Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Kaam Ki Khabar: अब नहीं लगाने पड़ेंगे RTO के चक्कर, 50 से ज्यादा सुविधाएं घर बैठे मिलेंगी, क्या, कैसे, कौन-सी? जानें

परिवहन मंत्रालय ने यह निर्देश जारी किए हैं। जिसमें स्थानीय ट्रांसपोर्ट ऑफिस से जुड़े 50 से अधिक काम ऑनलाइन करने को कहा गया है।

RTO online services: वाहन चलाने वाले लोगों के लिए काम की खबर है। अब आपको अपने वाहन, लाइसेंस और RTO संबंधी 50 से ज्यादा सुविधाएं घर बैठे मिलेंगी। आपको RTO के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। बस एक क्लिक पर अपने आधार के माध्यम से Driving Licence, Vehicle Registration आदि काम करवा सकेंगे।

अभी पढ़ें चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की घटना को सोनू सूद ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, कहा- अपनी बहनों के साथ खड़े होने का समय

 

 

क्या बदलाव हुआ है
परिवहन मंत्रालय ने यह निर्देश जारी किए हैं। जिसमें स्थानीय ट्रांसपोर्ट ऑफिस से जुड़े 58 से अधिक काम ऑनलाइन करने को कहा गया है। यह सभी काम घर बैठे किए जा सकेंगे। परिवहन मंत्रालय के मुताबिक सरकारी दफ्तर में जाए बगैर इस तरह की सेवाओं को कॉन्टैक्टलेस तरीके से उपलब्ध करवाने से नागरिकों का बहुमूल्य समय बचेगा और उनका काम का बोझ भी कम होगा।

क्या करवा सकेंगे
-व्हीकल रजिस्ट्रेशन
-व्हीकल रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर
-लर्नर लाइसेंस, डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस और रिन्यूअल ऑफ ड्राइविंग लाइसेंस जिसमें गाड़ी चलाकर दिखाना आवश्यक नहीं हो
-इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट
-कंडक्टर लाइसेंस के ऐड्रेस में बदलाव
-मोटर वाहन का ओनरशिप ट्रांसफर

कैसे करवा सकेंगे
परिवहन मंत्रालय के अनुसार इसके लिए स्वैच्छिक आधार पर आधार प्रमाणीकरण से गुजरना पड़ता है। मंत्रालय ने इस बाबत 16 सितंबर को अधिसूचना जारी की है। जिस व्यक्ति के पास आधार संख्या नहीं है। वे कोई और पहचान-पत्र दिखाकर प्रत्यक्ष रूप से सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा आधार सत्यापन करवाकर क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (RTO Office) में जाने की बजाए ऑनलाइन सेवा की सुविधा ले सकते हैं।

अभी पढ़ें वक्फ बोर्ड भ्रष्टाचार मामले में शिकायतकर्ता का दावा, अमानतुल्लाह खान और उनके रिश्तेदारों ने कमाए करोड़ों

यह भी जानें
परिवहन विभाग के मुताबिक अपने लाइसेंस और वाहन आरसी समेत अन्य निजी दस्तावेजों को सुरक्षित रखें। टू-व्हीलर और फोर-व्हीलर के मालिक अपने आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक कर सकते हैं। इस तरह लोग कई तरह के फर्जीवाड़ों से बच सकते हैं। आधार आधारित ड्राइविंग लाइसेंस से नकली कॉपी बनाना मुश्किल होगा। इसके साथ ही आप आधार को डीएल से लिंक करवाकर नया डीएल बनवा सकते हैं। लिंक होने के बाद पहले से मौजूद लाइसेंस का रिन्युअल भी करवा सकते हैं।

अभी पढ़ें   देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -