---विज्ञापन---

Noida News: मेट्रो एक्वा लाइन विस्तार पर हुई अहम बैठक, जानें ज्यादा से ज्यादा कनेक्टिविटी का क्या है प्लान

Noida News: नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Noida Metro Rail Corporation) के शीर्ष अधिकारियों ने शनिवार को सेक्टर-142 से बॉटनिकल गार्डन के बीच प्रस्तावित मेट्रो की एक्वा लाइन विस्तार (aqua line extension) के मार्ग पर चर्चा करने के लिए यहां की आरडब्ल्यूए के निवासियों, ग्रामीणों के प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात की। NMRC की 29.71 किलोमीटर लंबी […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Sep 18, 2022 14:01
Share :

Noida News: नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Noida Metro Rail Corporation) के शीर्ष अधिकारियों ने शनिवार को सेक्टर-142 से बॉटनिकल गार्डन के बीच प्रस्तावित मेट्रो की एक्वा लाइन विस्तार (aqua line extension) के मार्ग पर चर्चा करने के लिए यहां की आरडब्ल्यूए के निवासियों, ग्रामीणों के प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात की। NMRC की 29.71 किलोमीटर लंबी एक्वा लाइन पर सेक्टर-142 मेट्रो स्टेशन स्थित है। जबकि बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन (Botanical Garden Metro Station) दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) की ब्लू लाइन पर स्थित है। वहीं प्रस्तावित 11 किलोमीटर का मेट्रो लिंक नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के साथ औद्योगिक और आवासीय क्षेत्रों को कनेक्टिविटी देगा।

NCR का पहला इंटरचेंज स्टेशन है बॉटेनिकल गार्डन

रिपोर्ट्स के मुताबिक बॉटनिकल गार्डन स्टेशन एनसीआर के पहले इंटरचेंज स्टेशन के रूप में भी काम करता है, जो यात्रियों को ब्लू लाइन (नोएडा सिटी सेंटर से द्वारका सेक्टर-21) और जनकपुरी वेस्ट-बॉटनिकल गार्डन कॉरिडोर से जोड़ता है। इस बैठक की अध्यक्षता एनएमआरसी की अध्यक्ष रितु माहेश्वरी ने की। बता दें कि रितु माहेश्वरी नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) भी हैं। सेक्टर-142 से बॉटनिकल गार्डन तक एक्वा लाइन मेट्रो विस्तार के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की गई है।

तीन रूटों पर हुई चर्चा, विकल्प-2 के आए ज्यादा सुझाव

NMRC के अधिकारियों ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण, NMRC और DMRC के अधिकारियों की ओर से मार्ग की समीक्षा की गई, जिसमें लोगों को बेहतर कनेक्टिविटी देने के लिए कई विकल्प सुझाए गए। इन्हें शनिवार की बैठक में मौजूद लोगों के साथ चर्चा में शामिल किया गया। इस दौरान मार्ग के तीन विकल्पों पर चर्चा की गई। पहला विकल्प नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के साथ सेक्टर-91, सेक्टर-98, सेक्टर-97, सेक्टर-125 और बॉटनिकल गार्डन स्टेशन है। दूसरे विकल्प में पंचशील बालक इंटर कॉलेज, सेक्टर-93, सेक्टर-108/105, सेक्टर-104/98, सेक्टर-45/44 और बॉटनिकल गार्डन में स्टेशन होंगे। वहीं तीसरे विकल्प में पंचशील बालक इंटर कॉलेज, सेक्टर-93, जनपथ मार्ग, सेक्टर-104/98, सेक्टर-45/44 और बॉटनिकल गार्डन में स्टेशन होंगे।

ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिलेगी कनेक्टिविटी

बैठक में मौजूद अधिकतर लोगों की ओर से राय दी गई है कि रूट विकल्प दो कनेक्टिंग सेक्टर-93, 108, 105, 104, 100, 98, 45, 44 सबसे अधिक फायदेमंद होगा। हालांकि कुछ लोगों की राय है कि सेक्टर-91, 98, 97, 125 (एक्सप्रेसवे के साथ) को कवर करने वाला विकल्प बेहतर होगा। हाजीपुर के ग्रामीण भी विकल्प दो के पक्ष में हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रस्तावित मार्ग तकनीकी और वित्तीय व्यवहारिकता की जांच के लिए डीएमआरसी को भेजा जाएगा, ताकि जल्द से जल्द अंतिम निर्णय लिया जा सके। फेडरेशन ऑफ नोएडा रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन (एफओएनआरडब्ल्यूए) के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा ने कहा कि विकल्प दो से अधिक यात्रियों को मदद मिलेगी।

First published on: Sep 18, 2022 02:01 PM
संबंधित खबरें