Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

दिल्ली जल बोर्ड की हेल्पलाइन सेवा 1916 बनेगी ज्यादा प्रभावशाली और आसान, जानें कैसे

नई दिल्ली: दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष सोमनाथ भारती ने कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट सिस्टम यानी ग्राहक संबंध व्यवस्था को लेकर बुधवार को डीजेबी मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अहम बैठक की। इस बैठक में डीजेबी की हेल्पलाइन लाइन सेवा 1916 को ज्यादा प्रभावशाली और तेज बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। 12 घंटे […]

Edited By : Amit Kasana | Updated: May 3, 2023 19:01
Share :
somnath bharti, delhi news, aap news, delhi news in hindi
somnath bharti

नई दिल्ली: दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष सोमनाथ भारती ने कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट सिस्टम यानी ग्राहक संबंध व्यवस्था को लेकर बुधवार को डीजेबी मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अहम बैठक की। इस बैठक में डीजेबी की हेल्पलाइन लाइन सेवा 1916 को ज्यादा प्रभावशाली और तेज बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए।

12 घंटे के भीतर समाधान करना होगा

डीजेबी उपाध्यक्ष सोमनाथ भारती ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पानी और सीवर से जुड़ी शिकायतों का निर्धारित समय में समाधान सुनिश्चित हो, इसको लेकर बेहद गंभीर है। सोमनाथ भारती ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सीवर और पानी से जुड़ी शिकायतों का 12 घंटे के भीतर समाधान करना होगा।

एडिशनल चीफ इंजीनियर जिम्मेदार होंगे

उपाध्यक्ष ने कहा कि निर्धारित समय में शिकायतों का निपटारा करने की जिम्मेदारी एडिशनल चीफ इंजीनियर की होगी। अगर निर्धारित समय में समाधान नहीं हुआ तो इसके लिए एडिशनल चीफ इंजीनियर जिम्मेदार होंगे। दिल्ली जल बोर्ड की हेल्पलाइन सेवा ठीक काम कर रही है या नहीं इसको जानने के लिए डीजेबी उपाध्यक्ष ने बैठक के बीच में ही हेल्पलाइन सेवा का रियलिटी चेक किया।

बिना K नंबर के दर्ज कराएं शिकायत

दिल्ली जल बोर्ड की हेल्पलाइन सेवा 1916 को आसान और असरदार बनाने के लिए इस बैठक में शिकायत दर्ज कराने के लिए K नंबर यानी वाटर कनेक्शन नंबर की अनिवार्यता को खत्म करने का फैसला किया गया। डीजेबी उपाध्यक्ष ने बताया कि डीजेबी की हेल्पलाइन 1916 के जरिए शिकायत दर्ज कराने वाले शिकायतकर्ता को अब अपना K नंबर यानी वाटर कनेक्शन नंबर बताने की आवश्कता नही पड़ेगी। शिकायतकर्ता इस नंबर को बताएं बिना सीवर- पानी से जुड़ी शिकायत दर्ज करा सकेंगे।

डीजेबी लॉन्च करेगा चैट बोट्स

दिल्ली जल बोर्ड में शिकायत दर्ज कराना अब अब पहले से भी आसान हो जाएगा। अब लोग चैट बोट्स के जरिए भी पानी और सीवर से जुड़ी शिकायत दर्ज करा पाएंगे। इस बैठक में डीजेबी उपाध्यक्ष ने डीजेबी के कंप्लेन सिस्टम को ओर आसान बनाने के लिए डीजेबी की चैट बोट्स सुविधा शुरू करने का फैसला लिया। सोमनाथ भारती ने डीजेबी अधिकारियों को 2 दिन में दिल्ली जल बोर्ड का चैट बोट लॉन्च करने का निर्देश दिया है। चैट बोट्स लॉन्च होने से लोगों के लिए दिल्ली जल बोर्ड में अपनी शिकायत दर्ज कराना और भी आसान हो जाएगा।

शिकायतकर्ता का फीडबैक होगा अनिवार्य

बैठक में डीजेबी उपाध्यक्ष सोमनाथ भारती ने कहा कि शिकायतों के शीघ्र निपटारे के साथ-साथ यह भी जानना आवश्यकता है कि शिकायत पर की गई कार्रवाई को लेकर शिकायतकर्ता का फीडबैक क्या है और क्या वास्तव में अधिकारियों ने शिकायत का निपटारा कर दिया है? उन्होंने कहा कि कई मामलों में देखा गया है कि शिकायत मिलने पर उस पर बिना कार्रवाई किए ही शिकायत को बंद कर दिया जाता है। इसलिए अब शिकायतकर्ता का फीडबैक लेना आवश्यक होगा।

12 घंटे में दूर होगी दूषित पानी से जुड़ी शिकायत

सोमनाथ भारती ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सीवर – पानी की शिकायतों के शीघ्र निपटारे को लेकर बेहद गंभीर है। मुख्यमंत्री के सख्त निर्देश है कि सीवर- पानी से जुड़ी शिकायतों के समाधान में अनावश्यक देरी ना की जाएं। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार इस बैठक में दूषित पानी की सप्लाई से जुड़ी शिकायतों को दूर करने के लिए 12 घंटे की समय सीमा निर्धारित की गई है। अधिकारियों को शिकायत मिलने के 12 घंटे के भीतर शिकायत का समाधान करना होगा।

पानी की पाइपलाइन के डेमेज में जीरो टॉलरेंस की नीति का होगा पालन

इस बैठक में दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष सोमनाथ भारती ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि पानी की पाइपलाइन को नुकसान पहुंचाने के मामले में दिल्ली जल बोर्ड जीरो टॉलरेंस की नीति का पालन करेगा। उन्होंने कहा कि अगर किसी प्राइवेट प्लंबर ने दिल्ली जल बोर्ड की पाइपलाइन को नुकसान पहुंचाया या अवैध पानी कनेक्शन लगाया तो ऐसे प्राइवेट प्लम्बर के खिलाफ दिल्ली जल बोर्ड सख्त कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज कराएगा।

First published on: May 03, 2023 07:01 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें