Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

West Bengal cattle smuggling case: टीएमसी नेता अनुब्रत मंडल पहुंचे दिल्ली हाई कोर्ट

West Bengal cattle smuggling case: टीएमसी नेता अनुब्रत मंडल ने मवेशी तस्करी मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट द्वारा जारी पेशी वारंट जारी को चुनौती देते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। दरअसल, ट्रायल कोर्ट के न्यायाधीश ने सोमवार को इस संबंध में ईडी की याचिका को स्वीकार करते हुए अनुब्रत के लिए […]

Edited By : Amit Kasana | Updated: Dec 23, 2022 18:28
Share :
Anubrata Mondal

West Bengal cattle smuggling case: टीएमसी नेता अनुब्रत मंडल ने मवेशी तस्करी मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट द्वारा जारी पेशी वारंट जारी को चुनौती देते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। दरअसल, ट्रायल कोर्ट के न्यायाधीश ने सोमवार को इस संबंध में ईडी की याचिका को स्वीकार करते हुए अनुब्रत के लिए पेशी वारंट जारी किया है।

और पढ़िएमहाराष्ट्र ग्रामपंचायत चुनाव भाजपा पहले नंबर पर एकनाथ शिंदे गुट ने भी दिखाया कमाल

जानकारी के मुताबिक विशेष न्यायाधीश रघुबीर सिंह ने सोमवार को आदेश पारित किया और कहा कि हम ईडी की याचिका स्वीकार कर रहे हैं और पेशी वारंट जारी कर रहे हैं। बता दें अनुब्रत फिलहाल सीबीआई के एक मामले के सिलसिले में आसनसोल जेल में बंद है। बीरभूम जिले के तृणमूल कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष अनुब्रत मंडल को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का करीबी सहयोगी बताया जाता है और उन्हें इसी मामले में सीबीआई ने 11 जुलाई को गिरफ्तार किया था।

हाल ही में ईडी ने उन्हें आसनसोल जेल के अंदर पांच घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद कथित बहु-करोड़ के मवेशी तस्करी घोटाले में गिरफ्तार किया है, जहां वह वर्तमान में बंद हैं। इससे पहले मामले में, अदालत ने पहले उल्लेख किया था कि ईडी का यह मामला अनुसूचित अपराध (सीबीआई मामले) पर आधारित है, जिसकी कार्यवाही आसनसोल, पश्चिम बंगाल में सीबीआई अदालत में चल रही है और कुछ अभियुक्त न्यायिक हिरासत में हैं।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Dec 20, 2022 10:42 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें