Tuesday, November 29, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

‘लड़ने और जीतने के लिए चीनी सेना तेज करेगी मिलिट्री ड्रील’, कम्युनिस्ट पार्टी की बैठक में बोले जिनपिंग

 Xi Jinping: शी जिनपिंग ने कहा कि पीएलए संयुक्त बल प्रशिक्षण और उच्च तकनीक प्रशिक्षण पर जोर देगा। साथ ही युद्ध की परिस्थितियों में सैन्य प्रशिक्षण को मजबूत करेगा।

 Xi Jinping: चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि लड़ने और जीतने के लिए देश की सेना सैन्य प्रशिक्षण को तेज करेगी। सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की पांच साल में एक बार होने वाली बैठक रविवार को बीजिंग में शुरू हुई है। बैठक में चीनी राष्ट्रपति ने कहा कि हम सैन्य प्रशिक्षण को तेज करेंगे और युद्ध की तैयारियों को बढ़ाएंगे ताकि हमारी सेना लड़ सकें और जीत सकें।

अभी पढ़ें World News: 16 अक्टूबर को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 20 वीं राष्ट्रीय बैठक, जानें इसके मायने  

शी जिनपिंग ने अपनी 63 पेज की कार्य रिपोर्ट पेश करते हुए सेना पर एक स्पेशल सेक्शन का उल्लेख किया जिसका शीर्षक ‘पीएलए के केंद्रीय लक्ष्य को प्राप्त करना, राष्ट्रीय रक्षा और सेना का आधुनिकीकरण करना’ था। बता दें कि चीनी राष्ट्रपति केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के प्रमुख हैं।

चीनी राष्ट्रपति ने कहा कि हम कमांड सिस्टम में सुधार करेंगे। उन्होंने कहा कि पीएलए संयुक्त बल प्रशिक्षण और उच्च तकनीक प्रशिक्षण पर जोर देगा। साथ ही युद्ध की परिस्थितियों में सैन्य प्रशिक्षण को मजबूत करेगा।

चीनी राष्ट्रपति बोले- संघर्ष कर स्थानीय युद्ध जीतेंगे

उन्होंने कहा कि हम अपने सैन्य बलों को नियमित आधार पर और विविध तरीकों से तैनात करने में अधिक कुशल हो जाएंगे और हमारी सेना अपने अभियानों को अंजाम देने के लिए दृढ़ और लचीली बनी रहेगी। यह हमें अपनी सुरक्षा को आकार देने, संकटों को दूर करने सक्षम बनेंगे और संघर्ष कर स्थानीय युद्ध जीतेंगे।

चीनी राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि सैन्य विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में नए प्रकार के सैन्य कर्मियों के प्रशिक्षण की एक मजबूत प्रणाली बनाने और सैन्य मानव संसाधनों के प्रबंधन के नए तरीके विकसित करने के लिए सुधार किए जाएंगे।

अभी पढ़ें ताइवान की राष्ट्रपति ने चीन को चेतावनी, कहा- युद्ध का सहारा लेना क्रॉस-स्ट्रेट संबंधों का विकल्प नहीं

विवादित दक्षिण चीन सागर पर दावा करता है चीन

बता दें कि चीन विवादित दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है, हालांकि ताइवान, फिलीपींस, ब्रुनेई, मलेशिया और वियतनाम सभी देश भी कुछ हिस्सों पर अपना दावा करते हैं। चीन ने दक्षिण चीन सागर में कृत्रिम द्वीप और सैन्य प्रतिष्ठान बनाए हैं। पूर्वी चीन सागर में चीन का जापान के साथ क्षेत्रीय विवाद भी है।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -