Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

2000 के नोट को लेकर RBI का बड़ा खुलासा, क्या नोटबंदी का दिखने लगा असर?

2000 Rupees Note Withdrawal Impact: पिछले साल 2,000 रुपये के बैंक नोटों को सर्कुलेशन से वापस लेने के ऐलान हुआ था। इतने महीनों बाद आज गुलाबी नोट फिर चर्चा में आ गए हैं। यह खुलासा हुआ है कि टोटल 8,897 करोड़ रुपये की कीमत वाले 2000 रुपये के गुलाबी नोट अब भी जनता के बीच में ही हैं। जानिए इसपर केंद्रीय बैंक ने क्या कहा।

Edited By : Prerna Joshi | Updated: Feb 25, 2024 18:50
Share :
2000 Rupee Note
2000 Rupee Note

2000 Rupees Note Withdrawal Impact: 2000 रुपये के वह नोट जिन्हें पिछले साल सर्कुलेशन से बाहर किया गया था। अब इसे लेकर बड़ा अपडेट आया है। जिन गुलाबी नोटों को पिछले साल 19 मई को बंद करने का फैसला लिया गया था अब वह फिर से चर्चा का विषय बन गए हैं। इन्हें सर्कुलेशन से हटाने के बाद केंद्रीय बैंक के फैसले का असर देखने को मिलने लगा है। हाल ही में यह बात सामने आई है कि 8,897 करोड़ रुपये की कीमत के 2000 रुपये वाले गुलाबी नोट अब भी जनता के पास ही हैं। जानिए यह पूरी खबर।

जनता के पास हैं 8897 करोड़ रुपये के 2000 के नोट?

19 मई 2023 को 2,000 रुपये के बैंक नोटों को सर्कुलेशन से वापस लेने का ऐलान हुआ तो 31 जनवरी तक 2,000 रुपये के लगभग 97.5 परसेंट नोट बैंकिंग सिस्टम में वापस आ गए थे लेकिन 8,897 करोड़ रुपये की कीमत के नोट अब भी जनता के पास ही हैं। 19 मई, 2023 को सर्कुलेशन में मौजूद 2,000 रुपये के बैंक नोटों की कुल कीमत 3.56 लाख करोड़ रुपये थी।

यह भी पढ़ें: कौन हैं Geeta Batra? बनीं विश्व बैंक के GEF की पहली महिला डायरेक्टर

आंकड़ों के मुताबिक, 9 फरवरी को खत्म हफ्ते में सर्कुलेशन में लिखी करेंसी (Currency-in-circulation or CiC) की ग्रोथ एक साल पहले के 8.2 परसेंट से नीचे गिरकर 3.7 परसेंट रह गई। CiC का मतलब होता है सर्कुलेशन में मौजूद नोट और सिक्के। वहीं जनता के पास मौजूद करेंसी (currency with the public) से मतलब है- बैंकों के पास जमा कैश को घटाने के बाद सर्कुलेशन में मौजूदा नोट और सिक्के।

जनवरी में कमर्शियल बैंकों के डिपॉजिट में बढ़ावा

RBI के मुताबिक कमर्शियल बैंकों के डिपॉजिट में जनवरी में डबल डिजिट में बढ़ावा हुआ है और वजह है 2,000 रुपये के नोटों को हटाया जाना। सेंट्रल बैंक के डेटा के मुताबिक, रिजर्व मनी (RM) की ग्रोथ 9 फरवरी, 2024 घटकर 5.8 परसेंट रह गई, जो एक साल पहले 11.2 परसेंट थी। RM में CiC के अलावा RBI के पास बैंकों की जमा राशि और बाकी जमा शामिल होती है। RBI के अनुसार, RM में CiC सबसे बड़ा कंपोनेंट हैं।

यह भी पढ़ें: Fixed Deposit पर सबसे ज्यादा ब्याज देने वाले 6 Bank

जानकारी के लिए बता दें कि नवंबर, 2016 में नोटबंदी के तहत ही 1000 रुपये के नोट और 500 रुपये के पुराने नोटों को सर्कुलेशन से बाहर करने के बाद 2,000 का नोट शुरू किया गया था।

First published on: Feb 25, 2024 06:36 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें