---विज्ञापन---

रितेश पांडेय कौन हैं, जिन्होंने मायावती पर गंभीर आरोप लगाते हुए BSP से दिया इस्तीफा

Ritesh Pandey Resigns: लोकसभा चुनाव से पहले बसपा को बड़ा झटका लगा है। सांसद रितेश पांडेय ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। रितेश अंबेडकरनगर से सांसद हैं।

Edited By : Achyut Kumar | Updated: Feb 25, 2024 13:15
Share :
1 / 1 – Ritesh Pandey Resigns from BSP
रितेश पांडेय ने बसपा से दिया इस्तीफा

BSP MP Ritesh Pandey Resigns : लोकसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती को बड़ा झटका लगा है। अंबेडकरनगर से सांसद रितेश पांडेय ने 25 फरवरी यानी आज पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने मायावती को भेजे पत्र में आरोप लगाया है कि उन्हें आलाकमान के द्वारा नजर अंदाज किया जा रहा था। उन्होंने बातचीत के कई प्रयास किए, लेकिन असफल रहे। माना जा रहा है कि रितेश अब बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। उनके आज ही पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने की संभावना है।

मायावती को भेजे पत्र में रितेश ने क्या लिखा?

मायावती को भेजे अपने पत्र में रितेश पांडेय ने लिखा कि सार्वजनिक जीवन में बसपा के माध्यम से जब से मैंने प्रवेश किया, आपका मार्गदर्शन और पार्टी पदाधिकारियों का सहयोग मिला। पार्टी के जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं ने मुझे हर कदम पर अंगुली पकड़कर राजनीति और समाज के गलियारे में चलना सिखाया। बसपा ने मुझे उत्तर प्रदेश विधानसभा और लोकसभा में प्रतिनिधित्व करने का अवसर प्रदान किया। पार्टी ने मुझे लोकसभा में संसदीय दल के नेता रूप में कार्य का अवसर भी दिया। इस विश्वास के लिए में बसपा, पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के प्रति हृदय की गहराइयों से आभार व्यक्त करता हूं।

यह भी पढ़ें: यूपी में अनुप्रिया, संजय निषाद और राजभर से बराबरी करते दिख सकते हैं स्वामी प्रसाद मौर्य

‘मुझे पार्टी की बैठकों में नहीं बुलाया जा रहा था’

रितेश ने कहा कि लंबे समय से मुझे न तो पार्टी की बैठकों में बुलाया जा रहा है और न ही नेतृत्व के स्तर पर संवाद किया जा रहा है। मैंने आपसे और शीर्ष पदाधिकारियों से  मिलने के लिए अनगिनत प्रयास किये, लेकिन उनका कोई परिणाम नहीं निकला। इस अंतराल में में अपने क्षेत्र में और अन्य जगहों पर भी पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों से निरंतर मिलता-जुलता रहा और क्षेत्र के कार्यों में जुटा रहा।

‘त्यागपत्र देने के अलावा मेरे पास कोई विकल्प नहीं है’

रितेश पांडेय ने कहा कि ऐसे में में इस निष्कर्ष पर पहुंचा हूं कि पार्टी को मेरी सेवा और उपस्थिति की अब आवश्यकता नहीं रही। इसलिए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र देने के अलावा मेरे समक्ष कोई विकल्प नहीं है। पार्टी से नाता तोड़ने का यह निर्णय भावनात्मक रूप से एक कठिन निर्णय है। मैं इस पत्र के माध्यम से बहुजन समाज पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र देता हूं। आपसे आग्रह है कि मेरे इस त्यागपत्र को अविलंब स्वीकार किया जाए।

कौन हैं रितेश पांडेय?

रितेश पांडेय बसपा के लोकप्रिय नेता थे। वे जलालपुर से विधायक भी रह चुके है। वे 2019 में भाजपा के मुकुट बिहारी को हराकर लोकसभा पहुंचे थे। वे पार्लियामेंट्री बिजनेस सर्वे में देश के 539 सांसदों में से 19 वें स्थान पर थे। वे टॉप-20 में शामिल होने वाले सबसे कम उम्र के सांसद हैं। उनका जन्म 3 अप्रैल 1981 को लखनऊ में हुआ था। उन्होंने लंदन के यूरोपियन बिजनेस स्कूल से इंटरनेशनल बिजनेस मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन किया है।

यह भी पढ़ें: UP Police Bharti परीक्षा निरस्त, STF को सौंपी गई जांच; CM योगी बोले- आरोपी बख्शे नहीं जाएंगे

First published on: Feb 25, 2024 11:51 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें