Sunday, November 27, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

डेटिंग ऐप पर हुई थी श्रद्धा से मुलाकात, लिव इन पार्टनर के हत्यारोपी आफताब ने किए सनसनीखेज खुलासे

Shraddha Murder Case: श्रद्धा के पिता ने 8 नवंबर को दिल्ली के महरौली पुलिस स्टेशन में अपनी बेटी के लापता होने की प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद जांच शुरू की थी।

Shraddha Murder Case: दिल्ली मर्डर केस में आरोपी अफताब ने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। लिव-इन पार्टनर श्रद्धा की हत्या करने वाले आफताब अमीन पूनावाला ने पुलिस को बताया कि 2019 में एक डेटिंग ऐप के जरिए उसकी मुलाकात श्रद्धा से हुई थी। आफताब ने बताया कि 2019 से ही वह श्रद्धा के साथ लिव इन रिलेशन में रहने लगा।

बता दें कि आरोपी आफताब ने अपनी लिव इन पार्टनर की गला घोंटकर हत्या कर दी थी और फिर शव के 35 टुकड़े कर दिए थे। इसके बाद उसने शव के टुकड़ों को ठिकाने भी लगा दिया था। वारदात के छह महीने बाद पुलिस ने आफताब पूनावाला को सोमवार को दिल्ली के छतरपुर में उनके साझा फ्लैट से गिरफ्तार किया।

अभी पढ़ें –  Live-In का खौफनाक अंत… प्रेमी ने पार्टनर के किए 35 टुकड़े, फिर 18 दिन तक पूरे दिल्ली में लगाता रहा ठिकाने

आफताब ने पुलिस से क्या बताया?

पूछताछ के दौरान, आफताब ने पुलिस को बताया कि उसके और श्रद्धा के रिश्ते खराब थे और अक्सर झगड़े होते रहते थे। उन्होंने कहा कि श्रद्धा उन पर शादी करने का दबाव बना रही थीं और वे अक्सर इसे लेकर झगड़ते थे।

18 मई को कहासुनी के बाद आफताब ने अपने साथी का गला दबा दिया। फिर उसने एक धारदार हथियार से उसके शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर दिए और कटे हुए हिस्सों को स्टोर करने के लिए एक फ्रिज खरीद लिया। अगले 16 दिनों में, वह रात के अंधेरे में निकल जाता और दिल्ली के आसपास विभिन्न स्थानों पर टुकड़ों को ठिकाने लगा देता था।

8 नवंबर को श्रद्धा के पिता ने दर्ज कराई थी शिकायत

श्रद्धा के पिता ने 8 नवंबर को दिल्ली के महरौली पुलिस स्टेशन में अपनी बेटी के लापता होने की प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद जांच शुरू की थी। उन्होंने पुलिस को बताया था कि श्रद्धा के दोस्त ने 14 सितंबर को उनके बेटे से संपर्क किया और कहा कि वह दो महीने से अधिक समय से श्रद्धा के संपर्क में नहीं है। श्रद्धा का फोन स्विच ऑफ है।

अभी पढ़ें 300 लीटर वाले फ्रिज में रखे थे शव के 35 टुकड़े, प्यार, मोहब्बत, धोखा… ऐसे खत्म हुई श्रद्धा की अधूरी कहानी

आरोपी ने शातिरों की तरह वारदात को दिया अंजाम

श्रद्धा का गला घोंटने और उसके शरीर को काटने के बाद, आफताब ने 300 लीटर का एक रेफ्रिजरेटर खरीदा, जिसे उसने 16 दिनों में दिल्ली के जंगल में फेंक दिया था। जिस कमरे में आफताब ने वारदात को अंजाम दिया, उस कमरे में उसने खून के धब्बों को साफ करने के लिए केमिकल का यूज किया। पुलिस ने जब फ्रिज बरामद किया तो उसमें खून का एक छींटा तक नहीं था।

अभी पढ़ें – देश से जुड़ीखबरेंयहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -