Saturday, December 10, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

मिग-21 विमानों के बार-बार दुर्घटनाग्रस्त होने के बीच भारतीय वायुसेना का बड़ा फैसला, 30 सितंबर तक स्क्वाड्रन होगा सेवा से बाहर

रूसी लड़ाकू विमान मिग-21 के बार-बार दुर्घटनाग्रस्त होने के मामलों के बीच भारतीय वायुसेना ने अहम फैसला लिया है।

नई दिल्ली: रूसी लड़ाकू विमान मिग-21 के बार-बार दुर्घटनाग्रस्त होने के मामलों के बीच भारतीय वायुसेना ने अहम फैसला लिया है। बता दें कि भारतीय वायु सेना 30 सितंबर तक मिग -21 बाइसन विमान के एक और स्क्वाड्रन को सेवानिवृत्त करने जा रही है।

गौरतलब है कि गुरुवार शाम राजस्थान के बाड़मेर में एक मिग-21 टाइप 69 ट्रेनर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें एक युवा फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए बाल और विंग कमांडर राणा सहित दोनों पायलट शहीद हो गए।

और पढ़िए –राष्ट्रपति पर अधीर रंजन की टिप्पणी के बाद द्रौपदी मुर्मू से मिली स्मृति ईरानी

IAF के सूत्रों ने एएनआई को बताया, “श्रीनगर एयरबेस से बाहर स्थित 51 स्क्वाड्रन को 30 सितंबर को रिटायर किया जा रहा है। इसके बाद, विमानों के केवल तीन स्क्वाड्रन सेवा में रह जाएंगे और वर्ष 2025 तक चरणबद्ध हो जाएंगे।” उन्होंने कहा कि अब हर साल इन विमानों में से प्रत्येक पर एक स्क्वाड्रन की नंबर प्लेट जाएगी।

51 स्क्वाड्रन 27 फरवरी, 2019 को भारत पर पाकिस्तान के हवाई हमले को विफल करने और विंग कमांडर (अब ग्रुप कैप्टन) अभिनंदन वर्थमान द्वारा उड़ाए गए एक विमान में F-16 को बाहर निकालने के लिए प्रसिद्ध है।

सूत्रों ने कहा कि यह एकमात्र उदाहरण है जब मिग -21 विमान ने हवा से हवा में लड़ाई में एफ -16 को मार गिराया।
IAF मिग-21 फाइटर जेट्स की जगह Su-30 और स्वदेशी लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) जैसे अधिक सक्षम विमानों से ले रहा है।

और पढ़िए –कर्नाटक में एक और हत्या, युवक को चाकू से गोदा, मंगलुरु में धारा 144 लागू

पिछले 20 महीनों में 6 मिग-21 विमान हादसों में पांच पायलटों की जान चली गई है। मिग-21 को बहुत पहले ही बंद कर दिया जाना था, लेकिन एलसीए तेजस विमान को शामिल करने में देरी ने भारतीय वायुसेना को इन विमानों को उड़ाना जारी रखने के लिए मजबूर किया।

अधिकारियों ने कहा कि भारतीय वायुसेना उड़ान से पहले इन विमानों की व्यापक जांच करती है और पायलट के उड़ान भरने से पहले सभी सुरक्षा पहलुओं का ध्यान रखा जाता है।

अधिकारियों ने कहा कि नंबर प्लेटेड स्क्वाड्रन को निकट भविष्य में अधिक सक्षम विमान के साथ जल्द ही फिर से सक्रिय किया जाएगा।

 

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -