Sunday, January 29, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

इस edtech कंपनी ने भारत के लगभग सभी कर्मचारियों को निकाला, यह बताया कारण

नई दिल्ली: ऑनलाइन कम्युनिटी लर्निंग प्लेटफॉर्म ब्रेनली (Brainly) ने अपनी भारतीय टीम के लगभग सभी टीम सदस्यों सहित वैश्विक स्तर पर कई कर्मचारियों की छंटनी की है। कंपनी की तरफ से रविवार को कहा गया कि कंपनी अपनी भुगतान योजनाओं और उत्पादों को लेकर केंद्रित कुछ भूमिकाओं को बनाए रखने में सक्षम नहीं है।

प्रभावित ब्रेनली कर्मचारियों ने अपनी बात रखने के लिए ट्विटर का सहारा लिया, एक कर्मचारी ने कहा, ‘छंटनी दुखद है, लेकिन इससे भी बदतर यह है कि उन्हें कैसे संभाला जाता है। सीईओ कॉल पर आते हैं – भारत में काम करने वालों को हटा देते हैं और 2 मिनट के भीतर ईमेल बाजी बंद हो जाती हैं, लैपटॉप डिस्कनेक्ट हो जाते हैं। हर कोई हैरान था। और फिर कोई रकम की बात नहीं।’

अभी पढ़ें Business Idea: बस एक बार करें 5 लाख का निवेश और फिर हर महीने पाते रहें 70,000 रुपये, नहीं कोई Risk!

कॉरपोरेट चैट इंडिया ने अपने अकाउंट से एक प्रभावित कर्मचारी का स्क्रीनशॉट ट्वीट किया। कॉरपोरेट चैट इंडिया अकाउंट ने पोस्ट किया, ‘ब्रेनली-इंडिया टीम में चौंकाने वाली छंटनी (150 मिलियन डॉलर से अधिक कमाई की गई)।’

कंपनी के एक प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया कि उन्होंने हाल ही में Brainly.in की रणनीति में बदलाव किया है। कंपनी के प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया, ‘दुर्भाग्य से, हम अपनी भुगतान योजनाओं और उत्पादों को विकसित करने पर केंद्रित कुछ भूमिकाओं को बनाए रखने में सक्षम नहीं थे। इस जानकारी के सार्वजनिक होने से पहले, हमने उन सभी 25 लोगों को प्रस्थान पैकेज की पेशकश की थी जिनकी भूमिका इन परिवर्तनों से प्रभावित हुई थी।’

बचे हुए लोगों पर होगी ये जिम्मेदारी

वहीं, कुछ लोग जो भारत वाली टीम में निकाले नहीं गए हैं। वे शेष सदस्य अब नए लक्ष्यों पर काम करेंगे, भारत में और विकास को लेकर काम करेंगे। बता दें कि पोलैंड स्थित एडटेक प्लेटफॉर्म ब्रेनली का दावा है कि उसके पास 5.5 करोड़ से अधिक भारतीय छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों का उपयोगकर्ता आधार है, जो संदेह निवारण कक्षाओं के माध्यम से सीखने में तेजी लाने के लिए मंच पर भरोसा करते हैं।

अभी पढ़ें Elon Musk: आखिरकार ट्विटर के नए मालिक ने कर दिया अपने मिशन का ऐलान, मस्क ने बताया- अपना फ्यूचर प्लान

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय टीम में लगभग 35 लोग थे, जिनमें ज्यादातर महिलाएं थीं, जिनमें से ज्यादातर बेंगलुरु कार्यालय से बाहर काम कर रही थीं।अमेरिका, रूस, इंडोनेशिया, ब्राजील और लैटिन अमेरिका में भी इनका काम फैले हुआ है।

अभी पढ़ें – बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -