---विज्ञापन---

खून से सनी लाशें, गले काटे गोलियां मारीं; 15 से ज्यादा पुलिसवालों की हत्या 7 आतंकी ढेर; देखें रूस में हमले के वीडियो

Terrorist Attack: 10 से ज्यादा आतंकवादी हथियार लेकर रूस में घुसे और उन्होंने एक चर्चा, पुलिस स्टेशन और यहूदी मंदिर को अपना टारगेट बनाया। हमले में कई पुलिस कर्मचारी और लोग मारे गए हैं। एक पादरी की भी गला काट कर हत्या की गई।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Jun 24, 2024 07:23
Share :
Terrorist

Terrorist Attack in Russia Dagestan: रूस पर आतंकी हमला हुआ है। बीते दिन दागेस्तान में आतंकियों ने 2 चर्च, एक सिनेगॉग (यहूदी मंदिर) और एक पुलिस स्टेशन को अपना निशाना बनाया। चर्च में घुसकर आतंकियों ने पादरी का गला काट दिया और उसमें आग लगा दी। थाने में घुसकर आतंकियों ने 15 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को गोलियों से छलनी कर दिया। तीसरी जगह हुए आतंकी हमले में कई लोगों के मारे जाने की खबर है।

वहीं बहुत से लोग घायल भी हुए हैं। हालांकि मृतकों और घायलों की संख्या के बारे में आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है, लेकिन रशियन पुलिस ने 7 आतंकियों को भी ढेर कर दिया है। इससे पहले तीनों इलाकों में तबाही का मंजर देखने को मिला। सड़क पर लोगों को पुलिस वालों की खून से सनी लाशें बिखरी थीं। आतंकी हमले के वीडियो सामने आए हैं। चर्च धू-धू कर जला, वहीं लोग इधर उधर भागते दिखे। आतंकियों से मुठभेड़ अभी जारी है।

 

यह भी पढ़ें:31000 फीट ऊंचाई पर प्लेन में बम ब्लास्ट, जिंदा जले थे Air India के 329 पैसेंजर्स, पढ़ें आतंकी हमले की खौफनाक कहानी

तीनों जगहों को आतंकियों ने आग के हवाले किया

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, रूस के दक्षिण में बसे राज्य दागेस्तान के डर्बेट शहर में आतंकी हमला हुआ है। आतंकियों ने ईसाईयों और यहूदियों के धार्मिक स्थलों को निशाना बनाया। पुलिस कुछ न कर पाए, इसलिए आतंकियों ने धार्मिक स्थलों के पास बने पुलिस स्टेशन पर भी हमला किया। आतंकियों ने पुलिस स्टेशन में घुसकर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं और थाने में आग लगा दी।

रूस की नेशनल एंटी-टेररिज्म कमेटी ने पुष्टि की है कि रूस के मुस्लिम बहुल उत्तरी काकेशस एरिया में आतंकी हमला हुआ है। यह एरिया यहूदियों का गढ़ माना जाता है। दागेस्तान पब्लिक मॉनिटरिंग कमीशन के अध्यक्ष शमील खादुलेव ने बताया कि पुलिस अफसर मावलुदीन खिदिरनबिएव भी आतंकी हमले में मारे गए हैं। रूस के नेशनल गार्ड्स ने मोर्चा संभाल लिया है। हालांकि अभी किसी आतंकी संगठन ने आतंकी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन हमलावर ISIS या नाटो के हो सकते हैं। फिलहाल जांच चल रही है।

 

यह भी पढ़ें:OMG! दुनिया का सबसे अमीर आदमी 12 बच्चों का बाप; Elon Musk के परिवार को लेकर चौंकाने वाला खुलासा

काले रंग के कपड़े पहने आतंकी देखे गए

दागेस्तान पब्लिक मॉनिटरिंग कमीशन के चेयरमैन शमील खदुलेव ने बताया कि यहूदी मंदिर और चर्च दोनों ही डर्बेट शहर में स्थित हैं, जो मुख्य रूप से मुस्लिम उत्तरी काकेशस क्षेत्र में एक प्राचीन यहूदी समुदाय का घर है। पुलिस चौकी पर हमला जॉर्जिया और अजरबैजान के बॉर्डर पर स्थित दागेस्तान शहर की राजधानी माखचकाला में हुआ। फादर निकोले की हत्या कर दी गई है। उनका गला रेत दिया गया। वह 66 साल के थे और बहुत बीमार थे। काले कपड़े पहने हथियारबंद लोग पुलिस वाहनों और सड़कों पर घूम रहे लोगों पर गोलियां चलाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

घायल लोगों में ज़्यादातर पुलिस अधिकारी हैं। बंदूकधारियों ने इमारतों को आग लगाने के लिए फायरबॉम्ब का इस्तेमाल किया। दागेस्तान के गवर्नर सर्गेई मेलिकोव ने कहा कि हमें पता है कि आतंकवादी हमलों के पीछे कौन है और उनका क्या लक्ष्य था? 24-26 जून को दागेस्तान में शोक दिवस घोषित किया गया है, जिसमें झंडे आधे झुका दिए जाएंगे और सभी मनोरंजन कार्यक्रम रद्द कर दिए जाएंगे। हमले के लिए यूक्रेन और NATO जिम्मेदार हैं।

यह भी पढ़ें: खूंखार सीरियल किलर की लाश जेल में मिली; जानें कौन था और कैसे किए थे मर्डर? 99 साल की हुई सजा

First published on: Jun 24, 2024 06:54 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें