Sunday, September 25, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Pilibhit Crime News: दुष्कर्म के बाद दलित युवती को जिंदा जलाया, मौत से लड़ते हुए 12 दिन बाद लखनऊ में दम तोड़ा

7 सितंबर को वह घर में अकेली थी। तभी दो युवक घर में घुस आए। दुष्कर्म किया। युवती के विरोध करने पर आरोपियों ने डीजल डालकर उसे जिंदा जला दिया।

Pilibhit Crime News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पीलीभीत (Pilibhit) जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां 7 सितंबर को दुष्कर्म के बाद एक दलित युवती पर डीजल डाल कर जिंदा जला दिया गया। युवती को गंभीर हालत में पहले पीलीभीत फिर 10 सितंबर को लखनऊ के केजीएमयू (KGMU) में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान रविवार रात करीब 3 बजे उसकी मौत हो गई। सूचना पर पुलिस में हड़कंप मच गया। युवती के गांव में फोर्स तैनात किया गया है। एसएसपी पीलीभीत ने भी इस बारे में अपना वीडियो बयान जारी किया है।

7 सितंबर को हुई थी वारदात, घर में अकेली थी युवती

जानकारी के मुताबिक घटना पीलीभीत के माधोटांडा इलाके की है। यहां युवती परिवार के साथ रहती थी। 7 सितंबर को वह घर में अकेली थी। उसके पिता खेतों पर गए थे। जबकि मां अपने मायके गई थी। आरोप है कि तभी दो युवक घर में घुस आए। युवती के साथ दुष्कर्म किया। दूसरे युवक ने भी दुष्कर्म का प्रयास किया। वहीं युवती के विरोध करने पर आरोपियों ने डीजल डालकर उसे जिंदा जला दिया। घर में कोई नहीं होने के कारण युवती चिल्लाती रही। मदद नहीं मिली।

पिता घर पहुंचा तो जली हुई मिली थी बेटी

काफी देर बाद जब युवती का पिता घर लौटकर आया तो उसके होश उड़ गए। बेटी जली हुई हालत में बेहोश पड़ी हुई थी। घटना की जानकारी होने पर गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पहले युवती को पीलीभीत के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उसकी हालत गंभीर होने पर पुलिस और परिवार वालों ने लखनऊ के केजीएमयू में भर्ती कराया। वहां उसका इलाज चल रहा था। जानकारी के मुताबिक रविवार रात करीब 3 बजे युवती ने दम तोड़ दिया।

10 सितंबर को पुलिस को दी जानकारीः एसएसपी

युवती की मौत की सूचना पर पीलीभीत पुलिस के होश उड़ गए। तत्काल गांव में फोर्स तैनात की गई है। वहीं पीलीभीत एसएसपी ने बताया कि घटना की जानकारी होते ही संबंधित थाना प्रभारी की ओर से मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी राजवीर और ताराचंद को गिरफ्तार किया गया था। एसएसपी ने बताया कि घटना सात सितंबर की थी। 10 सितंबर को युवती को बर्न इंजरी (जली हुई हालत में) के साथ भर्ती कराया गया था। पुलिस को भी 10 सितंबर को मामले की जानकारी दी गई। एसएसपी ने बताया कि मेरी द्वारा भी घटना स्थल का निरीक्षण किया गया था। मुकदमे में संबंधित धाराएं बढ़ाई जाएंगी।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -