Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Jammu: गुलाम नबी आजाद ने नई पार्टी का किया ऐलान, ‘डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी’ रखा नाम

आजाद ने कहा कि मेरी नई पार्टी के लिए लगभग 1,500 नाम सुझाव के तौर पर हमें मिले थे। ये नाम उर्दू और संस्कृत में भेजे गए थे।

जम्मू: गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई पार्टी के नाम की घोषणा कर दी है। जम्मू में सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने अपनी पार्टी का नाम बताया। आजाद ने अपनी पार्टी का नाम ‘डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी’ रखा है। आजाद ने कहा कि डेमोक्रेसी डेमोक्रेटिक के लिए है कि पूरी स्वतंत्र होगी। जिसका मैंने उल्लेख किया कि अपनी सोच होगी। किसी भी पार्टी या नेता से प्रभावित नहीं होगी और आज़ाद रहेगी।

गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई राजनीतिक पार्टी के झंडे का भी अनावरण किया। आजाद की पार्टी के झंडे में तीन रंग नीला, सफेद और पीला है। उन्होंने बताया कि सरसों का पीला रंग रचनात्मकता और विविधता में एकता को इंगित करता है, सफेद शांति को और नीला स्वतंत्रता इंगित करता है।

अभी पढ़ें राशन की दुकानों पर अब शराब भी मिलेगी? डीलर्स फेडरेशन ने केंद्र को पत्र लिखकर इसकी अनुमति मांगी

आजाद ने कहा कि मेरी नई पार्टी के लिए लगभग 1,500 नाम सुझाव के तौर पर हमें मिले थे। ये नाम उर्दू और संस्कृत में भेजे गए थे। उन्होंने कहा कि हम चाहते थे कि पार्टी लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण और स्वतंत्र हो, इसलिए हमने पार्टी का ये नाम चुना है।

बता दें कि आजाद ने कांग्रेस छोड़ने के बाद जम्मू में अपनी पहली जनसभा में अपनी राजनीतिक पार्टी को शुरू करने की घोषणा की थी जो पूर्ण राज्य की बहाली पर ध्यान केंद्रित करेगा। उन्होंने कहा था कि जम्मू-कश्मीर के लोग पार्टी के लिए नाम और झंडा तय करेंगे।

अभी पढ़ें मेघालय रबड़ फैक्ट्री में भयंकर आग, बड़े नुकसान की आशंका

कांग्रेस की पहुंच ट्विटर और कंम्प्यूटर तक सीमित है: आजाद

बता दें कि आजाद ने कांग्रेस पार्टी से 26 अगस्त को इस्तीफा दिया था। इस्तीफा देने के बाद उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि लोग हमें (मुझे और मेरे समर्थकों को जिन्होंने पार्टी छोड़ दी है) बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उनकी पहुंच कंप्यूटर ट्वीट तक सीमित है। कांग्रेस की आलोचना करते हुए आजाद ने कहा, ‘कांग्रेस हमारे खून से बनी है, कंप्यूटर से नहीं, ट्विटर से नहीं। लोग हमें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उनकी पहुंच कंप्यूटर और ट्वीट तक सीमित है। यही कारण है कि कांग्रेस कहीं नहीं है।

कांग्रेस पर तंज कसते हुए आजाद ने कहा कि कांग्रेस के लोग अब बसों में जेल जाते हैं, डीजीपी या कमिश्नर को बुलाते हैं, अपना नाम लिखवाते हैं और एक घंटे के भीतर चले जाते हैं। यही कारण है कि कांग्रेस आगे नहीं बढ़ पा रही है। बता दें कि आजाद 2005 से 2008 तक जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री रहे हैं।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -