठा हो गए। सामने आया है कि गांव में पहुंचे पुलिस वाले अधिकांश सादा वर्दी में थे, जबकि कुछ पुलिस की वर्दी में थे।

पुलिस ने गांव वालों पर बरसाई लाठियां तो भड़क गए

गांव वाले युवक और सीसीटीवी डीवीआर को साथ ले जाने का विरोध करने लगे। इस पर पुलिस ने उन पर लाठियां बरसाना शुरू कर दिया। बस इसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा भड़क गया। उन्होंने पुलिस वालों के साथ हाथापाई शुरू कर दी। खुद को घिरता देख पुलिस वालों के भी पांव उखड़ गए। उन्होंने अपनी गाड़ियों में बैठकर भागना शुरू कर दिया। आरोप है कि इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ियों पर पथराव कर दिया। इसमें पुलिस की गाड़ियों के शीशे टूट गए।

अभी पढ़ें Shrikant Tyagi Case: 48 घंटे का अल्टीमेटम खत्म, ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में प्रदर्शन कर रहे 76 लोगों पर गंभीर मुकदमे दर्ज

मेरठ पुलिस को मामले की जानकारी नहीं

बताया जा रहा है कि पुलिस आरोपी युवक और सीसीटीवी डीवीआर को अपने साथ ले गई, लेकिन पुलिस ने सरधना गंगनहर के पास युवक को छोड़ दिया। जबकि सीसीटीवी की डीवीआर अपने साथ ले गई। वहीं मेरठ पुलिस का कहना है कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। किसी भी जिले की पुलिस ने अपने आने की सूचना (आमद) नहीं दी है। वहीं ग्रामीणों ने संबंधित थाना पुलिस से मामले की शिकायत की है, इस पर पुलिस जांच के बाद आगे की कार्रवाई का आश्वासन दिया है। ग्रामीणों ने बताया कि दो दिन पहले भी पुलिस गांव में आई थी।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें  

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -