Monday, September 26, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

गृह मंत्री अमित शाह का कल से दो दिवसीय बिहार दौरा, जानें- उनका पूरा कार्यक्रम

Amit Shah Bihar Visit: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कल से दो दिनों के बिहार दौरे पर जा रहे हैं। अपने इस दौरे के दौरान वो गृहमंत्री पूर्णिया और किशनगंज जाएंगे।

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री कल यानी शुक्रवार को दो दिनों के बिहार दौरे (Amit Shah Bihar Visit) पर जा रहे हैं। गृहमंत्री कल पूर्णिया पहुंचेंगे। उनका यहां एक रैली को संबोधित करने का कार्यक्रम है। अमित शाह पहले पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में 23 सितंबर को जनसभा को संबोधित करेंगे, फिर किशनगंज में रात में विश्राम विश्राम करेंगे।

अगले दिन 24 सितंबर को गृहमंत्री किशनगंज के ऐतिहासिक बूढ़ी काली मंदिर में पूजा अर्चना करेंगे। इसके बाद गृहमंत्रालय की बैठक में हिस्सा लेंगे। किशनगंज गृह मंत्रालय से जुड़ी एक अहम बैठक आयोजित की गई है। इस बैठक में सीमांचल के इलाके में बॉर्डर पर की गतिविधियों और भारतीय सीमा की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चर्चा होगी।

अमित शाह चुनापूर हवाई अड्डा पहुंचेंगे। यहां से सीधे पूर्णिया के रंगभूमि मैदान पहुंचेंगे और वहां जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद हेलीकॉप्टर से किशनगंज जाएंगे। गृहमंत्री किशनगंज में माता गुजरी विश्वविद्यालय में रुकेंगे। यहां वो पार्ची नेताओं के साथ बैठक करेंगे। इस बैठक में सीमांचल के बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के साथ-साथ जिला और प्रखंड अध्यक्ष से भी मौजूद रहेंगे।

इसके बाद इसके अगले दिन सुबह 24 सितंबर यानी शनिवार को वो किशनगंज में प्रसिद्ध बूढ़ी काली मंदिर में पूजा अर्चना करेंगे। मान्यता है कि यहां की काली माता जागृत हैं और यहां निकटवर्ती पश्चिम बंगाल और नेपाल से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं। पूजा अर्चना के बाद वे फतेहपुर नेपाल बार्डर एसएसबी कैंपस जाएंगे।

दरअसल बिहार में सत्ता समीकरण बदलने के बाद गृह मंत्री का यह पहला दौरा और राज्य में बीजेपी की पहली बड़ी जनसभा है। बीजेपी ने अमित शाह की इस रैली को जनभावना रैली का नाम दिया है। इस रैली में में सीमांचल के चार जिले पूर्णिया, अररिया, किशनगंज और कटिहार के साथ-साथ कोसी के मधेपुरा, सहरसा और सुपौल जिले से डेढ़ लाख से ज्यादा बीजेपी कार्यकर्ताओं का जुटने की उम्मीद है।

गृहमंत्री रैली को सफल बनाने के लिए केंद्रीय मंत्रियों से लेकर बिहार बीजेपी के बड़े नेता पहले से सीमांचल में डेरा डाले हुए हैं। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे, पूर्व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह सीमांचल में डटे हुए हैं।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -