Sunday, 25 February, 2024

---विज्ञापन---

खोलना चाहते हैं अपना बिजनेस? पाएं 10 लाख रुपये तक का लोन, मोदी सरकार की इस योजना में है फायदा ही फायदा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए केंद्र की मुद्रा योजना के तहत अब तक 20 लाख करोड़ रुपये के ऋण वितरित किए गए हैं। महाराष्ट्र सरकार के 75,000 लोगों को रोजगार देने के उद्देश्य के तहत नियुक्ति पत्र वितरित करने के लिए […]

Edited By : Nitin Arora | Updated: Nov 4, 2022 22:10
Share :
Money Tips, jyotish tips, astrology

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए केंद्र की मुद्रा योजना के तहत अब तक 20 लाख करोड़ रुपये के ऋण वितरित किए गए हैं। महाराष्ट्र सरकार के 75,000 लोगों को रोजगार देने के उद्देश्य के तहत नियुक्ति पत्र वितरित करने के लिए यहां एक कार्यक्रम के दौरान प्रसारित एक वीडियो संदेश में मोदी ने कहा कि उनकी सरकार स्टार्ट-अप और सूक्ष्म उद्योगों को भी सहायता प्रदान कर रही है।

अभी पढ़ें – Central Govt Pensioners News: सरकार ने DR बढ़ाया, इन CPF लाभार्थियों के लिए अच्छी खबर

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना
गैर-कॉर्पोरेट, गैर-कृषि लघु/सूक्ष्म उद्यमों को 10 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान करने के लिए मोदी सरकार द्वारा अप्रैल 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) योजना शुरू की गई थी।

यदि आप अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाह रहे हैं, तो मोदी सरकार की यह मुद्रा ऋण योजना आपके लिए ‘गो टू’ विकल्प हो सकती है। मुद्रा ऋण विभिन्न उद्देश्यों के लिए दिया जाता है जिसके परिणामस्वरूप आय सृजन और रोजगार सृजन जैसे विक्रेताओं, व्यापारियों, दुकानदारों और अन्य सेवा क्षेत्र की गतिविधियों के लिए ऋण होता है।

आपको MUDRA Loan कहां से मिल सकता है?

पीएमएमवाई ऋण सदस्य ऋण देने वाली संस्थाओं द्वारा दिए जाते हैं। वहीं, मुद्रा लिमिटेड के साथ पंजीकृत अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक, गैर बैंकिंग वित्त कंपनियां और सूक्ष्म वित्तीय संस्थानों से भी लोन लिया जा सकता है।

अभी पढ़ें Blue Tick फीस के लिए एलन मस्क से सौदेबाजी करता नजर आया Zomato, नेटिजेंस भी कूदे मैदान में

मुद्रा लोन के तहत अपने व्यवसाय के लिए 10 लाख रुपये तक का ऋण प्राप्त करें

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत, बैंकों और सूक्ष्म वित्त संस्थानों (एमएफआई) द्वारा योजना को तीन श्रेणियों में ऋण दिया जाता है:

  • शिशु (50,000 रुपये तक का ऋण)
  • किशोर (50002 रुपये से 5 लाख रुपये तक का ऋण)
  • तरुण (5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक का ऋण)

अभी पढ़ें  बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Nov 04, 2022 03:39 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें