Tuesday, December 6, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Agra News: एनकाउंटर में खनन माफिया को लगी गोलियां, 4 सिपाहियों ने खून देकर बचाई उसकी जान

खेरागढ़ सीओ महेश कुमार ने बताया कि पकड़े गए खनन माफिया की पहचान आकाश गुर्जर निवासी मुरैना (मध्य प्रदेश) के रूप में हुई है।

Agra News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा (Agra) जिले में एक अजीबोगरीब, लेकिन मानवता से भरा मामला सामने आया है। यहां काफी देर तक चले पुलिस एनकाउंटर (Police Encounter) के बाद एक खनन माफिया (Mining mafia) को पकड़ा गया है। एनकाउंटर में इस माफिया को दो गोली लगीं। गोली लगने से माफिया के शरीर से काफी ज्यादा खून बह गया। उसकी हालत बिगड़ गई। इस पर चार सिपाहियों ने ब्लड डोनेट (Blood donate) करके माफिया की जान बचाई है। पुलिस के इस कदम की चारों ओर चर्चाएं हो रही हैं।

पुलिस और माफिया की हुई थी मुठभेड़

मामला आगरा जिले की मध्य प्रदेश सीमा से लगे थाना इरादतनगर क्षेत्र का है। सूचना के बाद मंगलवार को पुलिस ने चंबल से अवैध खनन कर रहे माफिया पर कार्रवाई की। मौके पर पुलिस ने देखा कि करीब एक दर्जन ट्रैक्टरों से खनन हो रहा है। पुलिस ने घेराबंदी की। खुद को घिरता हुआ देख खनन माफिया ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। सूत्रों के मुताबिक दोनों ओर ताबड़तोड़ फायरिंग हुई। पूरा इलाका गोलियों की आवाज से दहल गया।

अभी पढ़ें दिल्ली वक्फ बोर्ड भ्रष्टाचार मामले में AAP के विधायक अमानतुल्लाह खान को मिली जमानत

माफिया आकाश गुर्जर को लगी गोली

इस कार्रवाई में खनन करके भाग रहे एक ट्रैक्टर चालक को दो गोलियां लगीं। वह सीधे ट्रैक्टर से नीचे आ गिरा। पुलिस ने उसे तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया। आगरा के खेरागढ़ सर्किल ऑफिसर महेश कुमार ने बताया कि पकड़े गए खनन माफिया की पहचान आकाश गुर्जर निवासी मुरैना (मध्य प्रदेश) के रूप में हुई है। अधिकारी ने बताया कि वह चंबल नदी से खनन करके भाग रहा था। उसे दो गोलियां लगी है। जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अभी पढ़ें Chhattisgarh: MBBS की 17 छात्राओं को चूहों ने काटा, शिकायत के बाद भी नहीं जागा प्रबंधन

गोली लगने पर बह गया ज्यादा खून

वहीं ताजा जानकारी के मुताबिक दो गोली लगने से घायल हुए खनन माफिया आकाश की तबीयत बिगड़ रही है। शरीर से अत्यधिक खून बहने के कारण डॉक्टरों ने चिंता जताई। इस पर आगरा पुलिस के चार सिपाहियों ने खून देकर उसकी जान बचाई है। आगरा समेत पूरे प्रदेश के पुलिस महकमे में इस बात की चर्चाएं हो रही हैं। पुलिस का मानवता भरा चेहरा सामने आया है। बता दें कि चंबल नदी से उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश राज्यों के सीमावर्ती इलाके से भारी मात्रा में खनन होता है।

सैंया टोल से 35 सेकेंड में भागे थे 13 ट्रैक्टर

बता दें कि सितंबर की शुरुआत में आगरा जिले के ही सैंया टोल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस वीडियो में देखा गया था कि अवैध खनन करके भाग से करीब 13 ट्रैक्टरों ने टोल का बैरियर तोड़ दिया था। महज 35 सेकेंड में तेज रफ्तार से 13 ट्रैक्टर निकले थे। टोल के सीसीटीवी कैमरे में यह पूरी वारदात कैद हुई थी। इसके बाद टोल मैनेजर ने सैंया थाने में अज्ञात ट्रैक्टर चालकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें  

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -