Thursday, 18 April, 2024

---विज्ञापन---

बंगाल न पहुंचने पर PM मोदी ने जताया अफसोस, बोले- निजी कारणों से नहीं आ पाया, आप लोगों से माफी मांगता हूं

PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेलवे परियोजनाओं के उद्घाटन समारोह के दौरान पश्चिम बंगाल के लोगों से माफी मांगी। कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल हुए पीएम मोदी ने कहा कि मुझे पश्चिम बंगाल आना था लेकिन निजी कारणों से मैं वहां नहीं आ सका. मैं बंगाल के लोगों से माफी मांगता हूं। प्रधानमंत्री मोदी ने […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Apr 15, 2024 18:33
Share :
PM Modi

PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेलवे परियोजनाओं के उद्घाटन समारोह के दौरान पश्चिम बंगाल के लोगों से माफी मांगी। कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल हुए पीएम मोदी ने कहा कि मुझे पश्चिम बंगाल आना था लेकिन निजी कारणों से मैं वहां नहीं आ सका. मैं बंगाल के लोगों से माफी मांगता हूं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश की आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ में देश ने 475 ‘वंदे भारत ट्रेन’ शुरू करने का संकल्प लिया था। आज इसी में से एक हावड़ा को न्यू जलपाईगुड़ी से जोड़ने वाली ‘वंदे भारत’ शुरू हुई है। उन्होंने कहा कि बंगाल के कण-कण में आजादी के आंदोलन का इतिहास समाहित है। जिस धरती से ‘वंदे मातरम्’ का जयघोष हुआ, वहां आज ‘वंदे भारत’ ट्रेन को हरी झंडी दिखाई गई है।

और पढ़िए –PM Modi: मां को अंतिम विदाई दी, कुछ घंटे बाद ही पश्चिम बंगाल की जनता को प्रधानमंत्री ने दी ये सौगातें

बोले- 30 दिसंबर का इतिहास में अलग महत्व

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज 30 दिसंबर की तारीख का भी इतिहास में अपना बहुत महत्व है। 30 दिसंबर, 1943 के दिन ही नेताजी सुभाष ने अंडमान में तिरंगा फहराकर भारत की आजादी का बिगुल फूंका था। इस घटना के 75 वर्ष होने पर साल 2018 में, मैं अंडमान गया था, नेताजी के नाम पर एक द्वीप का नामकरण भी किया था।

उन्होंने कहा कि हम लोग अक्सर Preventive Healthcare की बात करते हैं, कहते हैं कि दिनचर्या वो होनी चाहिए कि बीमारी की नौबत ही ना आए। ठीक इसी तरह नदी की गंदगी को साफ करने के साथ ही केंद्र सरकार Prevention पर बहुत जोर दे रही है।

और पढ़िए –G-20 सम्मेलन में दुनिया देखेगी ब्रांड यूपी, लखनऊ में बनेगा जी–20 पार्क, जानें किन शहरों में होंगे आयोजन?

रेलवे में बदलाव के लिए राष्ट्रीय योजना बना रही सरकार: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 21वीं सदी के भारत में विकास को गति देने के लिए, हमें रेलवे के बुनियादी ढांचे को विकसित और मजबूत करने की आवश्यकता है। इसके बाद, सरकार रेलवे क्षेत्र को बदलने के लिए राष्ट्रीय योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि इस Prevention का सबसे बड़ा और आधुनिक तरीका है, ज्यादा से ज्यादा आधुनिक Sewage Treatment प्लांट। आने वाले 10-15 साल बाद की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए देश में आज आधुनिक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगवाए जा रहे हैं।

और पढ़िए –Heeraben Modi Passes Away: पहले ट्वीट फिर गुजरात पहुंचकर PM मोदी ने ऐसे दी मां को अंतिम विदाई, देखें फोटोज

पीएम मोदी ने कहा कि आज केंद्र सरकार, भारतीय रेलवे को आधुनिक बनाने के लिए और रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर को आधुनिक बनाने के लिए रिकॉर्ड इनवेस्टमेंट कर रही है। पीएम राष्ट्रीय गति शक्ति योजना विभिन्न क्षेत्रों से सभी हितधारकों को लेकर आई है, चाहे वह निर्माण एजेंसियां हों, सरकारी विभाग हों या उद्योग सेट-अप हों। यह देश में मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी के कार्य को भी मजबूत कर रहा है जिससे समग्र रूप से विकास हो रहा है।

बोले- भारतीय रेलवे का कायाकल्प का अभियान चल रहा है

पीएम मोदी ने कहा कि आज देश में भारतीय रेलवे के कायाकल्प का राष्ट्रव्यापी अभियान चल रहा है- वंदे भारत, तेज, हमसफर जैसी आधुनिक ट्रेनें देश में बन रही हैं। विस्टाडोम कोच रेल यात्रियों को नया अनुभव करा रहे हैं। सुरक्षित व आधुनिक कोच की संख्या में रिकॉर्ड वृद्धि हो रही है। रेलवे स्टेशनों को भी एयरपोर्ट्स की तरह विकसित किया जा रहा है। न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन भी इसी लिस्ट में शामिल है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते 8 वर्षों में भारतीय रेलवे ने आधुनिकता की नींव पर काम किया है। अब आने वाले 8 वर्षों में हम भारतीय और भारतीय रेलवे को आधुनिकता की नई यात्रा पर निकलते हुए देखेंगे। उन्होंने कहा कि भारत में 100 से अधिक जलमार्गों का निर्माण किया जा रहा है, और हमारा उद्देश्य आधुनिक क्रूज जहाजों को भारतीय नदियों में प्रवाहित करना है। 13 जनवरी 2023 को एक क्रूज काशी से शुरू होकर 2,300 किलोमीटर का सफर तय कर बांग्लादेश होते हुए डिब्रूगढ़ पहुंचेगा।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

(Alprazolam)

First published on: Dec 30, 2022 12:26 PM
संबंधित खबरें