---विज्ञापन---

MP में मदरसों की पठन सामग्री की जांच पर विवाद शुरू, कांग्रेस ने सरस्वती शिशु मंदिर की भी जांच की मांग उठाई

विपिन श्रीवास्तव, भोपाल: मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के उस बयान पर अब विवाद खड़ा हो गया है जिस पर उन्होंने मदरसों की पठन सामग्री की स्क्रूटनी और जांच की बात कही थी। कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मदरसों की जांच अगर […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Dec 20, 2022 11:25
Share :

विपिन श्रीवास्तव, भोपाल: मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के उस बयान पर अब विवाद खड़ा हो गया है जिस पर उन्होंने मदरसों की पठन सामग्री की स्क्रूटनी और जांच की बात कही थी।

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मदरसों की जांच अगर होती है तो सरकार सरस्वती शिशु मंदिरों की भी जांच करे।

बता दें कि कांग्रेस लंबे समय से यह मांग उठा रही है कि सरस्वती शिशु मंदिर में संघ के लोगों को तैयार किया जाता है और संघ की विचारधारा को पढ़ाया जाता है, इसलिए सिर्फ मदरसों को टारगेट ना किया जाए बल्कि सरस्वती शिशु मंदिर की भी जांच होनी चाहिए।

और पढ़िए –  Google For India 2022: सुंदर पिचाई बोले- पीएम मोदी के नेतृत्व में तकनीकी बदलाव की तेज गति देखना प्रेरणादायक

 और पढ़िए –  BJP Parliamentary Party meeting: भाजपा संसदीय दल की बैठक जारी, PM मोदी समेत केंद्रीय मंत्री मौजूद

दरअसल, मध्य प्रदेश में मदरसे में पढ़ाई जाने वाली पठन सामग्री की स्क्रूटनी कराने की बात गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि प्रदेश के कुछ मदरसों में आपत्तिजनक पढ़ाने से संबंधित विषय ध्यान में लाया गया है, मैंने भी उसको प्रथम दृष्ट्या अभी सरसरी निगाह से देखा है, इस तरह की किसी भी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए मदरसों की जो पठन सामग्री है, उसे हम कलेक्टर को कहेंगे कि संबंधित शिक्षा विभाग से वो इसकी स्क्रूटनी करा लें।”

 और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Dec 19, 2022 12:25 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें