---विज्ञापन---

कौन हैं आकाश आनंद? जिसे मायावती ने बनाया अपना उत्तराधिकारी, जानें बसपा सुप्रीमो ने क्यों उठाया ये कदम

Uttar Pradesh News : आकाश आनंद कौन हैं, जिसे बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपना ने अपना उत्तराधिकारी नियुक्त किया है।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 10, 2023 13:31
Share :
Akash Anand BSP Supremo Mayawati
बसपा सुप्रीमो मायावती ने भतीजे आकाश आनंद के प्रति सख्त रवैया अपनाया हुआ है।

Uttar Pradesh News : बहुजन समाज पार्टी (BSP) की सुप्रीमो का उत्तराधिकारी तय हो गया है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने इसका ऐलान किया है। लखनऊ में रविवार को हुई बसपा की बैठक में उन्होंने कहा कि अब आकाश आनंद उनके उत्तराधिकारी होंगे। आकाश आनंद मायावती के भतीजे हैं। आइये जानते हैं कि कौन हैं आकाश आनंद और क्यों बसपा सुप्रीमो ने यह कदम उठाया है।

लोकसभा चुनाव हो या विधानसभा चुनाव दोनों में बहुजन समाज पार्टी (BSP) का कोई खास प्रदर्शन नहीं रहा। यूपी में सबसे ज्यादा एक्टिव रहने वाली पार्टी बसपा को 2022 के विधानसभा चुनाव में सिर्फ एक ही सीट पर जीत मिली थी। ऐसे में अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव 2024 में पार्टी को मजबूत और नयापन देने के लिए मायावती ने अपने उत्तराधिकारी का ऐलान किया है। लखनऊ में पार्टी की बैठक में बुलाए गए सभी राष्ट्रीय और राज्य के प्रमुख पदाधिकारियों के सामने बसपा सुप्रीमो ने अपने भतीजे आकाश आनंद के नाम का ऐलान किया है।

यह भी पढ़ें : ‘मैं आगे भी ऐसा करता रहूंगा’ BSP से सस्पेंड होने पर सांसद दानिश अली का रिएक्शन

जानें कौन हैं मायावती के उत्तराधारी

लंदन से एमबीए की पढ़ाई कर चुके आकाश आनंद ने साल 2017 में राजनीति में प्रवेश कर लिया था। वे पहली बार सहारनपुर में बसपा की रैली में नजर आए थे। इस दौरान उनके साथ मायावती भी मौजूद थीं। बताया जा रहा है कि उसी दिन उन्हें राजनीति में लॉन्च कर दिया गया था। वे बसपा में नेशनल कोऑर्डिनेटर की जिम्मेदारी निभा रहे हैं। हालांकि, अगर गौर करें तो जबसे आकाश आनंद राजनीति में आए तबसे बसपा का ग्राफ गिरा है। 2019 लोकसभा चुनाव और दो यूपी विधानसभा चुनाव 2017 और 2022 में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा है।

उत्तराधिकारी बनाने के पीछे की वजह

मायावती द्वारा आकाश आनंद को उत्तराधिकारी बनाए जाने के पीछे कोई बड़ी वजह है। हालांकि, बसपा ने अपनी पार्टी के बड़े और अनुभवी नेताओं को दरकिनार कर आकाश आनंद को उत्तराधिकारी घोषित कर सबको चौंका दिया है। सियासी गलियारों में चर्चा है कि मायावती अपने भतीजे को राजनीति में धुरंधर खिलाड़ी बनाना चाहते हैं, इसलिए उन्हें अभी से ही चुनावी के दांव पेंच सिखाए जा रहे हैं। लोकसभा चुनाव 2024 में पार्टी नए उत्तराधिकारी के साथ उतर सकती है।

First published on: Dec 10, 2023 12:57 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें