Monday, December 5, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

AAP की सरकार बन रही है इसलिए भाजपा बुरी तरह घबरा रही है: मनीष सिसोदिया

सीबीआई दफ्तर जाने से पहले मनीष सिसोदिया ने अपनी सास से आशीर्वाद लिया तथा माताजी ने पीला गमछा पहनाकर उन्हें आशीर्वाद दिया।

नई दिल्ली: गुजरात में आम आदमी पार्टी को मिलता जनसमर्थन देख भाजपा बुरी तरह घबरा और बौखला चुकी है। इसी बौखलाहट में साजिशें रचते हुए भाजपा ‘आप’ की इस क्रांति को रोकने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनी रही है। इन्हीं साजिशों के तहत सोमवार को आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को पूछताछ के लिए सीबीआई दफ्तर बुलाया गया।

सीबीआई दफ्तर जाने से पहले मनीष सिसोदिया ने अपनी सास से आशीर्वाद लिया तथा माताजी ने पीला गमछा पहनाकर उन्हें आशीर्वाद दिया। साथ ही क्षत्रिय परंपरा का पालन करते हुए उनकी पत्नी ने उन्हें तिलक लगाया। तत्पश्चात मनीष सिसोदिया आम आदमी पार्टी दफ्तर से राजघाट गए और बापू की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की और सत्य और असत्य की लड़ाई में सत्य की जीत के लिए आशीर्वाद लिया।

आम आदमी पार्टी दफ्तर से राजघाट के बीच हजारों की संख्या में लोगों ने अपने लोकप्रिय नेता व शिक्षा मंत्री के समर्थन में रैली निकली। इस दौरान राज्यसभा सांसद संजय सिंह, आप के वरिष्ठ नेता व दिल्ली कैबिनेट के मंत्री गोपाल राय, विधायक सौरभ भारद्वाज, आतिशी सहित बड़ी संख्या में ‘आप’विधायक शामिल रहे|

अभी पढ़ें ‘धरती पुत्र’ की अस्थियां गंगा में विसर्जित, निशब्द होकर अखिलेश ने पिता को किया अंतिम प्रणाम

गुजरात में लोगों को है AAP से बड़ी उम्मीद: मनीष सिसोदिया

इस मौके पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि आज देश कुर्बानी मांग रहा है। देश की आजादी के 75 साल हो गए लेकिन इनसे हमारे बच्चों के लिए स्कूल नहीं बनवाए गए, अच्छे सरकारी अस्पताल नहीं बनवाए, नौजवानों को बेरोजगार छोड़ दिया। हमनें दिल्ली में पीछे 7 सालों में शानदार काम किया। पंजाब में भी पिछले कुछ महीनों शानदार काम हुए।

दिल्ली और पंजाब के काम से प्रेरणा लेकर गुजरात के 1-1 वोटर के मन में, गुजरात के बच्चे-बच्चे के मन में यह उम्मीद जगी है कि यदि दिल्ली के स्कूल अच्छे हो सकते हैं तो गुजरात के स्कूल भी अच्छे हो सकते है। गुजरात के 1-1 आदमी

यह सोच रहा है कि यदि दिल्ली और पंजाब के सरकारी अस्पताल अच्छे हो सकते है तो गुजरात के सरकारी अस्पताल भी अच्छे हो सकते है।

उन्होंने कहा कि आज गुजरात में लोग आम आदमी पार्टी को बहुत उम्मीद से देख रहे है। इसलिए ये मुझे जेल में डालने की तैयारी कर रहे है। इनको लगता है मैं गुजरात जाऊंगा तो लोगों के शानदार सरकारी स्कूल बनने की उम्मीद और मजबूत होगी|

 ये आज़ादी की दूसरी लड़ाई है। मनीष और सत्येंद्र आज के भगत सिंह हैं: अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि 8 दिसंबर को गुजरात के नतीजे आयेंगे। ये लोग तब तक मनीष को जेल में रखेंगे। ताकि मनीष गुजरात चुनाव में प्रचार के लिए ना जा पायें| उन्होंने कहा कि मनीष के घर रेड में कुछ नहीं मिला, बैंक लॉकर में कुछ नहीं मिला। उन पर केस बिलकुल फ़र्ज़ी है| उन्हें चुनाव प्रचार के लिए गुजरात जाना था। उसे रोकने के लिए उन्हें गिरफ़्तार कर रहे हैं।

लेकिन चुनाव प्रचार रुकेगा नहीं। गुजरात का हर व्यक्ति आज “आप” का प्रचार कर रहा है। जेल की सलाख़ें और फाँसी का फंदा भगत सिंह के बुलंद इरादों को डिगा नहीं पाये। ये आज़ादी की दूसरी लड़ाई है। मनीष और सत्येंद्र आज के भगत सिंह है। 75 साल बाद देश को एक शिक्षा मंत्री मिला जिसने ग़रीबों को अच्छी शिक्षा देकर सुनहरे भविष्य की उम्मीद दी| करोड़ों ग़रीबों की दुआएँ मनीष सिसोदिया के साथ है।

गुजरात में भाजपा बुरी तरह घबरा रही है

सिसोदिया ने कहा कि मैं जब-जब गुजरात गया तब-तब गुजरात के लोगों ने कहा कि दिल्ली की तरह यहां भी शानदार स्कूल बनवा देना हम आम आदमी पार्टी को वोट देंगे, उसकी सरकार बनवायेंगे। गुजरात में भाजपा बुरी तरह से हार रही है और यहां आम आदमी पार्टी की सरकार बन रही है।

इससे भाजपा बुरी तरह घबरा रही है और इसलिए मुझपर झूठे केस करके मुझे जेल में डलवाना चाहती है। लेकिन मै भगत सिंह का अनुयायी हूँ जेल जाने से नहीं डरता| तब देश की आजादी के लिए इन शहीदों ने कुर्बानी दी थी और आज देश एक बार दोबारा कुर्बानी मांग रहा है| देश एक ऐसा सीना मांग रहा है जी जेल जाने से न डरे और मुझे गर्व है कि मैं देश के लिए जेल जा रहा हूँ|

अगर मुझे जेल जाना पड़ा अफ़सोस मत करना गर्व करना: मनीष सिसोदिया

मंत्री सिसोदिया ने कहा कि आज इनकी तैयारी मुझे जेल में डालने की है। इन्होंने पहले भी सीबीआई से मेरे घर पर छापामार कार्रवाई करवाई था। लेकिन उन्हें एक पैसे का भ्रष्टाचार नहीं मिला। फिर उन्होंने मेरे बैंक लाकर की तलाशी करवाया वहां भी कुछ नहीं मिला। उन्होंने कहा कि जब सीबीआई वाले लाकर खंगाल रहे थे तब उन्हें लग रहा था कि लाकर से प्रॉपर्टी से दस्तावेज या कैश मिलेंगे लेकिन उन्हें वहां कुछ नही मिला।

उन्होंने कहा कि सीबीआई वाले मेरे गांव तक जाकर पूछताछ की, कि कही मैंने वहां जमीन तो नहीं खरीद रखी है लेकिन वहां भी उन्हें कुछ नही मिला। इसलिए अब इनकी तैयारी मुझे जेल में डालने की है लेकिन में जेल जाने से नहीं डरता। इनकी सीबीआई-ईडी से नहीं डरता। मैं जनता हूं कि देश कुर्बानी मांग रहा है और मैं कुर्बानी देने के लिए तैयार हूं। उन्होंने कहा कि अगर मुझे जेल चला जाऊ तो अफ़सोस मत करना गर्व करना, मेरे लिए गर्व की बात की मुझे देश के लिए कुर्बानी देने का मौका मिला है|

सीबीआई दफ्तर जाने से पहले मनीष सिसोदिया ने अपनी माताजी (सास) का लिया आशीर्वाद 

सीबीआई दफ्तर जाने से पहले मनीष सिसोदिया ने अपनी सास से आशीर्वाद लिया तथा माता जी ने उन्हें जीत का प्रतीक गमछा पहनाकर आशीर्वाद दिया| साथ ही मनीष सिसोदिया की पत्नी ने क्षत्रिय परंपरा का पालन करते हुए उनका तिलक किया|

भाजपा का मकसद मुझे गुजरात जाने से रोकना, गिरफ्तार करके जेल में डालना: मनीष सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने पत्रकारों के सवालों के जबाव देते हुए कहा कि उन्हें आज सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया है। सीबीआई ने पहले घर में छापेमारी की, जब वहां एक पैसे का कोई भ्रष्टाचार नहीं मिला, तो उसके बाद सीबीआई ने बैंक लॉकर की जांच की। वहां पर भी सीबीआई के हाथ में कुछ नहीं आया।

सीबीआई को लग रहा था कि बैंक लॉकर में बेनामी संपत्ति के कागजात और सोना मिलेगा, लेकिन वहां भी कुछ नहीं मिला। यहां तक की सीबीआई मेरे गांव भी पहुंची थी, वहां लोगों से पूछताछ की, लेकिन वहां भी कुछ नहीं मिला। इनको पता है कि यह पूरा केस फर्जी है, भाजपा का मकसद मुझे गिरफ्तार करके जेल में डालना है। जिससे कि मैं गुजरात ना जा सकूं।

गुजरात में भारतीय जनता पार्टी डरी हुई है। इसलिए यह हमें गुजरात जाने से रोकना चाहती है। गुजरात में पिछले दिनों जब-जब गया, वहां की स्कूलों और अस्पतालों की हालत खराब देखी है। नौजवानों को नौकरी के लिए बिलखते हुए देखा है, तो वहां के लोगों की बहुत बुरी हालत देखी है। गुजरात में लोगों को अरविंद केजरीवाल से उम्मीद है।

वहां हमने लोगों से कहा है कि गुजरात में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाओ फिर स्कूल और अस्पतालों को दिल्ली के स्कूल और अस्पतालों की तरह अच्छे होंगे। गुजरात में भी बिजली के बिल जीरो आएंगे। यहां भी ईमानदारी से नौकरियां लगेंगी। जिसपर वहां के लोगों को भरोसा है। यही वजह है कि भाजपा वहां बुरी तरह से हार रही है। यह हमें जेल में डाल कर रखना चाहते हैं। मेरे खिलाफ ना कुछ निकला- ना कुछ निकलेगा।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि गुजरात का बच्चा-बच्चा चुनाव लड़ रहा है। आज गुजरात का आम आदमी चुनाव लड़ रहा है। इस बार गुजरात के लोग शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के आंदोलन की तरह चुनाव लड़ रहे हैं। मुझे जेल में डालने से गुजरात में भारतीय जनता पार्टी के अपनी हार को नहीं बचा पाएगी। भगत सिंह के रास्ते पर चलते हुए हमने स्कूल और अस्पताल बनाएं। इसलिए भाजपा अब यह गुजरात को नहीं बचा पाएंगी।

अभी पढ़ें सौरभ गांगुली के समर्थन में खुलकर सामने आईं ममता बनर्जी, पीएम मोदी से कर डाली यह बड़ी मांग

CBI दफ्तर जाने से पूर्व मनीष सिसोदिया ने राजघाट पर बापू की समाधि पर पुष्पांजलि की अर्पित 

सीबीआई दफ्तर जाने से पूर्व मनीष सिसोदिया ने राजघाट स्थित महात्मा गाँधी के समाधि स्थल पर जाकर पुष्पांजलि अर्पित की और शीश झुकाया। उन्होंने आशीर्वाद लिया कि इस सत्य और असत्य की लड़ाई में एक बार फिर से सत्य की जीत हो। और देश को शिक्षा के माध्यम से बापू के दिखाए रास्ते पर ले जाया जा सकें|

राजघाट पर मीडिया से मुखातिब होते हुए मनीष सिसोदिया ने कहा कि आजादी की लड़ाई में आम लोगों की लड़ाई लड़ने वाले बापू को अंग्रेज़ की सरकार ने झूठे मुक़दमे में फंसा कर जेल में डाला था, आजादी के बाद ठीक वैसे ही आम जनता के लिए काम करने को लेकर मेरे ऊपर भी फर्जी केस करके जेल भेजने की कोशिश हो रही है | सिर्फ इसलिए कि हमने गुजरात के जनता को अच्छे स्कूल व अस्पताल देने का वादा किया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा 27 साल के शासन में लोगों के लिए कुछ नही किया वही अरविंद केजरीवाल जी ने 8 सालो में दिल्ली में शानदार स्कूल व अस्पताल बनायें है इसलिए गुजरात की जनता अब एक मौका अरविंद केजरीवाल जी को देकर देखना चाहती है। उन्होंने कहा की भाजपा गुजरात में बहुत बुरी तरह से हार रही है इसलिए मुझपर फर्जी केस करवा रही है और मुझे जेल में डालना चाहती है | लेकिन मुझे गर्व है कि मै सच के रास्ते पर चल रहा हूं।

अपने लोकप्रिय नेता व दिल्ली शिक्षा क्रांति के जनक मनीष सिसोदिया के समर्थन में सड़क पर उतरें हजारों कार्यकर्ता, घर से पार्टी आफिस फिर सीबीआई मुख्यालय पहुंचे पुलिस ने बल प्रयोग किया

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर के बाहर सोमवार सुबह से ही हजारों कार्यकर्ता पहुंचने लगे थें। वह मनीष सिसोदिया के साथ पार्टी आफिस गए, जहां पहले से ही हजारों कार्यकर्ता हाथों में तिरंगा और भगत सिंह के तस्वीरों के साथ मौजूद थें। मनीष सिसोदिया पार्टी आफिस से राजघाट में बापू की समाधि पर मथा टेकने पहुंचे। जिसके बाद हजारों समर्थक उनके समर्थन साथ सीबीआई मुख्यालय के लिए निकल गए।

हजारों कार्यकर्ता मनीष सिसोदिया के जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। मनीष सिसोदिया को आज काe भगत सिंह बताते हुए हाथों में तिरंगा और शहीद भगत सिंह का पोस्टर को लहराते हुए सीबीआई मुख्यालय पहुंचे। वहां मनीष सिसोदिया सीबीआई मुख्यालय के अंदर पहुंचे तो उसके बाद राज्यसभा सासंद संजय सिंह, आतिशी, दुर्गेश पाठक के साथ सभी विधायक और कार्यकर्ताओं ने सीबीआई दफ्तर के बाहर शांतिपूर्ण तरिके से बैठकर धरना प्रदर्शन करने लगे।

सीबीआई दफ्तर के बाहर बैठे आम आदमी पार्टी के हाजारों कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने सख्ती करते हुए संजय़ सिंह के साथ कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। विधायक दुर्गेश पाठक के साथ धक्का मुक्की की। पुलिस ने सीबीआई दफ्तर के बाहर धारा 144 लगाने का हवाला देते हुए सभी कार्यकर्ताओं को वहां से हटा दिया। इस दौरान पार्टी नेताओं के साथ बदतमीजी और धक्का मुक्की हुई।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -