---विज्ञापन---

Ankita Murder Case: अंकिता के पिता ने की आरोपियों के एनकाउंटर की मांग, डीजीपी ने किया वादा- फांसी दिला कर मानूंगा

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के डीजीपी अशोक कुमार (DGP Ashok Kumar) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल (Twitter) से एक पोस्ट शेयर की। इसमें अंकिता के पिता के साथ फोन पर बातचीत का ऑडियो (Audio) सार्वजनिक किया है। उन्होंने कहा कि वह आरोपियों को फांसी की सजा दिलाएंगे। मामले में किसी भी प्रकार की ढिलाई […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Sep 26, 2022 17:34
Share :

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के डीजीपी अशोक कुमार (DGP Ashok Kumar) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल (Twitter) से एक पोस्ट शेयर की। इसमें अंकिता के पिता के साथ फोन पर बातचीत का ऑडियो (Audio) सार्वजनिक किया है। उन्होंने कहा कि वह आरोपियों को फांसी की सजा दिलाएंगे। मामले में किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं की जाएगी। वहीं बातचीत के दौरान अंकिता के पिता ने आरोपियों के एनकाउंटर (Encounter) की मांग कर दी। इस पर डीजीपी ने वादा किया कि वह आरोपियों को फांसी दिला कर मानेंगे।

बता दें कि 19 वर्षीय अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) ऋषिकेश के एक रिजॉर्ट में काम करती थी। आरोप है कि रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी कथित तौर पर हत्या कर दी। अंकिता के लापता होने के छह दिन बाद शुक्रवार के उसका शव ऋषिकेश के पास चिल्ला नहर से बरामद किया गया था।

अभी पढ़ें PM Modi Japan Visit: आज शाम जापान के लिए रवाना होंगे PM मोदी, शिंजो आबे के स्टेट फ्यूनरल में लेंगे हिस्सा

अंकिता के पिता को आश्वस्त किया

डीजीपी अशोक कुमार ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा कि, ‘पीड़िता अंकिता भंडारी के पिताजी से मैंने फोन पर बात कर उन्हें निष्पक्ष जांच और अभियुक्तों को कड़ी सजा दिलाने के लिए आश्वस्त किया है। दोषियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। प्रकरण की जांच के लिए #UttarakhandPolice DIG पी. रेणुका देवी की अध्यक्षता में SIT गठित की गयी है।

अभी पढ़ें Rajasthan Political Crisis: गहलोत गुट पर खड़गे का बड़ा बयान, बोले- जो भी निर्णय होगा सभी को मानना पड़ेगा

विवेचना इतनी मजबूत होगी कि आरोपियों को फांसी मिले

अंकिता के पिता को फोन पर कहा, मैं आपको व्यक्तिगत तौर पर आश्वस्त करता हूं कि मामले की विवेचना इतनी मजबूत होगी कि न्यायालय में सबूतों को पेश करके आरोपियों को फांसी की सजा दिलाएं। किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि मैंने मामले की जांच के लिए एसआईटी (SIT) का गठन कर दिया है। वहीं सबूत नष्ट करने की बात पर उन्होंने कहा कि हमारे पास पर्याप्त सबूत हैं।

एनकाउंटर पर बोला- कानून अपना काम करेगा

उत्तराखंड डीजीपी से फोन पर बात करने के दौरान अंकिता के पिता ने कहा कि इन आरोपियों का एनकाउंटर होना चाहिए। इस पर डीजीपी ने कहा कि आरोपी गिरफ्तार हैं। कानून अपना काम करेगा। आप आश्वस्त रहे है कि सबूतों के आधार पर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Sep 26, 2022 04:18 PM
संबंधित खबरें