Tuesday, March 21, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

FD Rates Hike: वित्त मंत्री ने महिलाओं के लिए शुरू की विशेष जमा योजना, बैंकों पर FD पर ब्याज दरें बढ़ाने का दबाव

FD Rates Hike: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार, अपने बजट 2023 के भाषण के दौरान, विशेष रूप से महिलाओं के लिए आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए एक छोटी बचत योजना, महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र (Mahila Samman Savings Certificate) शुरू कर रही है। छोटी बचत योजना का कार्यकाल दो वर्ष है और यह 7.5 प्रतिशत की ब्याज दर की पेशकश करेगी।

सीतारमण ने कहा, ‘आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए, एक बार की नई लघु बचत योजना, महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र, मार्च 2025 तक दो साल की अवधि के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। यह आंशिक निकासी विकल्प के साथ 7.5 प्रतिशत की निश्चित ब्याज दर पर 2 वर्ष की अवधि के लिए महिलाओं या लड़कियों के नाम पर 2 लाख रुपये तक की जमा सुविधा प्रदान करेगा।’

बैंकों पर दबाव

जैसे ही सरकार ये योजना लेकर आई है वैसे ही बैंकों को भी महिलाओं को मिलने वाली ब्याज बढ़ानी पड़ सकती है। हाल के दिनों में एसबीआई से लेकर आईसीआईसीआई बैंक, आरबीएल बैंक, एक्सिस बैंक और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने भी जमा पर ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला किया है। लेकिन ज्यादातर एफडी पर दिया जाने वाला ब्याज वित्त मंत्री की विशेष जमा योजना महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र की 7.50 फीसदी ब्याज दर से कम है।

और पढ़िएदेशवासियों के लिए अलर्ट! जल्दी करें ये काम, देर हो गई तो इस बार होगी बड़ी दिक्कत

PPF, SCSS और SSY का क्या है हाल

महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र सरकार की नवीनतम लघु बचत योजना है। लघु बचत योजनाएं उन व्यक्तियों के लिए निवेश के साधन हैं जिन्हें धारा 80सी के तहत प्रमुख कर लाभ प्राप्त हैं। इस श्रेणी के अंतर्गत अन्य लोकप्रिय योजनाएं सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ), वरिष्ठ नागरिक लघु बचत योजना (एससीएसएस), राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई) हैं।

वरिष्ठ नागरिक लघु बचत योजना (SCSS)

इस साल के बजट में, एफएम निर्मला सीतारमण ने वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ऊपरी जमा सीमा को 15 लाख रुपये से बढ़ाकर 30 लाख रुपये कर दिया। योजना के लिए वर्तमान ब्याज दर 8 प्रतिशत प्रति वर्ष है, जिसे वित्तीय वर्ष की हर तिमाही यानी जनवरी, अप्रैल, जुलाई और सितंबर में संशोधित किया जाता है।

सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ)

यह योजना 1968 में शुरू की गई थी और यह एक बचत और कर बचत निवेश जरिया है जो निवेशकों को वार्षिक करों की बचत के साथ-साथ एक सेवानिवृत्ति कोष बनाने में सक्षम बनाता है। पीपीएफ के लिए मौजूदा ब्याज दर 7.1 फीसदी है। इस योजना का न्यूनतम कार्यकाल 15 वर्ष है, जिसे 5 वर्ष के ब्लॉक में बढ़ाया जा सकता है।

और पढ़िएपुरानी पेंशन योजना पर बड़ा अपडेट, जानिए क्या है केंद्र सरकार की योजना, कब से बहाल होगी OPS?

सुकन्या समृद्धि योजना खाता (SSY)

यह योजना एक बालिका के भविष्य को सुरक्षित करने में मदद करने के लिए शुरू की गई थी। योजना की वर्तमान ब्याज दर 7.6 प्रतिशत है। SSY खाता 10 वर्ष की आयु तक की लड़की के लिए डाकघरों या बैंकों में खोला जा सकता है। योजना की लॉक-इन अवधि 18 वर्ष है, जिसे आगे 21 वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है। जमा केवल 15वें वर्ष तक ही किया जा सकता है।

और पढ़िएबिजनेस से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -