Tuesday, October 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

ईरान में ‘हिजाब क्रांति’, सड़कों पर उतरीं महिलाओं के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई, फायरिंग में 3 की मौत

नई दिल्ली: ईरान में हिजाब के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन अब उग्र होता जा रहा है। सड़कों पर उतरकर महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। इस बीच कुर्दिस्तान में सुरक्षा बलों की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हुई है। महसा अमीनी नाम की 22 साल की युवती की पुलिस हिरासत में तबीयत बिगड़ने से मौत हो गई थी। जिसके बाद आंदोलन और तेज हो गया है।

अपने बाल कटा रही हैं महिलाएं

तेहरान में अशांति अब दूसरे स्तर पर पहुंच गई है जब राजधानी में एक महिला द्वारा सार्वजनिक रूप से अपने बाल काटने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। यह देखते ही सोशल मीडिया पर कई महिलाओं ने अपने बालों को काटने और अपने हिजाब में आग लगाने के वीडियो अपलोड करना शुरू कर दिया। बता दें कि ईरान में महिलाओं के लिए कड़ा ड्रेस कोड लागू है। ये पाबंदियां 1979 की ईरानी क्रांति के बाद लागू की गई थीं। हालांकि 40 साल पहले अन्य देशों की तरह ही ईरान में भी महिलाओं को काफी आजादी थी।

अभी पढ़ें तालिबान जल्द ही PUBG और TikTok पर लगाएगा प्रतिबंध, कहा- ये युवा पीढ़ी को कर रहे गुमराह

तेहरान में सकड़ों पर भारी संख्या में प्रदर्शनकारी जुटे, जिसे हटान के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे थे। ईरानी न्यूज इरना के मुताबिक कुर्दिस्तान में पुलिस की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई है।

22 साल की महिला महसा अमिनी की मौत के बाद ईरान में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। ईरानी महिलाएं सार्वजनिक रूप से अपने हिजाब को हटाकर जला रही हैं। सुश्री अमिनी को ईरान की “नैतिकता पुलिस” ने “गलत तरीके से” हिजाब पहनने के लिए गिरफ्तार किया था क्योंकि उसने अपने बालों को पूरी तरह से ढका नहीं था।

 

अभी पढ़ें इंग्लैंड में दुर्गा मंदिर के बाहर भीड़ ने लगाए ‘अल्लाह हू अकबर’ के नारे, देखें वीडियो

महसा अमिनी की मौत के बाद भड़की हिंसा

22 साल की महसा अमिनी अपने परिवार के साथ किसी टूर पर थी। इस दौरान हिजाब न पहनने पर मंगलवार को स्थानीय पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। कहा जा रहा है कि अमिनी की पुलिस ने पिटाई की जिसके बाद वे कोमा में चली गई और शुक्रवार को उसने दम तोड़ दिया। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, 22 साल की महसा अमिनी अपने परिवार के साथ किसी टूर पर थी। इस दौरान हिजाब न पहनने पर मंगलवार को स्थानीय पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। पिटाई के बाद वे कोमा में चली गई और शुक्रवार को उनकी मृत्यु हो गई। इसके विरोध में ईरान के महिलाएं अपने बाल काट कर विरोध जता रही हैं।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -