Saturday, November 26, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड जैसा मामला दोबारा न हो, NCW अध्यक्ष ने उठाया यह कदम

पुलिस के मुताबिक श्रद्धा की दोस्त ने उसके पिता को बताया कि उसकी बेटी कई महीनों से संपर्क में नहीं है। सोशल मीडिया पर भी कोई अपडेट नहीं है।

नई दिल्ली: दिल्ली के श्रद्धा हत्याकांड पर राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा यह एक भयानक घटना है। भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए उचित जांच की जानी चाहिए और अनुकरणीय सजा दी जानी चाहिए। उन्होंने इस मामले में दिल्ली पुलिस से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

अभी पढ़ें Bikaner: श्रीडूंगरगढ़ में वाहन से कुचलकर एक युवक की हत्या, इलाके में फैली सनसनी

 

शव के टुकड़ों के साथ रहता था

 

बता दें दिल्ली में 28 साल के आफताब अमीन पूनावाला ने अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्वा की हत्या कर उसके 35 टुकड़े कर दिए। फिर उन्हें अलग-अलग जगहों पर ठिकाने लगाया। ठिकाने लगाने से पहले शव के टुकड़ों को 300 लीटर के फ्रिज में रखा। बदबू न फैले इलके लिए आरोपी अगरबत्ती जलाकर रखता था। श्रद्धा को मारने के बाद आरोपी आराम से अपना रोजमर्रा का काम कर रहा था। वह उसी कमरे में सोता था जहां उसने श्रद्धा को मारा और रखा था।

मुंबई से दिल्ली शिफ्ट हुआ था कपल 

रात में वो शव के टुकड़े को एक-एक कर फेंकने निकलता था। आरोपी ने पुलिस को बताया कि 18 मई को दोनों के बीच शादी को लेकर लड़ाई हई। जिसके बाद उसने फ्लैट के अंदर ही उसकी हत्या कर दी। फिर तेज हथियार से उसके शव को काटा और बॉडी को फ्रिज में डाल दिया। 26 साल की श्रद्धा मुंबई के मलाड की रहने वाली थी। यहां वह एक मल्टीनेशनल कंपनी के कॉल सेंटर में काम करती थी। वहीं आफताब भी काम करता था। दोनों के बीच दोस्ती बढ़ी जो प्यार में बदल गई। परिवार वाले रिश्ते से खुश नहीं थे तो दोनों ने मुंबई छोड़ दिया और दिल्ली शिफ्ट कर गए। महरौली के एक फ्लैट में लिव इन में रहने लगे।

अभी पढ़ें डेटिंग ऐप पर हुई थी श्रद्धा से मुलाकात, लिव इन पार्टनर के हत्यारोपी आफताब ने किए सनसनीखेज खुलासे

पिता के दिल्ली पहुंचने से हुआ खुलासा

पुलिस के मुताबिक श्रद्धा की दोस्त ने उसके पिता को बताया कि उसकी बेटी कई महीनों से संपर्क में नहीं है। सोशल मीडिया पर भी कोई अपडेट नहीं है। पिता विकास मदान बेटी का हालचाल जानने 8 नवंबर को दिल्ली पहुंचे थे। जब वे उसके घर पहुंचे तो वहां ताला लगा था। उन्होंने महरौली पुलिस में बेटी के अगवा होने की शिकायत की। जब पुलिस आफताब के कमरे पर पहुंची तो हत्याकांड का खुलासा हुआ।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -