Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

Chhattishgarh News: पूर्व कांग्रेसी नेता ने विधायक विक्रम मंडावी पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप, बोले- ‘पार्टी की छवि हो रही धूमिल’

बीजापुर से पी.रंजन दास की रिपोर्टः युवा आयोग के पूर्व सदस्य एवं पूर्व कांग्रेसी नेता अजय सिंह ने मंगलवार को पत्रकार वार्ता में कांग्रेस विधायक विक्रम मण्डावी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि बीजापुर में खेल मैदान के लिए दुगुने दामों में हाईमास्ट लाइट की खरीद की गई। पूर्व कांग्रेसी नेता ने विधायक पर […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Apr 12, 2023 12:38
Share :
Chhattishgarh News

बीजापुर से पी.रंजन दास की रिपोर्टः युवा आयोग के पूर्व सदस्य एवं पूर्व कांग्रेसी नेता अजय सिंह ने मंगलवार को पत्रकार वार्ता में कांग्रेस विधायक विक्रम मण्डावी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि बीजापुर में खेल मैदान के लिए दुगुने दामों में हाईमास्ट लाइट की खरीद की गई।

पूर्व कांग्रेसी नेता ने विधायक पर आरोप लगाते हुए कहा कि भैरमगढ़ नगर पंचायत अंतर्गत मिनी स्टेडियम में हाईमास्ट लाइट के लिए डीएमएफ से लगभग 62 लाख की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त हुई थी। लेकिन हाईमास्ट की खरीदी में छत्तीसगढ़ भंडार क्रय नियम का रत्ती भर पालन नही किया गया।

और पढ़िए – बेमेतरा हिंसाः सीएम बघेल का बड़ा ऐलान, हिंसा में मारे गए युवक के परिजनों को मिलेगा 10 लाख का मुआवजा

नियमतः खरीदी हेतु कई फर्मो से कोटेशन मंगवाए जाने थे, यहां ऐसा नही हुआ। वहीं, नगर पंचायत क्षेत्र होने के बावजूद कार्य एजेंसी नगर पंचायत को ना बनाते हुए जनपद भैरमगढ़ को बनाया गया।

दुगुने दामों में खरीदी गई हाईमास्ट लाइटें

तमाम नियमो को ताक पर रखने के अलावा प्रत्येक हाईमास्ट लाइट की खरीदी भी दुगुने दर पर की गई। करीब साढ़े पन्द्रह लाख रुपये की दर से एक-एक हाईमास्ट खरीदे गए, जबकि इनकी कीमत अमूमन साढ़े 6 लाख रुपये के करीब है। अजय ने विधायक विक्रम को खुली चुनौती देते कहा कि अगर उनके आरोपों को विधायक झूठा साबित कर देते हैं तो वे उनसे सार्वजनिक माफी मांगने को तैयार है।

और पढ़िए – Chhattisgarh: बाढ़ में फंसी गर्भवती ने दिया बच्चे का जन्म, देवदूत बन पहुंची SDRF टीम

कांग्रेस की छवि हो रही धूमिल

पूर्व कांग्रेसी नेता ने आगे कहा कि इस संबंध में जब उनकी फोन पर भैरमगढ़ जनपद सीईओ से चर्चा हुई तो उन्होंने अनभिज्ञता जाहिर की। लेकिन आदेश प्रति का जिक्र होते ही सीईओ भी चौंक गए। अजय ने कहा कि जिले में खेल सुविधाओं के विकास का वे भी स्वागत करते हैं लेकिन इस आड़ में लाखों रुपए का भ्रष्टाचार को वे कतई बर्दाश्त नहीं कर सकते।

उन्होंने आरोप लगाया कि विधायक के भ्रष्टाचार, कमीशनखोरी के चलते कांग्रेस की छवि धूमिल हो रही है, इसका खामियाजा पार्टी को कुछ माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में भुगतान पड़ेगा।

और पढ़िए – प्रदेश से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

First published on: Apr 11, 2023 04:44 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें