Tuesday, December 6, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Viral Video: फीस नहीं आई तो बच्चों को दिनभर स्कूल में खड़ा रखा, रोते रहे मासूम, भाजपा सांसद बोले- मानवता न भूलें निजी स्कूल

एसडीएम उदित नारायण सेंगर ने बताया कि अभी उनके पास कोई पीड़ित शिकायत लेकर नहीं आया है। शिकायत आने पर कार्रवाई की जाएगी।

Viral Video: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले से एक दर्दभरा वीडियो (Viral Video) सामने आया है। यहां एक निजी स्कूल प्रबंधन ने एक महीने की फीस जमा न होने पर करीब 12 बच्चों को दिनभर स्कूल में खड़ा रखा। उन्हें अर्द्धवार्षिक परीक्षा भी नहीं देने दी। बच्चे खड़े-खड़े रोते रहे। अब इन बच्चों का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वहीं एसडीएम ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

रोते बच्चों को देखकर भी नहीं पसीजा दिल

घटना उन्नाव जिले की है। यहां के कस्बा टोला में एक निजी स्कूल है। आरोप है कि स्कूल प्रबंधन ने 12 बच्चों को अर्द्धवार्षिक परीक्षा में इसलिए नहीं बैठने दिया, क्योंकि उनकी एक माह की फीस जमा नहीं हुई थी। स्कूल प्रबंधन की ज्यादती यहीं नहीं थमी। बच्चों को पूरे दिन स्कूल में खड़ा रखा। बच्चे भूखे-प्यासे रोते रहे। बच्चों ने स्कूल टीचर से कहा कि पापा आज फीस लेकर आएंगे, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने बच्चों की एक नहीं सुनी।

अभी पढ़ें Viral Video: ‘तुझसे ज्यादा समझदार तो मेरा कुत्ता है… बेमतलब चिल्ला रहा है’, मां-बेटी कुछ इसी तरह दे रही हैं धौंस

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

वहीं स्कूल से बाहर निकले रोते हुए बच्चों को देख लोगों के होश उड़ गए। वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने एक बच्ची से पूछा कि आप रो क्यों रहे हो। तब बच्ची ने बताया कि स्कूल वालों ने फीस जमा नहीं होने पर परीक्षा नहीं देने दी। स्कूल में खड़ा रखा। व्यक्ति ने बच्चों का वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर जारी किया है।

बीएसए ने दिए जांच के आदेश

घटना की जानकारी होने के बाद अभिभावकों ने जिलाधिकारी से मुलाकात करने की कोशिश की, लेकिन वह मिल नहीं सके। वहीं एसडीएम उदित नारायण सेंगर ने बताया कि अभी उनके पास कोई पीड़ित शिकायत लेकर नहीं आया है। शिकायत आने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं बीएसए संजय तिवारी ने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी को मौके पर भेज कर मामले की जांच कराई जाएगी।

अभी पढ़ें शराबी पति ने घर खर्च के लिए पैसे मांगने पर पत्नी की बेरहमी से पिटाई, मामला दर्ज

सांसद वरुण गांधी ने किया ट्वीट

वहीं भाजपा सांसद वरुण गांधी ने भी इस मामले में तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह वीडियो पोस्ट किया। साथ में लिखा, ‘इस बेटी के आंसू उन लाखों बच्चों की संयुक्त पीड़ा बता रहे हैं, जिन्हें फीस न जमा होने के कारण उपहास झेलना पड़ता है। आर्थिक तंगी बच्चों की शिक्षा में रोड़ा ना बने, यह हर जिले के अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की नैतिक जिम्मेदारी है। निजी संस्थान मानवता न भूलें, शिक्षा व्यापार नहीं है।’

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -