---विज्ञापन---

कमलनाथ की घोषणाओं पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का पलटवार, कहा-इस मामले में कांग्रेस एक नंबर

MP Politics: कमलनाथ ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिहाज से मध्य प्रदेश में पांच बड़ी घोषणाएं की हैं। कमलनाथ का कहना है कि कांग्रेस के सरकार में आते ही यह घोषणाएं पूरी की जाएंगी। जिस पर बीजेपी लगातार हमलावर हैं। अब केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कमलनाथ की घोषणाओं पर बड़ा बयान दिया है। […]

Edited By : Arpit Pandey | Updated: Jul 26, 2023 18:28
Share :
jyotiraditya scindia
mp politics jyotiraditya scindia

MP Politics: कमलनाथ ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिहाज से मध्य प्रदेश में पांच बड़ी घोषणाएं की हैं। कमलनाथ का कहना है कि कांग्रेस के सरकार में आते ही यह घोषणाएं पूरी की जाएंगी। जिस पर बीजेपी लगातार हमलावर हैं। अब केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कमलनाथ की घोषणाओं पर बड़ा बयान दिया है।

घोषणा करने में कांग्रेस नंबर वन

ज्योतिरादित्य सिंधिया से जब कमलनाथ की घोषणाओं पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा ‘कांग्रेस में कुछ नया नहीं हैं। 2018 में भी विधानसभा चुनाव से पहले कई घोषणाएं की थी। किसानों के कर्ज माफी की झूठी बात की थी। क्योंकि घोषणा करने और मेनिफेस्टो की बात करने में कांग्रेस एक नंबर हैं। लेकिन सत्ता की कुर्सी पर बैठते ही कांग्रेस जनता को भूल जाती है।’

बीजेपी की एक विचारधारा है 

सिंधिया ने कहा जनता कांग्रेस के व्यवहार से अच्छी तरह वाकिफ हो चुकी। लेकिन बीजेपी जो कहती है वह करके दिखाती है। हमारी लाड़ली बहना योजना, हमारी सीखो कमाओ योजना, किसान सम्मान निधि, फसल बीमा योजना, किसान ब्याज माफी योजनाओं पर हमने लगातार किया किया है। जिसका फायदा जनता को मिला है। क्योंकि बीजेपी एक विचारधारा है। जनसेवा ही जिसका जन कल्याण और हमारा आधार है।’

बता दें कि कमलनाथ की घोषणाओं के बाद से ही बीजेपी के नेता लगातार हमलावर नजर आ रहे हैं। शिवराज सरकार के मंत्रियों और कांग्रेस नेताओं में जमकर बयानबाजी हो रही है। जिससे यह मामला गरमाता नजर आ रहा है।

ये भी पढ़ेंः किसानों को लेकर Kamalnath के 5 बड़े वादे..BJP, Kamalnath इस वादे को लेकर किया पलटवार 

First published on: Jul 26, 2023 06:27 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें