Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

संसद में सेंध के मास्टरमाइंड की तस्वीरों ने शुरू की BJP vs TMC जंग… पढ़िए किसने क्या कहा

BJP vs TMC : तृणमूल कांग्रेस के एक विधायक समेत कुछ अन्य नेताओं के साथ संसद में हुई घटना के मास्टरमाइंड की तस्वीरें सामने आने के बाद भाजपा और टीएमसी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज होता जा रहा है।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 15, 2023 16:53
Share :
Lalit Jha TMC Connection parliament security breach
टीएमसी विधायक की तपस रॉय के साथ तस्वीर

BJP vs TMC : बीते बुधवार को संसद की सुरक्षा में लगी सेंध के मामले में पांच आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। चार लोगों को उसी दिन पकड़ लिया गया था जबकि घटना के मास्टरमाइंड माने जा रहे ललित झा ने शुक्रवार को आत्मसमर्पण किया था। इसके बाद कुछ तस्वीरें सामने आईं जिनमें ललित झा को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कुछ नेताओं के साथ देखा गया।

इनमें से एक फोटो में टीएमसी विधायक तपस रॉय ललित झा के साथ नजर आ रहे हैं। यह फोटो बंगाल भाजपा के अध्यक्ष सुकांत मजुमदार ने गुरुवार को एक्स पर पोस्ट की थी। इसके बाद यह मामला भाजपा बनाम टीएमसी में तब्दील होता दिख रहा है। एक ओर जहां भाजपा सांसदों ने इसे लेकर टीएमसी पर आरोप लगाए हैं, वहीं टीएमसी ने भी इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

मजुमदार ने अपनी पोस्ट में लिखा था कि लोकतंत्र के मंदिर पर हमले का मास्टरमाइंड लंबे समय तक टीएमसी के तपस रॉय का करीबी रहा है। उन्होंने सवाल किया कि क्या रॉय की मिलीभगत की जांच करने के लिए यह सबूत पर्याप्त नहीं है। वहीं, बंगाल से भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी शुक्रवार को इस तस्वीर का एक प्रिंटआउट हाथ में लेकर टीएमसी पर निशाना साधती दिखीं और बंगाल को आतंकियों का डेरा बता डाला।

थोड़ा मैच्योर हो जाएं भाजपा के नेता: तपस रॉय

इसे लेकर तपस रॉय ने भाजपा सांसदों को मैच्योर होने की नसीहत दी है। रॉय ने कहा कि एक फोटो से आप क्या सिद्ध कर सकते हैं? उन्होंने ललित झा को जानने से इनकार करते हुए कहा कि यह बचकानी हरकत है। भाजपा सांसदों और प्रदेश अध्यक्ष को मैच्योर होना चाहिए। उन्होंने तस्वीर को 2020 में सरस्वती पूजा की बताते हुए कहा कि कई लोग फोटो खिंचवाना चाहते हैं इसमें क्या कर सकते हैं।

इससे पहले गुरुवार को रॉय ने कहा था कि एक सोशल मीडिया पोस्ट की कोई वैल्यू नहीं होती है। एक जनप्रतिनिधि के तौर पर मेरे कई समर्थक और सहयोगी हैं। इसकी जांच होने दीजिए। अगर भाजपा के दावे सही साबित होते हैं तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। टीएमसी विधायक ने कहा कि संसद की सुरक्षा एक गंभीर मसला है और ध्यान भटकाने की बजाय इसकी जांच की जानी चाहिए।

भाजपा ने पूछा ममता बनर्जी के मौन का कारण

भाजपा की पश्चिम बंगाल शाखा के एक्स हैंडल से भी ललित झा की कई टीएमसी नेताओं के साथ तस्वीरें शेयर की गई हैं। साथ ही लिखा है कि ये तस्वीरें संकेत देती हैं कि संसद में हुई घटना में टीएमसी की गहरी संलिप्तता है। पोस्ट में सवाल किया गया कि प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस मामले को लेकर मौन क्यों हैं? उनके मौन के पीछे आखिर क्या कारण हो सकता है?

ये भी पढ़ें: संसद की घटना के मास्टरमाइंड ने किया थाने में सरेंडर

ये भी पढ़ें: इसलिए निलंबित किए गए थे 13 लोकसभा सांसद

ये भी पढ़ें: संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने वालों का मकसद क्या था?

ये भी पढ़ें: भाजपा सांसद ने बंगाल को बताया आतंकियों का डेरा

First published on: Dec 15, 2023 04:53 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें