Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

पुलिस की ज्यादती ने ली दो भाइयों की जान; एक ने बेइज्जती के मारे तो दूसरे ने बचाने के लिए लगाई थी नहर में छलांग

Punjab Two Brothers Committed Suicide, कपूरथला: पंजाब के कपूरथला पुलिस पर दो भाइयों को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के खिलाफ ये मामला हादसे के 2 हफ्ते बाद दर्ज किया गया। दरअसल, कपूरथला के ब्यास के नदी में 17 अगस्त को दो भाईयों ने कूदकर अपनी जान दे दी […]

Edited By : Pooja Mishra | Updated: Sep 4, 2023 13:38
Share :

Punjab Two Brothers Committed Suicide, कपूरथला: पंजाब के कपूरथला पुलिस पर दो भाइयों को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के खिलाफ ये मामला हादसे के 2 हफ्ते बाद दर्ज किया गया। दरअसल, कपूरथला के ब्यास के नदी में 17 अगस्त को दो भाईयों ने कूदकर अपनी जान दे दी थी। जिसमें से अभी सिर्फ एक भाई का शव बरामद हुआ। शनिवार को जशनबीर सिंह का शव सुल्तानपुर लोधी इलाके में ब्यास नदी के किनारे खेतों से बरामद किया गया। वहीं, अभी तक दूसरे भाई के शव का पता नहीं चल सका है।

  • बहन के ससुराल के विवाद को लेकर थाने में गए युवक के साथ पुलिस द्वारा दुव्यवहार का आरोप, इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिस वालों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज

जानकारी के अनुसार, आत्महत्या करने वाले भाइयों की पहचान मानवजीत सिंह ढिल्लों (40) और जशनबीर सिंह ढिल्लों (36) के रूप में हुई है। ये दोनों भाई पंजाब में एक स्कूल और एक अस्पताल चलाते थे। मृतक के पिता ने कहा कि जब तक उनके दूसरे बेटे का शव नहीं मिल जाता, तब तक वह शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

आरोपी पुलिसकर्मियों की पहचान SHO नवदीप सिंह, एक महिला कांस्टेबल और ASI बलवीर कुमार के रूप में हुई है, जो जिले जालंधर में तैनात हैं। एफआईआर एक भाई के दोस्त और एक प्रत्यक्षदर्शी मानवदीप सिंह की शिकायत के आधार पर दर्ज की गई थी।

यह घटना तब हुई जब मानवजीत सिंह कुछ लोगों के साथ अपने एक दोस्त की बहन के वैवाहिक विवाद को सुलझाने के लिए जालंधर के एक पुलिस स्टेशन गया था। दोस्त की बहन के ससुराल वालों ने कथित तौर पर उसके और मानवजीत सिंह के साथ दुर्व्यवहार किया। वहीं, पुलिस भी महिला के पति के परिवार का पक्ष ले रही थी।

यह भी पढ़ें: सिद्धू मूसेवाला का जबरा फैन; High Court के वकील ने एक बोल पर नहर में फेंक दी 17 लाख की Mahindra Thar

जानकारी के अनुसार, 16 अगस्त को SHO ने मानवजीत सिंह को थाने में बुलाया, जहां दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया। इस दौरान विवाद बढ़ गया और कथित तौर पर SHO ने मानवजीत सिंह को थप्पड़ मारा, जिससे उनकी पगड़ी गिर गई, इसके बाद SHO ने मानवजीत सिंह की काफी पिटाई भी की और रातभर हिरासत में रखा। हालांकि, सुरक्षा बांड प्रस्तुत करने के बाद पुलिस ने मानवजीत को जमानत पर रिहा कर दिया।

बताया जा रहा कि मानवजीत के छोटे भाई जशनबीर सिंह ने इस घटना को दिल पर ले लिया। अगली शाम को मानवजीत को जमानत मिलने और घर लौटने के बाद, जशनबीर किसी को बताए बिना चला गया। मानवजीत ने जशनबीर को फोन किया। फोन पर जशनबीर ने कहा कि मानवजीत को SHO द्वारा अपमानित किया गया था। वह इस घटना सह नहीं पा रहा है, और इसलिए वह नदी में कूदने जा रहा है।

शिकायतकर्ता ने बताया कि जशनबीर सिंह को मनाने के लिए वह और मानवजीत सिंह दोनों गोइंदवाल साहिब पुल पर पहुंचे। लाख कोशिशों के बाद भी जशनबीर सिंह ने नदी में छलांग लगा दी और अपने भाई को बचाने कोशिश में मानवजीत सिंह ने भी नदी में छलांग लगा दी। नदी की धारा काफी तेज थी। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और तलाशी शुरू की। नदी की धारा तेज होने की वजह से गोताखोरों को उनका पता लगाने में संघर्ष करना पड़ा।

वहीं, आरोपी SHO ने दावा किया कि मानवजीत सिंह ने एक महिला पुलिसकर्मी के साथ दुर्व्यवहार किया था, इसलिए उन्होंने सीआरपीसी की धारा 107/151 के तहत एहतियात के तौर पर मानवजीत सिंह को हिरासत में रखा था। एसएसपी कपूरथला राजपाल सिंह संधू ने कहा कि आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 , 506 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

First published on: Sep 04, 2023 12:58 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें