Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ambedkar Nagar News: सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों को सजा नहीं मिली तो ‘बेटी’ ने खुद को ही दे दी रूह कंपाने वाली सजा

घटना की जानकारी होने पर वरिष्ठ अधिकारियों ने एसएचओ को लाइन हाजिर तो मामले के जांच अधिकारी दरोगा को निलंबित कर दिया है।

Ambedkar Nagar News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अंबेडकरनगर (Ambedkar Nagar) से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां सामूहिक दुष्कर्म (gang rape) की नाबालिग पीड़िता के आरोपियों को पुलिस ने सजा नहीं दी तो उसने खुद को ही खौफनाक सजा दे डाली। अपने घर के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। वहीं घटना की जानकारी होने पर वरिष्ठ अधिकारियों ने एसएचओ को लाइन हाजिर तो मामले के जांच अधिकारी दरोगा को निलंबित कर दिया है।

अभी पढ़ें जलता हुआ रावण का पुतला लोगों की भीड़ पर गिरा, देखिए वीडियो वायरल

16 सितंबर को किशोरी के साथ हुई थी वारदात

जानकारी के मुताबिक पिछले माह 16 सितंबर को अंबेडकर नगर के मालीपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली किशोरी स्कूल गई थी। तभी वह संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई। परिवार वालों ने उसकी काफी तलाश की, लेकिन उसका कहीं सुराग नहीं लगा। इसके बाद परिवार वालों ने थाना पुलिस में मामले की शिकायत की। पुलिस ने परिवार वालों की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज किया।

किशोरी ने पुलिस से कहा-वारदात हुई थी मेरे साथ

आरोप है कि मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस उसकी तलाश नहीं कर पाई। परिवार वालों ने बताया कि दो दिन बाद किशोरी जैसे-तैसे वापस अपने घर पहुंची। किशोरी के वापस आने पर पुलिस उसे अपने साथ थाने ले गई। किशोरी का मेडिकल कराने के बाद उसका बयान हुए। इसके बाद उसे परिवार वालों को सौंप दिया गया। परिजनों ने बताया कि किशोरी ने पुलिस के सामने कहा था, दो आरोपी उसे कार में लखनऊ लेकर गए थे। जहां एक होटल के कमरे में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

अभी पढ़ें MP News: रीवा में दर्दनाक हादसा, श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटी, तीन की मौत, 24 घायल

परिवार का आरोप- पुलिस ने नहीं की कार्रवाई

किशोरी के परिवार वालों का आरोप है कि बताने के बाद भी पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। किशोरी और उसके परिवार वाले इससे आहत थे। इस पर बुधवार को किशोरी ने अपने ही घर में दुपट्टे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

थाना प्रभारी और जांच अधिकारी पर गिरी गाज

अधिकारियों ने हंगामा कर रहे पीड़ित परिवार वालों और गांव वालों को समझाया। वहीं दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई का आश्वासन दिया। मामले में लापरवाही बरतने पर एसपी ने थाना प्रभारी और जांच कर रहे दरोगा पर कार्रवाई की है। पुलिस ने फिलहाल किशोरी का कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की जांच अन्य अधिकारियों को दी गई है।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़े

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -