Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

Rajasthan News : अब फील्ड में उतरकर शक्ति प्रदर्शन करने की तैयारी में पायलट, जानिए पूरा मामला

Rajasthan News : राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अपने सियासी बयानों पर लगाम लगाने वाले सचिन पायलट अब एक बार फिर एक्शन में हैं। एक दिन पहले हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में शामिल नहीं होने वाले पायलट अब किसान सम्मेलन करने जा रहे हैं। वे सीधा लोगों से सम्पर्क बढ़ाने जा रहे […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Jan 11, 2023 11:42
Share :
Sachin Pilot And Ashok Gehlot

Rajasthan News : राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अपने सियासी बयानों पर लगाम लगाने वाले सचिन पायलट अब एक बार फिर एक्शन में हैं। एक दिन पहले हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में शामिल नहीं होने वाले पायलट अब किसान सम्मेलन करने जा रहे हैं। वे सीधा लोगों से सम्पर्क बढ़ाने जा रहे हैं। इसके लिए पायलट समर्थक मंत्री और विधायक तैयारियों में जुट गए हैं।

और पढ़िए –Himachal News : पैदल ही PM से मिलने निकला सोलन का ये किसान, जाने पूरी खबर

प्रदेश में सभाएं करेंगे पायलट

पायलट 16 जनवरी को नागौर जिले के परतबसर में किसान सम्मेलन से शक्ति प्रदर्शन की शुरुआत कर रहे है। इसके बाद 18 जनवरी को झुंझुनूं जिले के गुढ़ा क्षेत्र में पायलट की सभा रखी गई है। इसके बाद मारवाड़ और नहरी क्षेत्र में भी पायलट की सभाओं और किसान सभाओं के कार्यक्रम बन रहे हैं। पायलट समर्थक नेताओं ने प्रदेश भर में तैयारियां शुरू कर दी हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के क्षेत्र में उनकी सभाएं रखी जाएगी। विधानसभा के बजट सत्र के बीच पड़ने वाली छुट्टियों में भी पायलट की सभाएं तय की जा रही हैं।

मांगें नही हुई पूरी

सचिन पायलट चुनाव से पहले फील्ड में उतरकर हाईकमान को अपना जनाधार दिखाना चाहते हैं। इसी रणनीति के तहत उनकी सभाओं के प्रोग्राम बनाए जा रहे हैं। इस प्रकार की रैलियों से पायलट विरोधी खेमे को अपनी ताकत दिखाना चाहते हैं।

और पढ़िए –हापुड़ः खुले बोरबेल में गिरा 4 साल का बच्चा, NDRF की टीम ने इस तरह से किया रेस्क्यू, देखें Video

गहलोत खेमे से दूरियां बरकरार

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पहले सीएम अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को गद्दार बोल दिया था। उनको बिना जनाधार वाला नेता बताया था। सूत्रों की माने तो यह सब रैलियां उसी रणनीति का हिस्सा हैं। उस बयान के बाद संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने दोनो नेताओं के बीच समझौता करवाया था। ताकि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पार्टी में एकजुटता दिखे।

हाईकमान पर रहेंगी सबकी नजरें

सचिन पायलट समर्थकों ने अंदरखाने पायलट को सीएम बनाने की मांग फिर से उठाना शुरू कर दिया है। उधर गहलोत खेमा इस मांग को मानने को तैयार नहीं है। सीएम अशोक गहलोत बजट पेश करने की तैयारी कर रहे हैं, गहलोत इशारों में कई बार यह जता चुके हैं कि जगह खाली नहीं करेंगे। अब इस पूरे मामले को लेकर एक बार फिर सभी की नजरें हाईकमान पर हैं।

और पढ़िए –देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jan 10, 2023 04:44 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें