Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

नौकरी में प्रमोशन नहीं दिया तो बॉस को पूरे परिवार के साथ मार डाला, 8 साल बाद आरोपी अरेस्ट

आरोपी फैंग ने जांचकर्ताओं से कहा था कि वह इस घटना को लेकर माओ से नाराज था, लेकिन हत्याओं में उसकी कोई भूमिका होने से इनकार करता रहा।

नई दिल्ली: नौकरी में प्रमोशन न मिलने से नाराज एक युवक ने बॉस समेत उनके पूरे परिवार की हत्या कर दी। आठ साल बाद पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट किया है। मामला अमेरिका का ह्यूस्टन का है। ह्यूस्टन क्रॉनिकल के अनुसार, आरोपी फेंग लू चीन का रहने वाला है। उसे 11 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी ने 30 जनवरी 2014 को बॉस और उनके पूरे परिवार की हत्या की थी। आरोपी ने अपने बॉस माओय सन, उनकी पत्नी मेईक्सी सन, उनकी बेटी टिमोथी सन और बेटे टाइटस सन की गोली मारकर हत्या की थी।आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने हत्या के कारणों का भी खुलासा कर दिया है।

अभी पढ़ें 42 बिलियन अमेरीकी डालर है ब्रिटिश शाही परिवार की दौलत, जानें किंग चार्ल्स के राजा बनने पर बढ़ा किसका कद

दूसरे विभाग में ट्रांसफर भी चाहता था आरोपी

पुलिस ने कहा कि 58 साल का फेंग लू ने हत्या के पीछे के कारणों के बारे में बताया कि माओय ने उसे प्रमोट नहीं किया था, इसलिए उसने परिवार समेत माओय की हत्या कर दी। पुलिस की ओर से दायर अदालती दस्तावेजों के अनुसार, फेंग कंपनी के अनुसंधान और विकास विभाग में ट्रांसफर चाहता था।

अगले दिन जब फेंग लू ऑफिस पहुंचा तो अपने सहकर्मियों का अजीब व्यवहार देखा और उसे संदेह हुआ कि उसके बॉस माओय ने उसके बारे में कुछ अपमानजनक कहा है। ह्यूस्टन क्रॉनिकल द्वारा प्राप्त दस्तावेजों के अनुसार, आरोपी को लगा कि शायद इसी कारण उसे प्रमोशन नहीं मिला है।

अभी पढ़ें भारत ने इस वर्ष श्रीलंका को दी 4 बिलियन अमरीकी डालर की मदद

आरोपी की पत्नी ने जांचकर्ताओं को दी ये जानकारी

हत्या के बाद आरोपी की पत्नी ने जांचकर्ताओं को बताया कि फेंग का माओय से प्रमोशन को लेकर विवाद था। जांचकर्ताओं द्वारा उसे बताए जाने के बाद कि फैंग ने एक बन्दूक खरीदी है, उसने इसके बारे में किसी भी तरह की जानकारी से इनकार किया।

उधर, आरोपी फैंग ने जांचकर्ताओं से कहा था कि वह इस घटना को लेकर माओ से नाराज था, लेकिन हत्याओं में उसकी कोई भूमिका होने से इनकार करता रहा।

द डेली बीस्ट ने बताया कि फोरेंसिक टीम को माओय के परिवार के घर से डीएनए के कुछ नमूने जुटाए थे। ये नमूने फेंग से मेल खाते थे, लेकिन जब तक नतीजे आए, तब तक वह चीन वापस लौट चुका था। जांचकर्ताओं ने सोचा कि वे कभी भी फेंग को गिरफ्तार नहीं कर पाएंगे, लेकिन हाल ही में पुलिस को जानकारी मिली कि आरोपी फेंग किसी काम से यहां आया है तो उसे पुलिस ने अरेस्ट कर लिया।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -