Thursday, December 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

NIA Raids: राजस्थान के कई जिलों में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गों पर NIA की रेड, अवैध हथियारों की सप्लाई का आरोप!

भरतपुर: राजस्थान में एनआईए (NIA) ने मंगलवार सुबह पांच बजे से गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके गुर्गों के ठिकानों पर एक साथ छापे मारे। बता दें, सिद्दू मूसेवाला हत्याकांड के तार राजस्थान से भी जुड़े पाए गए थे। हत्याकांड में शार्प शूटर और गाड़ी राजस्थान के गैंगस्टर की ओर से ही उपलब्ध करवाई गई थी। उल्लेखनीय है कि मिले इनपुट के आधार पर जांच एजैंसी ने राजस्थान में अलवर, झुंझुनू, सीकर, चूरू में एनआईए की रेड डाली है।

सूत्रों के अनुसार एनआईए लॉरेंस गैंग के गुर्गों और सपोर्ट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। राजस्थान में गैंगस्टर्स के ठिकानों पर और राजस्थान में फरारी काट रहे अन्य राज्यों के गैंगस्टर पर भी करवाई और छापेमार कार्रवाई की गई। राजस्थान में लॉरेंस की मदद करने वाले लोग एजेंसी के रडार पर हैं। इसमें कुछ बड़े बिजनेसमैन और लोकल बदमाश भी शामिल हैं। राजस्थान में अलवर, झुंझुनू, सीकर, चूरू में एनआईए की रेड चल रही है। बताया जा रहा है ही सिद्ध मूसा वाले हत्याकांड को लेकर एनआईए इनको टार्गेट पर लिया है।

अभी पढ़ें छिंदवाड़ा के पांढुर्णा में पेड़ से लटका मिला युवक का शव, एक हफ्ते में 7वीं हत्या से दहशत का माहौल

बता दें कि राजस्थान में भरतपुर जिले के मेवात इलाके में मंगलवार को NIA की टीम ने कई गांव में दबिश दी। NIA की टीम के साथ स्थानीय पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि NIA की टीम अवैध हथियार बनाने वालों बदमाशों की तलाश कर रही है। मेवात इलाके में बड़े पैमाने पर अवैध हथियारों की फैक्ट्रियां हैं जहां से हथियार बनाकर बड़े-बड़े गैंगस्टर को सप्लाई किए जाते हैं।

वहीं यह भी माना जा रहा है कि मेवात इलाके के हथियार तस्कर लॉरेंस विश्नोई की गैंग को हथियार सप्लाई करते हैं। मेवात इलाके में ठगी के अलावा बड़े पैमाने पर अवैध हथियारों का व्यापार होता है। मेवात के पहाड़ों में बदमाशों ने टैंट लगाकर छोटी-छोटी फैक्ट्रियां बनाई हुई हैं। जहां वह हथियार बनाते हैं और बड़े-बड़े गैंगस्टर को सप्लाई करते हैं।

अभी पढ़ें Gujarat Accident News: गुजरात में बस और ट्रक की जोरदार टक्कर; छह यात्रियों की मौत, 13 अन्य घायल

बताया जा रहा है कि, मेवात इलाके में बनने वाले हथियार लॉरेंस गैंग को भी सप्लाई किए जाते थे। लॉरेंस काफी समय सेवर जेल में भी रहा इसलिए उसके संपर्क में यहां के कुछ बदमाश भी आ गए, जो बड़े पैमाने पर अवैध हथियारों का व्यापार करते थे। अवैध हथियार बनाकर उनकी तस्करी करने वाले बदमाशों को पकड़ने के लिए NIA की टीम हरियाणा बॉर्डर से सटे गांवों में दबिश दे रही है। हालांकि अभी तक NIA की टीम के अधिकारी कुछ भी बताने को तैयार नहीं हैं।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -