Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

अब एक किताब खोलेगी Sidhu Moosewala के कत्ल के राज; जानें किस राइटर ने लिखी सिंगर बॉयोग्राफी ‘Who is Moosewala’

Sidhu Moosewala Book Launched, चंडीगढ़: पंजाबी सिंगर शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला की हत्या को एक साल से भी ज्यादा वक्त बीत चुका है। बहुत से हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं। विदेश से हथियार आने का भी खुलासा हो चुका है, लेकिन बहुत से राज अभी भी अनसुलझे हैं। अब इन […]

Edited By : Balraj Singh | Updated: Sep 4, 2023 14:47
Share :

Sidhu Moosewala Book Launched, चंडीगढ़: पंजाबी सिंगर शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला की हत्या को एक साल से भी ज्यादा वक्त बीत चुका है। बहुत से हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं। विदेश से हथियार आने का भी खुलासा हो चुका है, लेकिन बहुत से राज अभी भी अनसुलझे हैं। अब इन रहस्यों को एक किताब खोलेगी। इस किताब का नाम है, ‘Who is Moosewala’।

  • खालसा फतेहनामा ने किया लेखक सुरजीत सिंह जर्मनी द्वारा लिखी गई पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की जिंदगी पर लिखी किताब को प्रकाशित
  • मरहूम कलाकार सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता समेत पूरे परिवार की मौजूदगी में चंडीगढ़ में किया गया किताब का विमोचन

दरअसल, लेखक सुरजीत सिंह जर्मनी ने पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की जिंदगी पर ‘हू इज मूसेवाला (Who is Moosewala)’ शीर्षक से एक किताब लिखी है। पंजाबी भाषा (गुरुमुखी लिपि) में लिखी गई इस किताब को खालसा फतेहनामा ने प्रकाशित किया है। सोमवार को इसे गायक शुभदीप सिंह के माता-पिता समेत पूरे परिवार की मौजूदगी में रिलीज किया गया है। किताब को लोकार्पित करने से पहले श्री सुखमणि साहिब का पाठ और शब्द कीर्तन भी हुआ। लोकार्पण के मौके पर दावा किया गया है कि यह किताब पंजाब को समर्थन देने वाले पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की पर्सनैलिटी को समझने और उनके कत्ल गहरे राज जानने में आम लोगों की मदद करेगी।

यह भी पढ़ें: सिद्धू मूसेवाला का जबरा फैन; High Court के वकील ने एक बोल पर नहर में फेंक दी 17 लाख की Mahindra Thar

बुक रिलीज के मौके पर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता ने लेखक सुरजीत सिंह जर्मनी की सराहना करते हुए कहा कि उनके बेटे को पूरा देश ही नहीं, देश के बाहर के लोग भी जानते हैं, लेकिन उसके असली रूप को और ज्यादा गहराई से समझ पाने में किताब बेहद मददगार साबित होगी। इस किताब में सिद्धू मूसेवाला की कहानी के बहुत से पहलू ऐसे भी हैं, जिन्हें सरकार अपने लिए खतरा मान रही है। जब सिद्धू मूसेवाला ने नशा तस्करों, रंगदारों और पूंजीपतियों के खिलाफ आवाज उठानी शुरू की तो उनकी सोची-समझी साजिश के तहत जान ले ली गई।

पढ़ें पंजाब से और महत्वपूर्ण खबरें

माता रानी के मंदिर में टिप्पणी कर बुरा फंसे पंजाबी सिंगर मास्टर सलीम, अब मांगनी पड़ी माफी

पुलिस की ज्यादती ने ली दो भाइयों की जान; एक ने बेइज्जती के मारे तो दूसरे ने बचाने के लिए लगाई थी नहर में छलांग

पूरा परिवार रहा शामिल

उधर, लेखक सुरजीत सिंह जर्मनी की मानें तो सिद्धू मूसेवाला के जीवन को समझने के मामले में यह किताब पूरा न्याय करेगी। इसमें बताने की पूरी कोशिश की गई है कि कैसे कनाडा छोड़कर गुरुओ-पीरों की धरती पंजाब को चुना और अपने साथ ‘सन ऑफ द ड्यून्स’ का टैग लगवाकर उस पर गर्व किया।

First published on: Sep 04, 2023 02:33 PM
संबंधित खबरें