Gujarat Election 2022: मनीष सिसोदिया बोले- अगर हम चुनाव जीते तो 8 शहरों में हर 4KM पर बनाएंगे स्कूल

Gujarat Election 2022: मनीष सिसोदिया ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि गुजरात के लोग अपने बच्चों के लिए स्कूल बनवाने के लिए प्रतिबद्ध हैं और स्कूल बनाने वाली पार्टी का चुनाव करेंगे।

Gujarat Election 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को यहां पहुंचे मनीष सिसोदिया ने फिर एक गारंटी का ऐलान किया। उन्होंने गुजरात के आठ शहरों में हर चार किलोमीटर पर आलिशान स्कूल बनाने का वादा किया। सिसोदिया ने कहा कि गुजरात में सरकारी स्कूलों की उन्होंने प्रॉपर मैपिंग के बाद ये योजना बनाई है।

बता दें कि मनीष सिसोदिया से सोमवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने दिल्ली आबकारी नीति घोटाला मामले में नौ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की। एक दिन बाद गुजरात पहुंचे सिसोदिया ने सीबीआई की पूछताछ को लेकर कहा कि वे जेल जाने के लिए भी तैयार हैं, लेकिन स्कूलों का निर्माण होगा।

अभी पढ़ें पीएम मोदी आज गांधीनगर में डिफेंस एक्सपो का करेंगे उद्घाटन, राज्य को भी देंगे सौगात 15 हजार करोड़ से ज्यादा की परियोजनाओं की रखेंगे आधारशिला

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि गुजरात के लोग अपने बच्चों के लिए स्कूल बनवाने के लिए प्रतिबद्ध हैं और स्कूल बनाने वाली पार्टी का चुनाव करेंगे। सिसोदिया ने दावा किया कि आम आदमी पार्टी की टीम की ओर से किए गए स्कूलों की मैपिंग के अनुसार, गुजरात के 48,000 सरकारी स्कूलों में से 32,000 खराब स्थिति में थे।

इन आठ शहरों में आलिशान स्कूल बनाने का दावा

सिसोदिया ने कहा कि अगर आम आदमी पार्टी सत्ता में आती है तो हमारी सरकार आठ शहरों अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, जामनगर, राजकोट, भावनगर, गांधीनगर और जूनागढ़ में हर चार किलोमीटर पर एक-एक आलिशान सरकारी स्कूल बनाएगी, जो इन आठ शहरों के निजी स्कूलों से भी बेहतर होगा।

- विज्ञापन -

उन्होंने कहा कि आप ने गुजरात में निजी और सरकारी स्कूलों की मैपिंग की और उनकी स्थिति में सुधार के लिए योजना बनाई है। उन्होंने दावा किया, ‘हमने गुजरात के बजट का भी अध्ययन किया है। हम लोगों को बताना चाहते हैं कि भाजपा के 27 साल के शासन में स्कूलों पर कोई काम नहीं हुआ है।’

अभी पढ़ें IRCTC Scam: बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को मिली राहत, जमानत रद्द करने की याचिका खारिज

सिसोदिया बोले- एक करोड़ छात्रों का भविष्य खराब दिख रहा है

सिसोदिया ने कहा कि हमने देखा है कि 44 लाख छात्र निजी स्कूलों में जाते हैं और इन सभी छात्रों के माता-पिता संस्थानों के बारे में शिकायत करते हैं। उन्हें (स्कूलों) अपनी मर्जी से फीस बढ़ाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अन्य 53 लाख छात्र सरकारी स्कूलों में जाते हैं। गुजरात में एक करोड़ छात्रों का भविष्य खराब दिख रहा है। सिसोदिया ने ये भी दावा किया कि राज्य के 18,000 स्कूलों में कक्षाएं नहीं हैं।

दिल्ली के डिप्टी सीएम ने कहा कि वर्तमान गुजरात सरकार का बजट शिक्षा को प्राथमिकता नहीं देता है। कोई शिक्षक नहीं हैं, विद्या सहायक (शिक्षण सहायक) की नियुक्ति नहीं की गई है और शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) आयोजित नहीं की गई है। सिसोदिया ने कहा कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से दी गई गारंटी के अनुसार इन सभी रिक्तियों को गुजरात में आप की सरकार बनने के एक साल के भीतर भर दिया जाएगा।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version