Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

…. जब मोदी ने बजाया नगाड़ा, तालियों से गूंज उठा तालकटोरा स्टेडियम, PM ने कर्नाटक को ‘हनुमान’ कहा, जानें इसकी वजह

Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार की शाम दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम पहुंचे। मौका था कर्नाटक की संस्कृति, परंपराओं और इतिहास का जश्न मनाने के लिए दिम दिमावा सांस्कृतिक उत्सव का। पीएम ने मंच पर पहुंचते ही नगाड़े को बजाना शुरू किया तो ताल कटोरा स्टेडियम तालियों से गूंज उठा। पीएम मोदी ने कहा, भारत की […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Feb 25, 2023 19:25
Share :
Prime Minister Narendra Modi, PM Modi plays drum, Barisu Kannada Dim Dimava cultural festival, Talkatora Stadium, Delhi, Delhi News, Pm Modi, PM Modi News
पीएम मोदी ने नगाड़ा बजाया।

Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार की शाम दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम पहुंचे। मौका था कर्नाटक की संस्कृति, परंपराओं और इतिहास का जश्न मनाने के लिए दिम दिमावा सांस्कृतिक उत्सव का। पीएम ने मंच पर पहुंचते ही नगाड़े को बजाना शुरू किया तो ताल कटोरा स्टेडियम तालियों से गूंज उठा।

पीएम मोदी ने कहा, भारत की परंपराएं हों या भारत की प्रेरणाएं हों, कर्नाटक के बिना हम भारत को परिभाषित नहीं कर सकते हैं। पौराणिक काल से भारत में कर्नाटक की भूमिका तो हनुमान की रही है। हनुमान के बिना न राम होते हैं, न रामायण बनती है।’

उन्होंने कहा कि युग परिवर्तन का कोई मिशन अगर अयोध्या से शुरू होकर रामेश्वरम जाता है, तो उसको ताकत कर्नाटक में ही मिलती है।

देखिए VIDEO

 

अब पढ़िए पीएम मोदी की बड़ी बातें

  • आज दिल्ली कर्नाटक संघ के 75 वर्षों का यह उत्सव ऐसे समय में हो रहा है जब देश भी आजादी के 75 वर्ष का ‘अमृत महोत्सव’ मना रहा है।
  • मैं इस अवसर पर इस संघ का सपना देखने वाली और साकार करने वाली सभी महान विभूतियों को नमन करता हूं। मैं कर्नाटक के लोगों को भी राष्ट्र निर्माण के उनके प्रयासों के लिए प्रणाम करता हूं।
  • आज जब भारत G-20 जैसे बड़े वैश्विक समूह की अध्यक्षता कर रहा है, तो लोकतन्त्र की जननी के रूप में हमारे आदर्श हमारा मार्गदर्शन कर रहे हैं। अनुभव मंटपा’ के जरिए भगवान बसवेश्वरा के वचन, उनके लोकतान्त्रिक उपदेश भारत के लिए एक प्रकाश की तरह हैं।
  • कर्नाटक परंपराओं की धरती भी है और टेक्नालजी की धरती भी है। यहां ऐतिहासिक संस्कृति भी है और आधुनिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस भी है।
  • आज एक ओर भारत अपने प्राचीन मंदिरों को, सांस्कृतिक केन्द्रों को पुनर्जीवित कर रहा है, तो साथ ही हम डिजिटल पेमेंट के मामले में वर्ल्ड लीडर भी हैं।
  • आज का भारत हमारी सदियों पुरानी चोरी हुई मूर्तियों को को विदेशों से वापस ला रहा है और आज का भारत विदेशों से रिकॉर्ड एफडीआई भी लेकर आ रहा है।
  • सरकार द्वारा लंबे समय से चली आ रही अपर भद्रा प्रोजेक्ट की मांग को भी पूरा किया जा रहा है। इससे तुमकुरु, चिकमगलुरू, चित्रदुर्ग और दावणगेरे सहित सेंट्रल कर्नाटक के बड़े सूखा प्रभावित क्षेत्र को लाभ होगा।
  • इस समय दुनिया अंतर्राष्ट्रीय मिलेट्स दिवस मना रही है। लेकिन कर्नाटक तो श्रीअन्न का प्रमुख केंद्र रहा है। आज जब पूरा विश्व श्री अन्न के फायदों और इसकी जरूरत को समझ रहा है। इससे कर्नाटक के छोटे किसानों का बहुत लाभ होने वाला है।

यह भी पढ़ें: Amit Shah Bihar Rally: इस बार ऐसा सबक सिखाइए कि बिहार में दल-बदल करने वाले चुप हो जाएं, लौरिया में जमकर बरसे अमित शाह

First published on: Feb 25, 2023 06:27 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें