Thursday, September 29, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Iran: हिजाब न पहनने की इतनी खौफनाक सजा, पुलिस की पिटाई से कोमा में गई 22 साल की अमिनी की मौत

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा कि जिन परिस्थितियों में 22 साल की महसा अमिनी की हिरासत में संदिग्ध मौत हुई है, उसकी जांच होनी चाहिए।

नई दिल्ली: हिजाब न पहनने की पुलिस ने एक युवती को इतनी खौफनाक सजा दी कि उसकी मौत हो गई। 22 साल की महसा अमिनी की मौत के बाद उनके परिजन ने मौत के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

बताया जा रहा है कि 22 साल की महसा अमिनी अपने परिवार के साथ किसी टूर पर थी। इस दौरान हिजाब न पहनने पर मंगलवार को स्थानीय पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। कहा जा रहा है कि अमिनी की पुलिस ने पिटाई की जिसके बाद वे कोमा में चली गई और शुक्रवार को उसने दम तोड़ दिया।

अभी पढ़ें चीन की इमारत में लगी भीषण आग, विचलित करने वाला Video आया सामने

अमिनी की मौत के बाद फारसी भाषा के मीडिया ने उसके परिवार के हवाले से कहा है कि जब अमिनी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था तब वो स्वस्थ थी लेकिन गिरफ्तारी के कुछ घंटों बाद अमिनी को कोमा में अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसकी मौत हो गई।

अभी पढ़ें एक थी रानी! दोपहर बाद दी जाएगी क्वीन एलिज़ाबेथ II को अंतिम विदाई

उसके थाने पहुंचने और अस्पताल जाने के बीच क्या हुआ यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। एक स्थानीय चैनल का दावा है कि अमिनी के सिर में चोट लगी थी। उधर, अमिनी की मौत की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अस्पताल के बाहर भीड़ जमा हो गई। कुछ लोगों ने अस्पताल के बाहर सरकार विरोधी नारे भी लगाए।

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा कि जिन परिस्थितियों में 22 साल की महसा अमिनी की हिरासत में संदिग्ध मौत हुई है, उसकी जांच होनी चाहिए। कहा गया है तेहरान पुलिस ने हिजाब न पहनने पर उसे गिरफ्तार कर लिया था और तीन दिन बाद अमिनी की मौत हो गई। जिम्मेदार अधिकारियों को न्याय का सामना करना चाहिए।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -