Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

कौन है वो युवक, जिसने Dark Web पर बेच दिया देश का सरकारी और 5 लाख लोगों का निजी डेटा

Indian Data Sold To Dark Web: 21 साल के युवक ने देश का सरकारी और नागरिकों का पर्सनल डाटा हैक किया और डार्क वेब को बेच दिया है। IB ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। अब इंटेलिजेंस ब्यूरो यह पता लगाने में जुटी है कि युवक ने डेटा किससे खरीदा और कितना? उसने डेटा किसे बेचा और कितना बेचा?

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Feb 26, 2024 07:19
Share :
Data Hacked And Sold To Dark Web
डाटा हैक करके डार्क वेब पर बेचने का मामला सामने आया है।

Official Personal Data Sold To Dark Web: देश के एक युवक ने डार्क वेब को देश का सरकारी और नागरिकों का पर्सनल डेटा बेच दिया है। मामले का खुलासा होने पर इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) ने आरोपी को दबोच लिया। तलाशी के दौरान युवक से अमेरिकी नागरिकों से जुड़ा 90 मिलियन से अधिक डेटा और डार्क वेब अकाउंट से इस्लामिक स्टेट्स और तालिबान से संबंधित बहुत सारा डेटा मिला है।

आरोपी के डेस्कटॉप में भारतीय सेना, अमेरिकी सेना और भारतीय पुलिस के अलावा देश के 5 लाख से अधिक लोगों के आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंकिंग डेटा भरा हुआ था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 419, 420 और 120बी, धारा 43, 66बी, IT अधिनियम की धारा 66सी और 67ए के तहत मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें: ‘मुक्के-थप्पड़ मारती है, मुझे मेरी पत्नी से बचाओ’; सूजे हुए चेहरे के साथ थाने पहुंचा पति, दर्ज कराई FIR

4 देशों का सरकारी और नागरिकों का डेटा जब्त

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले का रहने वाला है। उसकी पहचान श्रीकरणपुर निवासी 21 वर्षीय अमित चंद के रूप में हुई है, जिसे इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) की छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया। उस पर भारत, संयुक्त राज्य अमेरिका सहित 4 देशों की सरकारों और लोगों के गोपनीय डेटा को अवैध रूप से हैक करने और बेचने के आरोप लगे हैं।

इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) के श्रीकरणपुर सर्कल अधिकारी (CO) सुधा पलवत ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। IB और जिला पुलिस की टीम ने श्रीकरणपुर के 49एफ गांव में अमित चंद के आवास पर छापेमारी की और कई उपकरणों से 4,500 GB डेटा बरामद किया। कमरे से 3 मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, 2 पेन ड्राइव, 5 हार्ड डिस्क और 4 SSD जब्त किए गए है।

यह भी पढ़ें: Online Gaming ने बनाया कातिल, 50 लाख के लिए मार दी मां; खौफनाक मर्डर केस में चौंकाने वाले खुलासे

क्रिप्टोकरेंसी बेचकर खरीदता था, पैसे लेकर बेचता था

CO सुधा पलवत ने बताया कि अमित साल 2018 से डार्क वेब बिजनेस से जुड़ा है और पिछले 2-3 महीने से काफी एक्टिव था। उसने यूट्यूब से हैकिंग के गुर सीखे। इसके बाद उसने देश का गोपनीय डेटा खरीदकर उसे डार्क वेब को बेचने का काम करने लगा। उसने 3 टेलीग्राम चैनल बनाए हुए हैं, जिनके जरिए वह डार्क वेब को डेटा बेचता है।

डेटा खरीदने के बदले वह ग्राहकों को क्रिप्टोकरेंसी देता था और उसे इस डेटा के बदले पैसा मिलता था। अमित सरकारी कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रहा है और साधारण परिवार से है। उसके माता-पिता उसकी हरकतों के बारे में नहीं पता था। यह जानने के बावजूद कि डेटा लीका करना एक अपराध है, वह दुनिया का सबसे बड़ा हैकर बनने की ख्वाहिश रखता थ। पुलिस अब यह जानने में जुटी है कि अमित ने डेटा किसको बेचा और किस-किस से खरीदा?

यह भी पढ़ें: UP के कौशांबी में धमाके की सच्चाई आई सामने, 6 लोगों की गई जान, गलियों में बिखरे शवों के टुकड़े

First published on: Feb 26, 2024 07:13 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें