---विज्ञापन---

धर्म का चश्मा उतारकर देखो, पूरा हिंदुस्तान… रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर ये क्या बोल गए ममता के भतीजे?

Abhishek Banerjee On Ram Mandir: टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी ने कहा कि कोई कहता है हिंदू खतरे में है तो कोई कहता है मुस्लिम खतरे में है। धर्म का चश्मा उतार कर देखो, पूरा हिंदुस्तान खतरे में है।

Edited By : Achyut Kumar | Updated: Feb 24, 2024 20:33
Share :
Abhishek Banerjee on ram lalla pran pratishtha
राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बीच ये क्या बोल गए अभिषेक बनर्जी?

TMC General Secretary Abhishek Banerjee On Ram Mandir Inauguration Ram Lalla Pran Pratishtha Ceremony: धर्मनगरी अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का जश्न पूरे देश में मनाया जा रहा है। लोग इस पल का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। इसे लेकर देश में हर्षोल्लास का माहौल है। इस बीच, तृणमूल कांग्रेस (TMC) के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने लोगों से धर्म के चश्मे को हटाने का आह्वान करते हुए इस बात पर जोर दिया कि पूरा हिंदुस्तान खतरे में है।

‘पूरा हिंदुस्तान खतरे में है’

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में सर्व-विश्वास रैली में लोगों को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने कहा कि कोई कहता है हिंदू खतरे में है, कोई कहता है मुसलमान खतरे में है। मैं कहता हूं कि धर्म का चश्मा उतारकर देखो, पूरा हिंदुस्तान खतरे में है। उन्होंने कहा कि भाजपा, कांग्रेस या किसी को भी वोट दें, लेकिन धर्म के नाम पर नहीं, बल्कि काम के नाम पर वोट करें।

 ‘बंगाल के लिए आज गर्व का दिन है’

टीएमसी महासचिव ने कहा कि आज बंगाल के लिए गर्व का दिन है। एक तरफ जहां पूरा देश धार्मिक कार्यक्रम में लगा हुआ है, वहीं बंगाल के लोग सड़क पर एक साथ खड़े होकर शांति की प्रार्थना कर रहे हैं। बंगाल धर्म की राजनीति नहीं करता। हमारा एक ही धर्म है और वह है- सभी को सेवा प्रदान की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें: ‘मोदी ही जीतेंगे अगला चुनाव’, रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर विदेशी मीडिया ने क्या कहा?

‘एकता सभी धर्मों के केंद्र में है’

बता दें कि सोमवार को कोलकाता में सर्वधर्म रैली (संहति रैली) का आयोजन किया गया।  इस मौके पर टीएमसी ने कहा कि संहति रैली ने सभी धर्मों के लिए एकजुटता प्रदर्शित की।  टीएमसी  ने कहा कि एकता सभी धर्मों के केंद्र में है। आज संहति रैली में ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी के साथ विविध मान्यताओं की एकता के लिए समर्थन व्यक्त करने के लिए भारी भीड़ एकत्र हुई। यह एक मनमोहक दृश्य था, क्योंकि विभिन्न पृष्ठभूमि के लोगों ने सभी धर्मों के लिए एकजुटता प्रदर्शित करते हुए एक साथ मार्च किया।

‘रैली में सभी धर्मों के लोग शामिल’

इससे पहले, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि संहति रैली रास्ते में मंदिरों, मस्जिदों, चर्चों और गुरुद्वारों को कवर करेगी। उन्होंने कहा कि रैली में शामिल होने के लिए हर किसी का स्वागत है। रैली में सभी धर्मों के लोग होंगे।

यह भी पढ़ें: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा करते ही PM मोदी का बड़ा ऐलान, एक करोड़ लोगों को दिया ‘तोहफा’

Modafinil

First published on: Jan 22, 2024 11:11 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें