Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

विदेशी मेहमानों के स्वागत के लिए फिर तैयार है MP, G-20 आयोजन के लिए CM शिवराज करेंगे बैठक

G-20 Summit: विपिन श्रीवास्तव। मध्य प्रदेश जी-20 समिट के लिए तैयार है। सीएम शिवराज खुद आयोजन की तैयारियों में जुटे हैं, तो वहीं एमपी भी विदेशी मेहमानों के स्वागत के लिए फिर से आतुर हैं। G-20 समिट के अंतर्गत आज राजधानी भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में थिंक-20 की बैठक शुरू हो गई […]

Edited By : Arpit Pandey | Updated: Jan 17, 2023 11:59
Share :
g20 summit organized in madhya pradesh
g20 summit organized in madhya pradesh

G-20 Summit: विपिन श्रीवास्तव। मध्य प्रदेश जी-20 समिट के लिए तैयार है। सीएम शिवराज खुद आयोजन की तैयारियों में जुटे हैं, तो वहीं एमपी भी विदेशी मेहमानों के स्वागत के लिए फिर से आतुर हैं। G-20 समिट के अंतर्गत आज राजधानी भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में थिंक-20 की बैठक शुरू हो गई है, यह बैठक दो दिन चलेगी, जिसका शुभारंभ आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया। इस बैठक में 44 देशों के 94 डेलीगेट्स शामिल हुए हैं। इसके अलावा भारत के भी प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं। जिसमें कुल 300 लोग शामिल हैं।

और पढ़िए –Joshimath Sinking: सुप्रीम कोर्ट ने जोशीमठ को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई से किया इनकार, कहा- HC जाएं

बैठक में इन मुद्दों पर होगी चर्चा

थिंक-20 की बैठक में ‘पर्यावरण सम्मत जीवन-शैली, नैतिक मूल्य तथा सुमंगलमय युक्त वैश्विक सुशासन’ विषय पर देश-विदेश से आए 300 से अधिक मंत्री, बुद्धिजीवी और विषय-विशेषज्ञ प्लेनरी एवं पेरेलल सेशन, राउण्ड टेबल कॉन्फ्रेंस और क्लस्टर ब्रीफिंग में विचार-मंथन कर रहे हैं। बैठक के पहले दिन 3 प्लेनरी सेशन, 10 पेरेलल सेशन और 2 ब्रीफिंग क्लस्टर होंगे।

थिंक-20 में विदेशी मेहमान

दो दिन चलने वाली बैठक के अलग-अलग सत्रों में लगभग 300 प्रतिभागी शामिल होंगे। इनमें से 94 अंतरराष्ट्रीय सहित भारत के विभिन्न प्रदेशों से 115 और लगभग 100 स्थानीय प्रतिभागी शामिल होंगे। इसमें 14 जी-20 देश, 3 साउथ एशियन देश, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका, 21 अफ्रीका और अन्य क्षेत्रों के देश और 4 इजिप्ट, नीदरलैण्ड, नाइजीरिया और सिंगापुर ऑफिशियल गेस्ट कंट्र्री के रूप में शामिल हुए हैं। साथ ही 9 अंतराष्ट्रीय संगठन एशियन डेव्हलपमेंट बैंक, एडीबी इंस्टीट्यूट, अफ्रीकन यूनियन, बिल एण्ड मिलिंडा गेट्स फाउण्डेशन, जीआईजेड, ओईसीडी, यूएन, यूएनडीपी और यूनिसेफ के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

और पढ़िए –Mini Tent City: वाराणसी के बाद ‘तीर्थराज’ में भी बुक कराएं लग्जरी टेंट हाउस, जानें कीमत और सुविधाएं

भारत पूरी दुनिया को एक परिवार मानता है: सीएम शिवराज

बैठक का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ‘भोपाल कैपिटल ऑफ़ इंटेलेक्चुअल हो गया है। वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर प्रधानमंत्री ने थीम रखी है। चिंतन मंथन पर निश्चित तौर पर अमृत निकलेगा, भारत पूरी दुनिया को एक परिवार मानता है। धरती सबके लिए है, उस धरती पर अलग अलग देशों के रूप में चैम्बर बना लिए हम सबकी चेतना लेकिन एक ही है, इसलिए हम प्राणियों की भी पूजा करते है। हम गाय माता की पूजा करते है। हम भारत है हम पेड़ और पहाड़ों की पूजा करते है। जो विकसित देश हैं उन्होंने अंधाधुंध तरीके से प्रकृति को नुकसान पहुंचाया है, हमने भौतिक प्रगति के चाहने प्रकृति का अंधाधुंध शोषण किया है। दुनिया को इसको लेकर सोचना पड़ेगा।’

सीएम शिवराज ने कहा कि ‘ग्रीन GDP के बारे में विचार करे। सीएम ने कहा कि सिर्फ मीटिंग में ही मत बैठना बल्कि मध्य प्रदेश बहुत सुंदर है सांची, ट्राइबल म्यूजियम, भीमबेटिका भी घूमने जाना। यहां आपको सबकुछ मिलेगा।’

वहीं नीति आयोग के वाइस चेयरमैन सुमन बेरी ने कहा कि “इकॉनोमिक डेवलपमेंट के लिए असल मायने निकालने के जरूरत है, इसलिए हमने यह तय किया है कि G-20 की कई मीटिंग भारत में करवाई जाए। किस तरह से हमें ग्लोबल और G-20 देशों के साथ हाथ बढ़ाकर एक निष्कर्ष निकालाना है, इसलिए हम लगातार प्रयास कर रहे है।’

और पढ़िए –MCD Mayor Election: 24 जनवरी को होगा दिल्ली नगर निगम मेयर का चुनाव, उपराज्यपाल ने दी मंजूरी

भोपाल में कई जगहों पर धारा-144 लागू

वहीं जी-20 समिट के चलते राजधानी भोपाल के भदभदा चौराहे, श्यामला हिल्स, कमला नगर, एमपी नगर, अरेरा हिल्स, ट्राईबल म्यूजियम क्षेत्र में धारा 144 लागू हो गई है। सरकार ने समिट में आने वाले विदेशी विशिष्ट अतिथियों के आगमन के चलते यह फैसला लिया है, यह आदेश 18 जनवरी तक प्रभावी रहेगा, कार्यक्रम स्थलों से 1 किलोमीटर की परिधि में नो फ्लाई जोन घोषित किया गया है। इसके आदेश डीसीपी इंटेलिजेंस ने जारी किए हैं, जहां आदेश का उल्लंघन करने पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

और पढ़िए –देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jan 16, 2023 03:27 PM
संबंधित खबरें