Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

टेक फील्ड में भारत का झंडा बुलंद कर रही है ये एकमात्र वुमन लीडर, 12 अरब डॉलर से ज्यादा की कंपनी की सीईओ

नई दिल्ली: भारतीय महिलाएं अब न सिर्फ अपने पैरों पर खड़ी हो रही हैं, बल्कि बड़े-बड़े बिजनेस को लीड कर रही हैं। ऐसी महिलाएं आज दुनियाभर की लड़कियों की प्रेरणा बन चुकी हैं। रोशनी नादर मल्होत्रा एक ऐसी ही महिला हैं। वह एक सफल बिजनेसवुमन और रोल मॉडल हैं। पिता के नक्शेकदम पर बेटी  रोशनी […]

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Aug 1, 2023 14:10
Share :
Roshni Nadar Malhotra
Roshni Nadar Malhotra

नई दिल्ली: भारतीय महिलाएं अब न सिर्फ अपने पैरों पर खड़ी हो रही हैं, बल्कि बड़े-बड़े बिजनेस को लीड कर रही हैं। ऐसी महिलाएं आज दुनियाभर की लड़कियों की प्रेरणा बन चुकी हैं। रोशनी नादर मल्होत्रा एक ऐसी ही महिला हैं। वह एक सफल बिजनेसवुमन और रोल मॉडल हैं।

पिता के नक्शेकदम पर बेटी 

रोशनी नादर मल्होत्रा का जन्म बिजनेस फैमिली में हुआ था। उनके पिता शिव नादर जाने-माने बिजनेसमैन हैं। उन्होंने 1976 में एचसीएल टेक्नोलॉजीज की स्थापना की थी। फाइनेंशियल एक्सप्रेस के अनुसार, रोशनी छोटी उम्र से ही अपने पिता के नक्शेकदम पर चलना चाहती थीं। इसके लिए उन्होंने पहले अपनी जमीन तैयार की। अच्छी शिक्षा के साथ उन्होंने इसकी नॉलेज हासिल कर सफलता की सीढ़ियां बना लीं।

रोशनी ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र की पढ़ाई की। उन्होंने नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट से एमबीए किया। ग्रेजुएट होने के बाद उन्होंने एचसीएल टेक्नोलॉजी जॉइन कर ली। फिर उन्होंने अपने हुनर का लोहा मनवाते हुए कंपनी की ग्रोथ में भूमिका निभाई। उन्हें 2009 में एचसीएल कॉरपोरेशन का एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर और सीईओ नियुक्त किया गया। वह 2019 में एचसीएल टेक्नोलॉजीज की चेयरपर्सन बनीं।

 

और पढ़िए – आंकड़ा आते ही झूम उठे केंद्रीय कर्मचारी, सैलरी में आएगी बड़ी उछाल!

 

कंपनी का मार्केट कैपिटलाइजेशन 12 अरब डॉलर 

41 साल की रोशनी नादर मल्होत्रा एचसीएल टेक्नोलॉजीज की सीईओ हैं। एचसीएल आईटी कंसल्टेंसी और सर्विसेज की प्रमुख कंपनी है, इसका हेडक्वार्टर भारत में है। वह कंपनी के सभी रणनीतिक मामलों को देखती हैं। कंपनी का मार्केट कैपिटलाइजेशन 12 अरब डॉलर है। कंपनी ने आईटी हब के रूप में भारत के लिए बड़ी भूमिका निभाई है। मल्होत्रा ने करीब तीन साल पहले जुलाई 2020 में एचसीएल चेयरपर्सन का पद संभाला था।

समाज सेवा में भी आगे 

शिव नादर फाउंडेशन शिक्षा को भी प्राथमिकता देता है। मल्होत्रा इसमें एक ट्रस्टी के रूप में शामिल हैं। फोर्ब्स के अनुसार, संगठन ने भारत में कुछ बेहतरीन कॉलेजों और स्कूलों की स्थापना की है। एचसीएलटेक की चेयरपर्सन रोशनी नादर मल्होत्रा को समाज में उनके योगदान के लिए केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट के शेफनर अवार्ड से सम्मानित किया गया था। उन्होंने बिजनेसवायर्स के हवाले से कहा- केलॉग के प्रति मेरी कृतज्ञता इस पुरस्कार से कहीं अधिक है। यहीं पर मुझे कई चीजें पहली बार सीखने को मिलीं। चाहे वह इंटरनेशनल फाइनेंस हो, सोशल एंटरप्रेन्योरशिप या मैनेजमेंट कम्यूनिकशन, ये सब आज भी मुझे पेशेवर रूप से आकार दे रहा है। मैं इस बात के लिए उत्सुक हूं कि मैं भविष्य में केलॉग के साथ और अधिक कैसे जुड़ सकती हूं।

 

और पढ़िए – कम समय में आपका पैसा हो जाएगा दोगुना, जानिए- कितने साल का है ये प्लान

 

भारतीय आईटी मेजर की एकमात्र महिला लीडर 

रोशनी नादर मल्होत्रा किसी भारतीय आईटी प्रमुख का नेतृत्व करने वाली एकमात्र महिला हैं। कोविड-19 महामारी और यूक्रेन में युद्ध से बढ़ीं चुनौतियों पर काबू पाने के बाद नादर एचसीएल टेक्नोलॉजीज की सफलता का श्रेय सीईओ और प्रबंध निदेशक सी. विजयकुमार के नेतृत्व वाली अपनी मजबूत और अनुभवी टीम को देती हैं। उन्होंने कहा कि विजयकुमार न्यूयॉर्क से कंपनी का काम देखते हैं। जहां से 60% कारोबार आता है।

एचसीएल टेक्नोलॉजीज लिमिटेड (एचसीएल) के बारे में 

एचसीएल टेक्नोलॉजीज लिमिटेड (एचसीएल) सॉफ्टवेयर और आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर से रिलेटेड सर्विसेज देती है। कंपनी इंडस्ट्री सॉफ्टवेयर, इंजीनियरिंग और आर एंड डी, साइबर सिक्योरिटी, क्लाउड नेटिव, डिजिटल और एनालिटिक्स, DRYiCE, IoT, HCL सॉफ्टवेयर, SIAM/XaaS प्रोडक्ट और एडवांस सर्विसेज के लिए काम करती है।

First published on: Jul 30, 2023 04:45 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें